उदयपुर में बवाल बढ़ा: ग्रामीणों ने दो रोडवेज बसें फूंकी, एक युवक के गोली लगी, 150 उपद्रवी हिरासत में

उदयपुर में रमेश पटेल हत्याकांड के मुख्य आरोपियों को पकड़ने की मांग को लेकर जावरा माइंस थाना इलाके के पीलादर गांव में सोमवार को सुबह शुरू हुआ बवाल दोपहर बाद और बढ़ गया. आक्रोशित ग्रामीणों ने रोडवेज की दो बसों को फूंक दिया.

Kapil Shrimali | News18 Rajasthan
Updated: July 15, 2019, 6:07 PM IST
उदयपुर में बवाल बढ़ा: ग्रामीणों ने दो रोडवेज बसें फूंकी, एक युवक के गोली लगी, 150 उपद्रवी हिरासत में
ग्रामीणों द्वारा फूंकी रोडवेज। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
Kapil Shrimali | News18 Rajasthan
Updated: July 15, 2019, 6:07 PM IST
उदयपुर में रमेश पटेल हत्याकांड के मुख्य आरोपियों को पकड़ने की मांग को लेकर जावरा माइंस थाना इलाके के पीलादर गांव में सोमवार को सुबह शुरू हुआ बवाल दोपहर बाद और बढ़ गया. पुलिस और ग्रामीणों के बीच हुई झड़पों के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने रोडवेज की दो बसों को फूंक दिया.

डेढ़ सौ उपद्रवियों को हिरासत में लिया
वहीं इससे पहले ग्रामीणों को खदेड़ने करने के लिए पुलिस द्वारा किए गए हवाई फायर के दौरान एक ग्रामीण को गोली लग गई. उसे उदयपुर के भर्ती कराया गया है. पुलिस ने इस मामले में करीब डेढ़ सौ उपद्रवियों को हिरासत में ले लिया है. उपद्रवियों की तलाश में गांव में सर्च अभियान चलाया जा रहा है.

एक ग्रामीण के गोली लगी

ग्रामीणों द्वारा पीलादर सड़क पर लगाए गए जाम को खुलवाने के दौरान ग्रामीणों की ओर से किए गए पथराव और पुलिस के वाहनों में की गई आगजनी के बाद पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया था. फिर भी भीड़ काबू में नहीं आई तो पुलिस ने हवाई फायर किए. इस दौरान एक ग्रामीण के गोली लग गई. उसका नाम बाबूलाल पटेल बताया जा रहा है. उसे उदयपुर में भर्ती कराया गया है.

दो बसों को किया आग के हवाले
पुलिस द्वारा प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिए जाने के बाद उन्होंने गांव से थोड़ी दूर जाकर दो रोडवेज बसों को रोक लिया. ग्रामीणों ने बसों में से सवारियों को उतारकर दोनों बसों को आग के हवाले कर दिया. इस दौरान विरोध करने पर एक रोडवेज चालक से मारपीट भी की गई. फिर आगजनी की सूचना पर पुलिस वहां पहुंची तो प्रदर्शनकारी वहां से भाग खड़े हुए.
Loading...

गांव में चलाया जा रहा है सर्च अभियान
पुलिस ने पीछा करके कुछ प्रदर्शनकारियों को दबोच लिया. वहीं कुछ प्रदर्शनकारी गांव में घरों में जाकर घुस गए. इस पुलिस और अन्य सुरक्षा बलों ने उपद्रवियों को पकड़ने के लिए सर्च अभियान चलाया. शाम चार बजे तक पुलिस ने करीब 150 उपद्रवियों को हिरासत में ले लिया. अभी तक स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है. मौके पर भारी सुरक्षा बल तैनात है.

यह है पूरा मामला
दरअसल पीलादर निवासी युवक रमेश पटेल करीब सप्ताहभर पहले लापता हो गया था. परिजनों ने स्थानीय थाने में इसकी गुमशुदगी भी दर्ज कराई थी. इस घटना के तीन-चार दिन बाद रमेश का शव एक कुएं में पड़ा मिला था. इस पर ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया. लेकिन पुलिस ने उस समय समझाइश कर मामले को शांत करा दिया था. परिजनों और ग्रामीणों ने रमेश की हत्या का आरोप लगाते हुए कुछ लोगों पर शक जाहिर किया था. उसके बाद पुलिस ने कुछ लोगों को पकड़ भी लिया. लेकिन ग्रामीणों का कहना है कि पकड़े गए लोग मुख्य आरोपी नहीं है. मुख्य आरोपियों को पकड़ने की मांग को लेकर ही ग्रामीण सोमवार को प्रदर्शन कर रहे थे.

उदयपुर में उपद्रव: पथराव, आगजनी, लाठीचार्ज और हवाई फायर

BMW से करते थे किडनैप, टॉर्चर में कान-अंगुली तक काट देते
First published: July 15, 2019, 4:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...