खुद को आर्मी का अफसर बताकर मुफ्त में रह रहा था होटल में, हुआ गिरफ्तार
Udaipur News in Hindi

खुद को आर्मी का अफसर बताकर मुफ्त में रह रहा था होटल में, हुआ गिरफ्तार
बिलासपुर रेलवे स्टेशन पर विशाखापत्तनम कोरबा एक्सप्रेस में चढ़ रही एक महिला यात्री के गले से सोने की चैन चोरी की गई थी. सांकेतिक तस्वीर.

खुद को आर्मी का कैप्टन बताकर दो माह से एक होटल में मुफ्त में रह रहे एक युवक को गिरफ्तार किया गया है, अक्षय नाम का यह युवक मुंबई का रहने वाला है,

  • Share this:
उदयपुर में सेना का कैप्टन होने का फर्जी दावा कर दो माह से एक होटल में मुफ्त में रह रहे एक युवक को गिरफ्तार किया गया है. उसे कोर्ट में पेश कर दो दिन की पुलिस रिमांड पर लिया गया है. उस युवक से मिलिट्री इन्टेलीजेन्स के अधिकारियों ने पूछताछ की है. थानाधिकारी डी.पी.दाधीच ने बताया कि गिरफ्तार युवक का नाम अक्षय है और सुखेर स्थित होटल देव्यांश में रह रहा था. उस होटल का कर्मचारी राजसमंद निवासी गजेन्द्र सिंह ने रिपोर्ट दी थी कि गत दो माह से एक युवक खुद को आर्मी का अधिकारी बताकर होटल में ठहरा हुआ है और किराया नहीं चुका रहा है. वह खुद को एकलिंगगढ़ छावनी में तैनात बताता है. उसने उसके भाई मनोहर सिंह से आर्मी मे भर्ती के नाम से 4 हजार रुपए लिए हैं. वह दो दिन पहले देव्यांश होटल के बाहर ही गिर गया जिससे उसका पैर टूट गया. उसे फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया.

सांकेतिक तस्वीर


अक्षय मुंबई के भायंदर ठाणे का रहने वाला है. उसके पिता का नाम संजय दुबे है. आर्मी का फर्जी कैप्टन बनकर धोखाधड़ी करने के आरोपी अक्षय को सुखेर थाना पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कियाथा. फोर्टिज अस्पताल में भर्ती के दौरान होटल संचालक की रिपोर्ट पर हुई पूछताछ के बाद उसकी पोल खुल गई. पुलिस ने मामला दर्ज कर अस्पताल जाकर अक्षय से पूछताछ की तो वह हड़बड़ा गया. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने एकलिंगगढ़ छावनी से मिलिट्री इंटेलीजेन्स के अधिकारियों को सूचित किया जो अभी पूछताछ में जुटे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज