ताउते तूफान: पानी के तेज बहाव में बहा घोड़ा, बचाने में 2 घंटे लगे, देखें VIDEO

2 घंटे तक की कड़ी मशक्कत के बाद घोड़े को बाहर निकाला जा सका.

2 घंटे तक की कड़ी मशक्कत के बाद घोड़े को बाहर निकाला जा सका.

Effect of Tauktae cyclone: ताउते तूफान के कारण भारी बारिश के बीच झीलों की नगरी उदयपुर में एक घोड़ा मुसीबत में फंस गया. नाले के किनारे बंधा यह घोड़ा (Horse) पानी के तेज बहाव में बह गया. बाद में रेस्क्यू टीम ने कड़ी मेहनत करके इसे सुरक्षित बाहर निकाला.

  • Share this:

उदयपुर. चक्रवाती तूफान ताउते (Tauktae cyclone) के कारण उदयपुर और आसपास के इलाकों में हुई मूसलाधार बारिश से शहर की झीलों में पानी की आवक अचानक बढ़ गई . झीलों का जलस्तर अचानक बढ़ने से प्रशासन ने स्वरूप सागर के गेट खोल कर पानी छोड़ दिया.यह पानी शहर में पंचवटी के पास नाले में बंधे एक घोड़े (Horse) के लिए मुसीबत बन गया.

घटना बुधवार की है. स्वरूप सागर से छोड़े गए पानी का स्तर बढ़ने के साथ पंचवटी में नाले के पास बंधा घोड़ा पानी में बहने लगा. घोड़े को बहते देखकर लोग जमा हो गए . लोगों ने इसकी खबर नागरिक सुरक्षा विभाग के वोलेंटियर को दी. इस पर मौके पर पहुंची टीम ने घोड़े को निकालने के लिए रेस्क्यू शुरू किया. रेस्क्यू टीम को काफी मशक्कत करनी पडी. इस दौरान नागरिक सुरक्षा विभाग का एक वोलेंटियर भी पानी में बहने से बाल-बाल बचा.

Youtube Video

घोड़ा पुल के नीचे वाले नाले में घुस गया
घोड़े का रेस्क्यू कर रहे नागरिक सुरक्षा विभाग के वोलेंटियर राहुल यादव घोड़े के साथ पंचवटी स्थित गुमानियावाला नाले से होते हुए आलू फैक्ट्री के पुल तक गए ताकि घोड़े को आसानी से बाहर निकाला जा सके. इसी दौरान अचानक से नाले में पानी का स्तर और ज्यादा बढ़ गया. पुल के पास आते ही घोड़ा पुल के नीचे वाले नाले के अंदर घुस गया. इस दौरान रेस्क्यू टीम के सदस्य राहुल भी घोड़े के साथ पानी में खिंच गए और 30 फुट तक पानी के अंदर बहते चले गए. राहुल ने एक पेड़ को पकड़ कर अपने आप को संभाला. नागरिक सुरक्षा विभाग के वोलियेंटर लगभग 2 घंटे तक घोड़े को नदी से बाहर निकलने में लगे रहे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज