सांसद अर्जुनलाल मीणा ने लोकसभा में उठाया उदयपुर-अहमदाबाद रेलवे आमान परिवर्तन का मुद्दा

सांसद अर्जुनलाल मीणा ने महत्वपूर्ण रेलवे आमान परिवर्तन की योजना का मुद्दा लोकसभा में उठाया. (प्रतीकात्मक तस्वीर/Getty Images)

सांसद अर्जुनलाल मीणा ने महत्वपूर्ण रेलवे आमान परिवर्तन की योजना का मुद्दा लोकसभा में उठाया. (प्रतीकात्मक तस्वीर/Getty Images)

उदयपुर (Udaipur) से सांसद अर्जुनलाल मीणा (MP Arjun Lal Meena) ने महत्वपूर्ण रेलवे आमान परिवर्तन (Udaipur-Ahmedabad broad-gauge conversion) की योजना का मुद्दा लोकसभा में उठाया.

  • Share this:
उदयपुर. राजस्थान के उदयपुर (Udaipur) से सांसद अर्जुनलाल मीणा (MP Arjun Lal Meena) ने बुधवार को लोकसभा में राजस्थान को उदयपुर से गुजरात के मार्फत दक्षिणी भारत को जोड़ने वाली महत्वपूर्ण रेलवे आमान परिवर्तन (Udaipur-Ahmedabad broad-gauge conversion) की योजना का मुद्दा उठाया. सांसद मीणा ने शून्य काल में बोलते हुए इस परियोजना को राजस्थान के लिए बेहद महत्वपूर्ण बताया और इसके कार्य प्रगति की भी विस्तार से रिपोर्ट पेश की. सांसद मीणा ने रेल मंत्री और केन्द्र सरकार से और अधिक बजट पास कराने की मांग रखी, जिससे इस योजना के कार्य को ओर अधिक गति दी जा सके.



लोकसभा में  शून्य काल में सांसद अर्जुनलाल मीणा को जब बोलने का अवसर मिला तो उन्होंने लंबे समय से पूरा होने का इंतेजार कर रहे उदयपुर-अहमदाबाद रेलवे आमान परिवर्तन के मुद्दे को एक बार फिर संसद में उठाया. सांसद मीणा ने पुरजोर तरीके से इस प्रोजेक्ट को जल्द पूरा कराने और इसके लिए बजट स्वीकृत कराने के लिए भी मांग की.



यूपीए सरकार पर साधा निशाना

उदयपुर-अहमदाबाद आमान परिवर्तन के मुद्दे पर सांसद मीणा पूर्व की यूपीए सरकार पर भी निशाना साधा. उन्होंने यूपीए और एनडीए की सरकार में हुए कार्यों की अलग-अलग जानकारी देते हुए कहा कि वर्ष 2009 में इस प्रोजेक्ट की शुरुआत यूपीए के कार्यकाल में हुई लेकिन यूपीए के कार्यकाल के पांच वर्षों में इस प्रोजेक्ट के लिए महज 109 करोड़ रुपए खर्च किए गए. सांसद ने बताया कि एनडीए की सरकार केन्द्र में आने के साथ ही इस प्राजेक्ट को गंभीरता से लिया गया और महज पांच वर्षों में आमान परिवर्तन के लिए 850 करोड रुपए खर्च किए.
3 सुरंगों का काम जारी, 40% काम पूरा



सांसद अर्जुनलाल मीणा ने इस प्रोजेक्ट की प्रगति पर भी विस्तृत रिपोर्ट पेश करते हुए बताया की इस आमान परिवर्तन में 210 किमी रेलवे लाइन का आमान परिवर्तन होना हैं. इसमें उदयपुर से खारवा तक कार्य पूरा हो चुका हैं और इस पर ट्रायल भी की जा चुकी है. सांसद ने बताया कि डूंगरपुर तक 110 किमी रेलवे लाइन बननी हैं जिसमें कुल तीन सुरंग का कार्य चल रहा है. और सुरंग का कार्य अभी करीब चालीस फीसदी तक पूरा हुआ है.



उदयपुर से डूंगरपुर होते हुए निकलने वाली इस रेलवे लाईन में पहाड़ी इलाका आने से कार्य की गति तेज नहीं हो पा रही है. ऐसे में यहां तीन सुरंग बनाने का निर्णय लिया गया. इनकी लंबाई 840 मीटर, 120 मीटर, 100 मीटर हैं और इसका कार्य प्रगति पर है. संसद में बोलते हुए सांसद मीणा ने रेलमंत्री और केन्द्र सरकार से पर्याप्त बजट की मांग की है.



ये भी पढ़ें-



कार खरीदने की खुशी में श्मशान पहुंचा पूरा परिवार, ढोल बाजे पर किया डांस



थाने भागा 9 साल की बच्ची से रेप का आरोपी अकरम काजी फिर अरेस्ट, 2 सस्पेंड



 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज