उदयपुर: साली की हत्या कर फरार हुए आरोपी जीजा को पुलिस ने जंगलों से दबोचा

पुलिस ने देवा मीणा की तलाश के लिए 5 टीमों का गठन किया था.

पुलिस ने देवा मीणा की तलाश के लिए 5 टीमों का गठन किया था.

उदयपुर (Udaipur) जिले के जावर माइंस (Javar mines) थाना इलाके में अपनी शिक्षिका साली (Sister-In-Law) की दिनदहाड़े हत्या (Murder) कर फरार हुए आरोपी जीजा देवा मीणा को पुलिस ने धरदबोचा (Arrested) है. पुलिस से बचकर भाग रहे देवा मीणा पर हाल ही में पुलिस अधीक्षक ने 5 हजार रुपए का इनाम (Reward) घोषित किया था.

  • Share this:
उदयपुर. जिले के जावर माइंस (Javar mines) थाना इलाके में अपनी शिक्षिका साली (Sister-In-Law) की दिनदहाड़े हत्या (Murder) कर फरार हुए आरोपी जीजा देवा मीणा को पुलिस ने धरदबोचा (Arrested) है. पुलिस से बचकर भाग रहे देवा मीणा पर हाल ही में पुलिस अधीक्षक ने 5 हजार रुपए का इनाम (Reward) घोषित किया था. पुलिस आरोपी से पूछताछ में जुटी है. वह बेहद शातिर (Vicious) है. पुलिस को गच्चा देने के लिए वह सोशल मीडिया (Social media) का सहारा ले रहा था.

साली से रंजिश रखता था देवा

पुलिस के अनुसार देवा मीणा को गुजरात सीमा पर पहाड़ा थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है. उसे अब जावर माइंस लाया गया है. देवा मीणा ने रंजिशवश अपनी साली नीतू मीणा की हत्या की थी. देवा मीणा को भ्रम था कि उसकी पत्नी अनामिका मीणा को उसकी सास लक्ष्मी देवी और साली नीतू मीणा भड़का रही है. देवा को लगता था कि लक्ष्मी देवी और नीतू अनामिका को उसके पास नहीं रहने देना चाहती हैं. इसी के चलते उसने नीतू की हत्या करने का प्लान बनाया. घटना वाले दिन 1 फरवरी को भी आरोपी ने स्कूल के बाहर नीतू से अपनी पत्नी को भेजने की बात पर बहस की थी. लेकिन झगड़ा इतना बढ़ गया कि उसने तलवार से सरेराह नीतू पर हमला कर उसे वहीं काट डाला. हमले में नीतू की मौके पर ही मौत हो गई. उसके बाद देवा मीणा वहां से फरार हो गया था.

पुलिस ने 5 टीमों का गठन किया था
पुलिस ने देवा मीणा की तलाश के लिए 5 टीमों का गठन किया था. आरोपी पूर्व में महाराष्ट्र और गुजरात में काम करता था. लिहाजा पुलिस की 2 टीमें उसकी तलाश में वहां भी भेजी गई, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लग पाया. आरोपी देवा मीणा मार्केटिंग का काम करता था. उसने पुलिस को गुमराह करने के लिये सोशल मीडिया का उपयोग किया.

परिचित महिला को भेजी आत्महत्या करने की चिट्ठी

वह सोशल मीडिया पर हत्या से जुडी खबरों पर अपडेट लेकर लगातार अपनी जगह बदलता रहा. वहीं फेसबुक अकाउंट पर अपना प्रोफाइल फोटो अपलोड करके भी पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया. आरोपी ने पुलिस का ध्यान भटकाने के लिये अपनी एक परिचित महिला के पास स्वयं द्वारा आत्महत्या करने की चिट्ठी भी भेजी ताकि पुलिस उसे मृतक मानकर उसकी तलाश बंद कर दे.



स्कूल से आ रही शिक्षिका को बदमाशों ने बीच सड़क पर तलवार से काट डाला, मौत

विधानसभाध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने कहा- CAA को राज्य सरकारों को लागू करना पड़ेगा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज