उदयपुर पुलिस ने सूरत के साड़ी कारखानों से 100 से ज्यादा बाल श्रमिकों को कराया मुक्त

सूरत में कराई जा रही थी बच्चों से मजदूरी

सूरत के साड़ी कारखानों में काम करने वाले 100 से ज्यादा बाल श्रमिकों को उदयपुर की पुलिस ने मुक्त कराया है.

  • Share this:
    उदयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में उदयपुर (Udaipur) जिले के आदिवासी अंचल में लगातार बढ़ रहे बाल श्रम (Child labour) को लेकर जिला प्रशासन और पुलिस ने रविवार को गुजरात के सूरत में बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया. बता दें कि सूरत के साड़ी कारखानों में काम करने वाले 100 से ज्यादा बाल श्रमिकों को पुलिस ने मुक्त कराया है.

    पूरा मामला

    बता दें कि आदिवासी बाहुल्य उदयपुर जिले से बच्चों को बाल मजदूरी के लिए गुजरात ले जाया जाता है. ऐसे में उदयपुर कलेक्टर और एसपी के निर्देश पर रविवार को टीम ने सूरत के साड़ी कारखानों पर दबिश दी. इस दौरान साड़ी कारखानों में काम करने वाले करीब 100 से भी ज्यादा बाल श्रमिकों को मुक्त कराया गया.

    इस कार्रवाई में गुजरात पुलिस का भी सहयोग लिया गया. कार्रवाई के दौरान राजस्थान बाल संरक्षण आयोग, आसरा संस्थान, उदयपुर जिला प्रशासन और पुलिस के अधिकारियों की एक बड़ी टीम सूरत पहुंची. सूरत के विभिन्न इलाकों में चल रहे साड़ी कारखानों पर गुजरात पुलिस के सहयोग से दबिश दी गई, जिसमें उदयपुर जिले के बाल श्रमिकों को मुक्त कराया गया. अधिकतर कारखानों में काम करने वाले बाल श्रमिक उदयपुर जिले के रहने वाले हैं. ऐसे में सभी को मुक्त कराकर एक बड़ी कार्रवाई को उदयपुर पुलिस ने अंजाम दिया है.

    इस समय मौके पर प्रशासनिक टीम अग्रिम कार्रवाई में जुटी है. अचानक हुई इस बड़ी कार्रवाई से सूरत के कई इलाकों में अफरा-तफरी का माहौल हो गया है.

    (उदयपुर से कपिल की रिपोर्ट)

    ये भी पढ़ें:- 48 घंटे में 10 बच्चों की मौत के बाद गहलोत सरकार ने अस्पताल अधीक्षक को हटाया

    ये भी पढ़ें:- जयपुर: केंद्र के खिलाफ कांग्रेस का हल्ला बोल, पैदल फ्लैग मार्च कर जताया विरोध

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.