लाइव टीवी

उदयपुर वर्ल्ड म्यूजिक फेस्टिवल-2020: राजस्थान के मामे खां की प्रस्तुतियों पर जमकर झूमे दर्शक
Udaipur News in Hindi

Kapil Shrimali | News18 Rajasthan
Updated: February 9, 2020, 9:50 AM IST
उदयपुर वर्ल्ड म्यूजिक फेस्टिवल-2020: राजस्थान के मामे खां की प्रस्तुतियों पर जमकर झूमे दर्शक
गांधी मैदान में मामे खां ने बेहतरीन राजस्थानी लोक संगीत से लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया.

भारत के सबसे बड़े संगीत के महाकुंभ 'उदयपुर वर्ल्ड म्यूजिक फेस्टिवल-2020' (Udaipur World Music Festival -2020) के दूसरे दिन शनिवार को अम्बराई घाट, फतेह सागर की पाल और शाम को गांधी ग्राउंड में संगीत की स्वर लहरियां (Vocal waves) बही.

  • Share this:
उदयपुर. भारत के सबसे बड़े संगीत के महाकुंभ 'उदयपुर वर्ल्ड म्यूजिक फेस्टिवल-2020' (Udaipur World Music Festival -2020) के दूसरे दिन शनिवार को अम्बराई घाट, फतेह सागर की पाल और शाम को गांधी ग्राउंड में संगीत की स्वर लहरियां (Vocal waves) बही. 3 दिवसीय वर्ल्ड म्यूजिक फेस्टिवल में राजस्थानी लोक कलाकार मामे खां (Rajasthani folk artist Mame Khan) को सुनने के लिए बड़ी तादाद में शहरवासी और पर्यटक पहुंचे. गांधी ग्राउंड पर पहली प्रस्तुति ही मामे ख़ां की रखी गई. उन्होंने 'केसरिया बालम'  गाकर ना सिर्फ दर्शकों और विदेशों से आए संगीतज्ञों का स्वागत किया, बल्कि अपने मधुर संगीत पर सभी को झूमने पर मजबूर कर दिया. एक के बाद एक राजस्थानी लोक कला का प्रदर्शन मंच से किया गया तो दर्शकों भी मामे खां की हौसला अफजाई में पीछे नहीं रहे. उनके गानों पर दर्शक जमकर नाचते नजर आए.

अलग-अलग संगीत के बही रसधारा
उदयपुर वर्ल्ड म्यूजिक फेस्टिवल के दूसरे दिन की शुरुआत अंबराई घाट से हुई. वहां मशहूर कार्नैटिक म्यूजिक सिंगर सुधा रघुरमन ने भक्तिमय संगीत गायन किया. उन्होंने आदि गुरु शंकराचार्य द्वारा राग जोग, तोड़ी, दुर्गा और सिंधु भैरवी में ‘गुरु अष्टकम’ प्रस्तुत किया. यह गुरु वंदना सिंगर द्वारा खुद की लिखी हुई रचना है. इसके बाद किया तबस्सैन एवं छबरेल रूहाना ड्युएट ने ईरान और लेबनान के संगीत को एक साथ प्रस्तुत किया. उन्होंने ‘औद’ अरैबिक वाद्ययंत्र और सितार को बजाया जोकि पर्सियन संगीत का एक वाद्य है. साथ ही सूफी कवि आमिर खुसरू तथा 13वीं सदी के पर्सियन कवि मौलाना रूमी की कविताओं का पाठ किया. अरेबिक माकम और पर्सियन दस्तुगाह के बीच उनकी संगीत वार्ता को लोगों ने खूब पसंद किया.

‘दम मस्त कलंदर’ ने जमकर लूटी वाहवाही

फतहसागर पर दोपहर के सत्र की शुरुआत ‘आउट ऑफ द बॉक्सच: जेल यूनिवर्सिटी’ द्वारा गाये गये सूफी गानों से हुई. बैंड की शुरुआत ‘वैश्विक प्रार्थना’ ‘असमासदगमया’ के साथ हुई और इसने वसुधैव कुटुंबकम का गान किया. उन्होंने 56 साल पुराने राजस्थानी गाने और ‘दिल राजी मेरो यार ओ फकीरी में’ और ‘दम मस्त कलंदर’ की प्रस्तुति से श्रोताओं की जमकर वाहवाही लूटी. दोपहर के सत्र की अंतिम प्रस्तुति बॉलीवुड के मशहूर सिंगर अंकुर तिवारी की रही. उन्होंने अपने लोकप्रिय सबसे पीछे हम खड़े कंपोजिशन के साथ फोक रॉक और रॉक एन रोल म्यूजिक पेश किया.

राजस्थानी लोक संगीत ने किया दर्शकों को मंत्रमुग्ध
शाम को गांधी मैदान में मामे खां ने बेहतरीन राजस्थानी लोक संगीत से लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया. माली के हबीब कोइटे ने वेस्ट अफ्रीकी फोक ब्लूज को प्रस्तुत किया और भारतीय बैंड थाइक्कुडिम ब्रिज ने भारतीय पॉप एवं रॉक म्यूजिक की प्रस्तुति दी. उन्होंने अपने डेब्यून एलबम ‘नवरसम’ और अपने नए एलबम ‘नमह’ के गीत गाये. 

 

केरल, अबू धाबी, दिल्ली, मध्यप्रदेश, गुजरात और मुंबई से खासतौर से दर्शक आए हैं
वर्ल्ड म्यूजिक फेस्टिवल के 5वें संस्करण की थीम ‘हम विश्व हैं : अनेकता में एकता’ है. फेस्टिवल में स्पेन, फ्रांस, कुर्दिस्तान, पुर्तगाल, माली, रूस, स्विट्जरलैंड आदि देशों के 150 वैश्विक कलाकार शिरकत कर रहे हैं. फेस्टिवल का आनंद उठाने के लिए केरल, अबू धाबी, दिल्ली, मध्यप्रदेश, गुजरात और मुंबई से खासतौर से दर्शक आए हैं.

आज यह रहेगी प्रस्तुतियां 
महोत्सव के तीसरे दिन रविवार को प्रात: 8 से 10 बजे तक अमराई घाट पर पहली प्रस्तुति भारत के रवि जोशी चल रही है. दूसरी प्रस्तुति में कुर्दिस्तान के माइको केन्डेस कुर्दिस्तानी संगीत प्रस्तुत करेंगे. फतहसागर पर दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक में पहली प्रस्तुति पोप फ्यूजन पर भारत की पाक्षी की होगी. दूसरी प्रस्तुति रशिया के शात्तुमा की करेलियन लोक संगीत पर तथा भारत के ताबा चाके की मिश्रित पॉप पर होगी. शाम को गांधी ग्राउंड में 7 बजे से भारत के अद्वैता द्वारा इंडियन फ्यूजन पर भारत की निकिता गांधी द्वारा बॉलीवुड तथा स्पेन के ओक्स ग्रासेस की स्पेनीश पॉप पर प्रस्तुति के साथ उदयपुर वर्ल्ड म्यूजिक फेस्टिवल का समापन होगा.

 

 

विधानसभाध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने कहा- CAA को राज्य सरकारों को लागू करना पड़ेगा

बजट पूर्व बैठक: सीएम गहलोत ने लिया फीडबैक, विभिन्न संगठनों ने ये दिए अहम सुझाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उदयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 9, 2020, 9:47 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर