• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • उदयपुर एयरपोर्ट पर बढ़ी सतर्कता, Exit से पहले अब हर यात्री को भरने होंगे 4 फॉर्म

उदयपुर एयरपोर्ट पर बढ़ी सतर्कता, Exit से पहले अब हर यात्री को भरने होंगे 4 फॉर्म

नियम का पालन नहीं करने वाले अधिकारियों पर भी कार्रवाई हो सकती है. (Demo)

उदयपुर एयरपोर्ट (Udaipur Airport) पर नियुक्त कर्मचारी स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ समन्वय कर हर आने वाले हवाई यात्री से फार्म 4 भरवाएंगे. फिर भरे हुए फार्म आईटी उपनिदेशक को मोबाइल नंबर पर और आईटी विभाग की ईमेल आईडी पर भेजेंगे.

  • Share this:
उदयपुर. कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के संबंध में राज्य सरकार के निर्देशानुसार देश के विभिन्न एयरपोर से घरेलू उड़ानों (Domestic Flights) के माध्यम से आने वाले यात्रियों के आगमन पर कोविड़-19 के संबंध में समय-समय पर जारी निर्देशों का पालना सुनिश्चित करने की कवायद तेज हो गई है. इसी कड़ी में सरकार ने प्रभारी अधिकारी के साथ विशेष सतर्कता दल का गठन किया गया है. इस संबंध में अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट संजय कुमार के आदेशानुसार उदयपुर एयरपोर्ट (Udaipur Airport) के लिए पर्यटन उपनिदेशक शिखा सक्सेना को प्रभारी अधिकारी नियुक्त कर उनके सहयोग और निर्देशन में अलग-अलग दलों का गठन किया गया है. इस टीम में दो पारी में 17-17 अधिकारी-कार्मिक सेवाएं देंगे तथा 4 को आरक्षित दल में रखा गया है. एक पारी सुबह 5 बजे से दोपहर 1 बजे तक तथा दूसरी पारी दोपहर 1 बजे से रात्रि 9 बजे तक जारी रहेगी. निर्देश दिए गए हैं कि कार्यरत कार्मिक तब तक एयरपोर्ट नहीं छोड़ेंगें जब तक कि अगला दल उपस्थित नहीं हो.

एडीएम ने यह भी स्पष्ट किया है कि ऐसा कोई अधिकारी अथवा कार्मिक उसके दिए गए दायित्व का निर्वहन करने से इंकार करता है तो इस आचरण के लिए 1 वर्ष का कारावास एवं जुर्माने से दडित किया जा सकता है. अगर इस इंकार के फलस्वरूप किसी की जान जाती है अथवा जान जोखिम में पड़ जाती है तो ऐसे अधिकारी अथवा कार्मिक को दो वर्ष के साधारण कारावास एवं जुर्माने से दण्डित किया जा सकता है. इसके अतिरिक्त उनके खिलाफ विभागीय अनुशासनात्मक कार्रवाई भी अलग से ही की जाएगी.

ये भी पढ़ें: दिल्ली हिंसा: हाईकोर्ट में दायर हुई स्टेटस रिपोर्ट, तिहाड़ जेल अथॉरिटी ने दी बड़ी जानकारी

यात्रियों पर रहेगी सख्त नजर

एयरपोर्ट पर नियुक्त कर्मचारी स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ समन्वय कर हर आने वाले हवाई यात्री से फार्म 4 भरवाएंगे. फिर भरे हुए फार्म आईटी उपनिदेशक को मोबाइल नंबर पर तथा आईटी विभाग की ईमेल आईडी पर भेजेंगे. इस आदेश या जारी किसी आदेश की अवहेलना किए जाने पर आपदा प्रंबधन अधिनियम 2005 की धारा 51 व 57 तथा भारतीय दण्ड संहिता 1973 की धारा 188 के तहत अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा सकती है. विदेश से आने वाले यात्रियों को स्वस्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के दिशा-निर्दशानुसार के मुताबिक 7 दिन तक संस्थागत क्वारंटाइन और अगले 7 दिवस होम क्वारंटाइन करवाया जाएगा.

 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज