होम /न्यूज /राजस्थान /Udaipur : डिमांड बढ़ी तो आ गए तिल, गुड़ व मूंगफली के आइटम, ये हैं प्रमुख बाजार व कीमतें

Udaipur : डिमांड बढ़ी तो आ गए तिल, गुड़ व मूंगफली के आइटम, ये हैं प्रमुख बाजार व कीमतें

गुड़, मूंगफली, तिल जैसी चीजों को खासतौर पर यदि सर्दी के मौसम में पर्याप्त खाया जाए तो साल भर इससे शारीरिक ऊर्जा मिल सकत ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट – निशा राठौड़

    उदयपुर. सर्दियों का आगाज़ होने के साथ ही बाज़ारों में गुड़ की बनी पौष्टिक मिठाइयों और चपड़ों की डिमांड भी बढ़ने लगी है. बाजार में इस बार तिल और मूंगफली से बने कई प्रकार के आइटम उपलब्ध हैं. तिल गजक के व्यवसाई गणेश साहू ने बताया कि बाजार में इस बार खास तौर पर तिल्ली और मूंगफली की बनी गजक की डिमांड है. सर्दी की शुरुआत के साथ ही ग्राहकों की आवक भी बढ़ी है. इस बार मूंगफली के साथ पिस्ता, बादाम को मिलाकर भी चपड़ा तैयार किया जा रहा है. सर्दी के तीन महीनों में इन गुड़ के बने व्यजनों की खासी डिमांड रहती है.

    मूंगफली को गरीबों का मेवा भी कहा जाता है क्योंकि मूंगफली में कई ऐसे गुण होते हैं, जो शरीर के लिए फायदेमंद हैं. साथ ही गुड़ शरीर में ऊर्जा का संचार करता है. जो सर्दी में खासतौर पर खाया जाता है. मूंगफली में प्रोटीन की भरपूर मात्रा होती है. जो शरीर के लिए कई तरीके से फायदेमंद रहती है.

    क्या है कीमत और कहां से खरीदें ये आइटम?

    अगर आप उदयपुर में हैं तो यहां बने खास गुड़ से बने व्यंजनों के लिए आपको तीज का चौक स्थित चपड़े वाली गली में जाना चाहिए. यहां आप को मूंगफली, तिल, पिस्ता और बादाम की गुड़ की बर्फी और कई तरीकों की वैरायटी मिल जाएगी. साथ ही उदयपुर के मुख्य बापू बाजार में भी सोहन साहू के ठेले पर कई तरह की वैरायटी उपलब्ध है. हालांकि अभी इन आइटमों के लिए ऑनलाइन डिलीवरी जैसी सुविधा नहीं है.

    व्यवसाई गणेश साहू ने बताया तिल के आधा किलो चपड़े के पैकेट की कीमत 150 रुपये है. वहीं मूंगफली पैकेट की 200 रुपये है. पिस्ता, बादाम के साथ मिक्स चपड़ा आपको 300 रुपये में अच्छी मात्रा में मिल सकता है. गुड़ से बने चपड़ा खरीदने आए राहुल गहलोत ने बताया कि सर्दी में गुड़ और मूंगफली की बनी चीजें खाना ही मध्यम वर्गीय परिवारों की खुराक माना गया है. हर साल वे भी अपने परिवार के लिए गुड़ से बने इन व्यजनों की खरीदारी करते हैं.

    Tags: Street Food, Udaipur news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें