झालावाड़ में महिला ने तीन बच्चों के साथ जहरीले पदार्थ का किया सेवन, मां-बेटे की मौत

बच्चियों की हालत गंभीर बताई जा रही है और उनका उपचार चल रहा है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
बच्चियों की हालत गंभीर बताई जा रही है और उनका उपचार चल रहा है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

झालावाड(Jhalawar) में एक विधवा महिला ने अपने तीन बच्चों को जहरीला पदार्थ (Alcoholic Substance) पिलाकर खुद भी उसका सेवन कर लिया. इस घटना में तीन महीने के बच्चे और महिला की मौत (Death) हो गई, जबकि दो बच्चों का अस्पलात (Hospital) में इलाज चल रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2020, 11:07 AM IST
  • Share this:
झालावाड़. झालावाड़ (Jhalawar) जिले में एक दिलहला देने वाला मामला सामने आया है. जानकारी मिल रही है कि नौ महीने तक बच्चे को अपनी कोख पर पालने वाली मां (Mother) ने तीन बच्चों को जहरीला पदार्थ पिला दिया और उसके बाद खुद में पी लिया. इस घटना में महिला और एक बच्चे की मौत (Death) हो गई है. वहीं दो बच्चों की हालत गंभीर बनी हुई है.

मामला उन्हेल थाना क्षेत्र के हजरिया कंजर डेरे का है. यहां पर एक विधवा महिला ने अपने तीन बच्चों के साथ विषाक्त पदार्काथ का सेवन कर लिया, जिसमें महिला और उसके 3 माह के बच्चे की मौत हो गई तो वहीं दो बच्चियों की हालत गंभीर बनी हुई है. दोनों बच्चों का चौमेहला के सरकारी अस्पताल में इलाज चल रहा है.

CM गहलोत ने ली चुटकी, कहा- केन्द्रीय मंत्री मेघवाल भाभीजी पापड़ बांटते-बांटते कोराना पॉजिटिव हो गए



जानकारी के अनुसार मृतका सुमित्रा बाई के पति की कुछ समय पहले ही मौत हो गई थी, उसके बाद वह अपने तीन बच्चों के साथ झोपड़ी में अकेले रहती थी, आज अचानक से अज्ञात कारणों के चलते महिला ने अपने तीन बच्चों को जहर देकर खुद भी जहर पी लिया, जिससे उसकी और 3 माह के बच्चे की मौत हो गई. मामले की जानकारी मिलने पर आसपास के ग्रामीण महिला और उसके बच्चों को चौमहला के सरकारी अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने जांच के बाद महिला और उसके तीन माह के बच्चे को मृत घोषित कर दिया.


वहीं दो बच्चियों का गंभीर हालत में उपचार जारी है, जिन्हें झालावाड जिला अस्पताल रेफर किया गया है. फिलहाल घटना के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है. पुलिस के अनुसार प्रारंभिक तौर पर आर्थिक तंगी और अन्य परेशानियों के चलते महिला के द्वारा यह आत्मघाती कदम उठाए जाने की संभावना जताई जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज