लाइव टीवी

चर्चा: मसरत की गिरफ्तारी से बौखलाया सईद?


Updated: April 20, 2015, 3:36 PM IST

भारत के सबसे बड़े दुश्मन हाफिज सईद ने एक बार फिर धमकी दी है। पेशावर में एक रैली के दौरान जमात उद दावा के चीफ सईद ने कहा कि भारत पाकिस्तान का दुश्मन नंबर एक है।

  • Last Updated: April 20, 2015, 3:36 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली। भारत के सबसे बड़े दुश्मन हाफिज सईद ने एक बार फिर धमकी दी है। पेशावर में एक रैली के दौरान जमात उद दावा के चीफ सईद ने कहा कि भारत पाकिस्तान का दुश्मन नंबर एक है। हाफिज सईद की ये धमकी उसके सनसनीखेज इंटरव्यू के दो दिन बाद आई है। घाटी में अलगाववादी नेता मसरत आलम की गिरफ्तारी के बाद ये दूसरा मौका है जब हाफिज सईद ने जहर उगला है ऐसे में सवाल ये कि क्या मसरत की गिरफ्तारी से हाफिज सईद के किसी प्लान या साजिश को धक्का पहुंचा है या फिर वो महज गीदड़ भभकी दे रहा है?

देश का सबसे बड़ा गुनहगार, मुंबई पर 26/11 हमले का मास्टरमाइंड, उसके सिर पर है 60 करोड़ रुपये का इनाम, आतंक के उस आका का नाम है हाफिज सईद, जमात-उद-दावा के चीफ हाफिज सईद ने एक बार फिर भारत के खिलाफ जहर उगला है। एक बार फिर इसने भारत के खिलाफ अपनी नापाक साजिश का खुलासा किया। पाकिस्तान के पेशावर में हुई रैली में सईद ने गीदड़भभकी दी है कि भारत हमारा दुश्मन नंबर एक है। हम भारत को तोड़ देंगे। हमारा अगला टारगेट भारत ही है। हम भारत के खिलाफ जेहाद करेंगे।

इस बारे में पूछे जाने पर केंद्र सरकार ने कहा कि हाफिज की इन गीदड़भभकियों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है।
केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान हमेशा ही फिसिंग इन ट्रबल वॉटर की कोशिश करता रहता है। लेकिन नई सरकार के समय में भारत पहले से ज्यादा मजबूत है।



वहीं रक्षा राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने कहा है कि धमकी से चलता है। हर चीज को घबरा कर रिएक्शन करना ठीक नहीं है। सरकार सोच-समझ कर जवाब देती है। मैंने स्टेटमेंट सुना भी नहीं है देखा भी नहीं है। रिपोर्ट लेकर मैं बात करता हूं।

ये पहला मौका नहीं है जब सईद ने भारत के खिलाफ लड़ाई की धमकी दी है। दो दिन पहले भी एक पाकिस्तानी न्यूज चैनल के साथ बातचीत में हाफिज ने कबूल किया था कि पाकिस्तान सरकार कश्मीर में अलगाववादियों की मदद करती रही है। पाकिस्तान की फौज कश्मीर में जेहादियों की मदद करती रही है। मोस्ट वांटेड आतंकी के इस कबूलनामे ने पाक सरकार के चेहरे से नकाब हटा दिया है। जो हमेशा से ये दावा करती आई है कि भारत में पनप रहे आतंकवाद से उसका कोई लेना-देना नहीं है।

हाफिज सईद ने अपने इंटरव्यू के दौरान जेहाद के सवाल पर कहा है कि जेहाद कौन करता है। पहली सबसे बड़ी बात तो ये है बात बहुत समझने की है कि जनाब इस्लामी हुकूमत का फर्ज है और जब मुल्क में एक निजाम होता है जिस तरह पाकिस्तान में बाकायदा एक निजाम है, एक फौज है, एक तरीकेकार है और पाकिस्तान ने हमेशा ये स्टैंड लिया है कि कश्मीरियों का हक है कि उनको आजादी मिले, तो हम ये कहते हैं कि हमारी फौज कश्मीरियों के हक में जो भी रास्ता अख्तियार करके आगे बढ़ेगी वो जेहाद है और हम पाकिस्तान के साथ, पाकिस्तान की फौज के साथ, पाकिस्तान के निजाम के साथ कश्मीरियों की मदद करते हैं।

हाफिज के इस कबूलनामे से साफ है कि कश्मीर में खून की होली खेलने वाले आतंकियों को पाकिस्तान फौज की शह मिली हुई है। पाक फौज घाटी में आतंकियों की घुसपैठ कराती है। कश्मीर में आतंकी हमले करवाती है। हाफिज सईद ने कहा है कि न हम नॉन स्टेट एक्टर हैं न हम इसको सही समझते हैं। हम पाकिस्तान के साथ खड़े हैं और जो मकसद पाकिस्तान का कश्मीर के लिए है, हमारा भी वही मकसद है। फौज की वर्दी की मुझे जरूरत क्या है? मसरत आलम उधर खड़ा होता है मैं इधर खड़ा होता हूं। न मसरत आलम के पास वर्दी है न मेरे पास कोई वर्दी है, तो हम तो उनकी आवाज बुलंद करते हैं। कश्मीर इंडिया तो इतना (गाली) है कि वो इतनी बात बर्दाश्त नहीं कर सका।

भारत सरकार ने हाफिज सईद की आतंकी गतिविधियों के खिलाफ पाकिस्तान को तमाम सबूत दिए, लेकिन पाक सरकार ने उन सबूतों को नाकाफी बताया। अब तो खुद हाफिज सईद ने ही अपने और पाकिस्तान सरकार के नापाक गठजोड़ का सबूत दे दिया है, लेकिन पाक सरकार उसके खिलाफ कार्रवाई करना तो दूर उसे रैली करने तक से नहीं रो पा रही है।

क्या मसरत आलम की गिरफ्तारी के बाद हाफिज सईद बौखलाहट में धमकी दे रहा है? इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए आईबीएन7 पर दोनों देशों से मेहमान जुड़े। श्रीनगर से बीजेपी नेता हिना भट और पीडीपी के प्रवक्ता वहीद-उर-रहमान, दिल्ली से कांग्रेस प्रवक्ता आलोक शर्मा, गुड़गांव से रिटायर्ड मेजर जनरल जी डी बख्शी जुड़े। वहीं पाकिस्तान से पाक सेना के पूर्व प्रवक्ता और रिटायर्ड मेजर जनरल अतहर अब्बास जुड़े। चर्चा देखने के लिए वीडियो देखें।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए 8 बजे से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 20, 2015, 3:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर