लाइव टीवी

मोटा बिल बनाने के लिए मर चुकी महिला का इलाज करता रहा अस्पताल

News18India
Updated: August 17, 2016, 10:20 PM IST

पटना का एक निजी नर्सिंग होम दमतोड़ चुकी महिला का 48 घंटे तक फर्जी इलाज करता रहा। परिजनों का आरोप है कि महिला की लाश को आईसीयू में रखकर बिल बढ़ाया जाता रहा

  • News18India
  • Last Updated: August 17, 2016, 10:20 PM IST
  • Share this:
पटना। बिहार की राजधानी पटना में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। पटना का एक निजी नर्सिंग होम दमतोड़ चुकी महिला का 48  घंटे तक फर्जी इलाज करता रहा। परिजनों का आरोप है कि महिला की लाश को आईसीयू में रखकर बिल बढ़ाया जाता रहा। नर्सिंग होम ने उन्हें सच नहीं बताया। अस्पताल के इस फर्जीवाड़े का खुलासा तब हुआ जब खुद मृत महिला की भतीजी आईसीयू में घुस गई और अपने मोबाइल से वीडियो बना लिया।

मृत महिला की भतीजी का आरोप है कि वहां पल्स रेट से लेकर ब्लड प्रेशर तक शून्य था लेकिन अस्पताल के कर्मचारी इलाज का बहाना कर रहे थे। लड़की ने जब शिकायत करते हुए इसका वीडियो बनाना शुरू किया तो वहां मौजूद डॉक्टर ने उसके साथ बदसलूकी शुरू कर दी।

पटना के शिवहर की रहने वाली महिला को उसके परिजनों ने इलाज़ के लिए पटना के निजी हॉस्पिटल में 6 अगस्त को भर्ती कराया था। अस्पताल प्रबंधन ने 14 अगस्त के बाद आईसीयू में भर्ती महिला को देखने की इजाजत उसके परिजनों को यह बोलकर नहीं दी कि मरीज की हालत गंभीर है।

मंगलवार को जब महिला की भतीजी किसी तरह आईसीयू में गई तो देखकर सन्न रह गई कि उसकी चाची मृत है। मॉनिटर में प्लस और हार्ट बीट ज़ीरो दिख रहा था। मृत महिला की भतीजी ने जब चिल्लाना शुरू किया तब हॉस्पिटल स्टाफ़ दिखाने के लिए इलाज़ का नाटक करने लगे। लड़की ने साहस दिखाते हुए अपने मोबाइल से वीडियो बनाया। हॉस्पिटल स्टाफ ने उसे मारने और मोबाइल तोड़ने की कोशिश की लेकिन तब तक अस्पताल की सारी हरकते मोबाइल कैमरे में कैद जो चुकी थी। बहरहाल हंगामे के बाद नर्सिंग होम के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंडिया 9 बजे से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 17, 2016, 10:42 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर