Home /News /shows /

ये हैं रियल लाइफ के 'सिंघम', इनके तबादले के खिलाफ सड़क पर उतरा पूरा शहर

ये हैं रियल लाइफ के 'सिंघम', इनके तबादले के खिलाफ सड़क पर उतरा पूरा शहर

सिस्टम के खि़लाफ़ आवाज़ उठाने वाले जांबाज अफसरों की कहानियां आपने सुनी होंगी। फिल्मों में सिंघम जैसे किरदार देखे होंगे। फिल्म गंगाजल में आपने जिले के एसपी के ट्रांसफर को रोकने के लिए पूरे शहर को सड़क पर निकलते देखा होगा, लेकिन क्या कभी सोचा है कि ऐसा हकीकत में हो सकता है।

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली। सिस्टम के खि़लाफ़ आवाज़ उठाने वाले जांबाज अफसरों की कहानियां आपने सुनी होंगी। फिल्मों में सिंघम जैसे किरदार देखे होंगे। फिल्म गंगाजल में आपने जिले के एसपी के ट्रांसफर को रोकने के लिए पूरे शहर को सड़क पर निकलते देखा होगा, लेकिन क्या कभी सोचा है कि ऐसा हकीकत में हो सकता है। जी हां, ऐसा हुआ है मध्य प्रदेश के कटनी जिले में। मध्य प्रदेश का कटनी पिछले करीब एक हफ्ते से बंद है। जनता एसपी गौरव तिवारी के तबादले के खिलाफ सड़क पर है। दुकानों के शटर डाऊन हैं। सवाल ये है कि एक आईपीएस के तबादले में ऐसा क्या है जो पूरा शहर सड़क पर आ गया।

    गौरव तिवारी का व्हाट्सएप स्टेट्स इस सबकी कहानी कहता है। गौरव तिवारी ने अपने व्हाट्सएप स्टेट्स में लिखा, ‘हे ईश्वर, हमें इस समय ऐसे साथी दो जिनके इरादे मज़बूत हों। हृदय महान हों। इरादे पक्के हों और वो तैयार हों। जिन्हें लालच ख़त्म न कर सके। जिन्हें ख़रीदा न जा सके। जिनकी अपनी सोच हो। जिन्हें खुद पर यक़ीन हो। जिनमें आत्म सम्मान हो।

    गौरव तिवारी का ये व्हाट्सएप स्टेट्स जो 6 महीने के अंदर दो-दो तबादले के बाद शायद उनके जेहन में गूंज रहा है। इसी तबादले की एक और गूंज उस शहर में भी उठी जहां से उनका ट्रांसफर हुआ। यानी मध्य प्रदेश का कटनी। कटनी में सड़क पर उतरी जनता एसपी गौरव तिवारी के तबादले का विरोध कर रही है। वैसे किसी अफसर का तबादला एक सामान्य प्रक्रिया है। लेकिन गौरव तिवारी के तबादले पर उबाल आ गया है।

    गौरव के तबादले पर जनता के गुस्से की आग पर सियासी रोटियों को सेंकने की भी शुरुआत हो चुकी है। मध्य प्रदेश में बीजेपी की सरकार है। इसलिए कांग्रेस ने अब गौरव के तबादले के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। एक आईपीएस के तबादले पर इस रण के पीछे एक बड़े घोटाले और भ्रष्टाचार की बात कही जा रही है। आरोप है कि गौरव का तबादला इसलिए किया गया है कि क्योंकि वो 500 करोड़ के हवाला कांड में राज्य के एक मंत्री पर शिकंजा कसने वाले थे।

    इस मामले में कांग्रेस का आरोप है कि लघु उद्योग मंत्री संजय पाठक के दबाव में गौरव तिवारी का तबादला किया गया है क्योंकि गौरव जिस हवाला कांड की जांच कर रहे थे। उसमें संजय पाठक का भी नाम आ रहा था। हालांकि मंत्री संजय पाठक सभी आरोपों से इनकार कर रहे हैं। तबादले पर भी उनका कहना है कि ये एक प्रक्रिया है। और उनकी योग्यता के हिसाब से उन्हें बड़ी ज़िम्मेदारी दी गई है।

    हवाला कांड की जांच कर रहे एसपी के तबादले पर उठी आग की तपिश मध्य प्रदेश सरकार तक पहुंची। सड़का पर उतरा विपक्ष मंत्री संजय पाठक को हटाने और एसपी का तबादला रद्द करने की मांग कर रहा है। लेकिन सरकार ने दोनों मांग ठुकराते हुए हवाला कांड की जांच प्रवर्तन निदेशालय से कराने का आदेश दे दिया है।

    मुख्यमंत्री के इस आदेश के बाद भी एसपी के तबादले से भड़का गुस्सा खत्म नहीं हो रहा है। प्रदर्शनकारियों ने सड़क के बाद रेल रोकने का अभियान शुरू कर दिया। हालात बिगड़ने पर पुलिस को सख्त रवैया अपनाना पड़ा। पुलिस ने इसके बाद सैकड़ों प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया।

    एक आईपीएल के तबादले पर इस कदर छिड़ी जंग के पीछे 500 करोड़ का हवाला कांड है। इस मामले में आरोप मंत्री पर है और गौरव तिवारी नाम के जिस अफसर का तबादला हुआ है, उनकी छवि असल जिंदगी के सिंघम अफसर जैसी है। उनके तबादले पर पहले जनता ने ही विरोध शुरू किया था। शहर की दुकानें बंद हो गई। बच्चों ने स्कूल जाना बंद कर दिया। इसकी खबर मिलते ही सियासी दुकानें भी खुल गईं। लेकिन हालात को देखकर प्रधानमंत्री कार्यालय ने राज्य से रिपोर्ट मांग ली।

    Tags: मध्य प्रदेश

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर