लाइव टीवी

पाक मंत्री का बयान, जैश जैसे आतंकी संगठनों को हासिल है पाक सरकार का समर्थन

News18India
Updated: May 20, 2016, 9:27 PM IST

पाकिस्तान के सूबा पंजाब के मंत्री राणा सनाउल्ला ने एक चौंकाने वाले कबूलनामे में खुलासा किया है कि जैश-ए-मुहम्मद और जमात-उद-दावा जैसे संगठनों को सरकार का समर्थन हासिल रहा है।

  • Share this:
नई दिल्ली। पाकिस्तान के सूबा पंजाब के मंत्री राणा सनाउल्ला ने एक चौंकाने वाले कबूलनामे में खुलासा किया है कि जैश-ए-मुहम्मद और जमात-उद-दावा जैसे संगठनों को सरकार का समर्थन हासिल रहा है। आज उन पर भले पाबंदी लगा दी गई हो, लेकिन उनकी हरकतों के लिए उनके खिलाफ लीगल एक्शन नहीं लिया जा सकता। दरअसल, ये एक्शन इसलिए भी मुश्किल है, क्योंकि फिर पाकिस्तान को अपने ऊपर भी एक्शन लेना होगा।

पाकिस्तान की जमीन पर आतंक के कई अड्डे हैं और इन आतंक के अड्ड़ों से अब कोई अनजान नहीं है, लेकिन पाकिस्तान लगातार इस सच को नकारता रहा है। भारत में होने वाली हर आतंकी साजिश में पाकिस्तान का हाथ सामने आता है पर पाकिस्तान के पास बहानों का अंबार होता है। अपने ही मुल्क के दहशतगर्दों को पहचानने से भी पाकिस्तान इनकार करता रहा है।

कसाब और उसके 9 साथियों की लाश लेने से भी पाकिस्तान ने इनकार कर दिया। जब इन आतंकियों के पाकिस्तानी होने के सबूत सामने आ गए तो तब के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने इन्हें नॉन स्टेट एक्टर्स करार दिया था। लेकिन अब नवाज शरीफ की पार्टी के नेता और पाकिस्तानी पंजाब के कानून मंत्री राणा सनाउल्ला का चौंकाने वाला कबूलनामा सामने आया है। बीबीसी उर्दू को दिए गए इंटरव्यू में राणा सना उल्ला ने जो बोला वो पाकिस्तान की टेरर पॉलिसी का नंगा सच है।

इस इंटरव्यू में पाकिस्तान का वो सच जो सनाउल्ला की जबान से अनजाने में छलक आया। दरअसल, इंटरव्यू में सवाल-जवाब पाकिस्तान में आतंकियों के खिलाफ चल रहे ऑपरेशन जरब-ए-अब्र के सिलसिले में हो रहा थे। पाकिस्तान ने ये ऑपरेशन पेशावर में आर्मी पब्लिक स्कूल पर हुए आतंकी हमले के बाद किया, जिसमें मासूम बच्चों को चुन-चुन कर गोलियां मारी गईं।

राणा सनाउल्ला ने अनजाने ही ये भी कबूल कर लिया कि पाकिस्तान की जमीन का इस्तेमाल दहशतगर्दी के लिए होता रहा है। आतंकवाद पर पाकिस्तानी मंत्री के इस कबूलनामे पर भारत में तत्काल प्रतिक्रिया हुई। राजनीतिक दलों के
साथ-साथ सुरक्षा विशेषज्ञों का भी मानना है कि मंत्री के इस कबूलनामे के साथ ही पाकिस्तान बेनकाब हो गया है।

मंत्री राणा सनाउल्ला के बयान के बाद भारत ने एक बार फिर पाकिस्तान पर अपने पाले आतंकियों पर कार्रवाई के लिए दबाव बढ़ा दिया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता का कहना है इन आतंकियों पर कार्रवाई पाकिस्तान के हक में होगी। हालांकि राणा सनाउल्ला को अपने बयान पर ऐसी प्रतिक्रिया की उम्मीद नहीं थी। लिहाजा अब वो सफाई देते घूम रहे हैं।अपने ही बयान से पलटने का हुनर रखने वाले राणा सनाउल्ला पहले नेता नहीं हैं। इससे पहले मुशर्रफ, जरदारी और नवाज शरीफ भी ऐसा कर चुके हैं। इसलिए भारत के लिए ये चौंकाने वाली बात नहीं है। लेकिन इस कबूल नामें से इतना जरूर हुआ है कि पाकिस्तान दुनिया के सामने बेनकाब हो गया है।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए खबरों में खास से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 20, 2016, 9:23 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर