• Home
  • »
  • News
  • »
  • shows
  • »
  • राज-उद्धव ठाकरे साथ-साथ, सोशल मीडिया पर वायरल हुईं तस्वीरें!

राज-उद्धव ठाकरे साथ-साथ, सोशल मीडिया पर वायरल हुईं तस्वीरें!

क्या महाराष्ट्र की राजनीति में एक दूजे के कट्टर सियासी दुश्मन उद्धव और राज ठाकरे की दूरियां खत्म हो सकती हैं? यही सवाल आजकल लोगों के जेहन में उठ रहा है।

  • News18India
  • Last Updated :
  • Share this:
    मुंबई। क्या महाराष्ट्र की राजनीति में एक दूजे के कट्टर सियासी दुश्मन उद्धव और राज ठाकरे की दूरियां खत्म हो सकती हैं? यही सवाल आजकल लोगों के जेहन में उठ रहा है। इसकी वजह है दोनों भाईयों की सोशल मीडिया पर वायरल हुई तस्वीरें। जिसमें दोनों भाई साथ-साथ और पास-पास नजर आ रहे हैं।

    शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और एमएनएस अध्यक्ष राज ठाकरे फिर से करीब आ सकते हैं। दोनों भाईयों की बरसों से चल रही अदावत जल्द खत्म हो सकती है। उद्धव और राज की जो तस्वीरें सामने आई है उससे तो ऐसा ही लगता है।

    दरअसल बरसों बाद अब उद्धव ठाकरे-राज ठाकरे की तस्वीरें  सोशल मीडिया पर खूब छाई हुई हैं। ये तस्वीरें दोनों भाईयों के जवानी के दिनों की हैं। दोनों के पुराने एलबम से निकली इन तस्वीरों ने महाराष्ट्र की राजनीति में अटकलों का दौर शुरू कर दिया है। इन तस्वीरों की खास बात ये है कि इसे राज ठाकरे की पार्टी एमएनएस ने अपने फेसबुक पर पोस्ट किया है।

    एमएनएस नेता इन पुरानी तस्वीरें को नई उम्मीद के साथ देख रहे हैं। एमएनएस के प्रवक्ता वागीश सारस्वत  के मुताबिक ये सिर्फ तस्वीर नहीं बल्कि यादें है। खुबसूरत यादें है। यादों को कैसे बदल सकते है? दोनों भाई कभी अलग नही हुए हैं सिर्फ राजनितीक मंच बदला है। ये परिवार एक है और भविष्य एक जुट रहेगा।

    एमएनएस के अधिकारिक फेसबुक पर आखिर पुरानी तस्वीरें क्यों लगाई गईं? अब इसके मायने निकाले जा रहे हैं। हालांकि, शिवसेना ने एक बयान जारी कर सफाई दी है। हम इन तस्वीरों को ज्यादा तव्वजो नहीं देते। शिवसेना अपने दम पर ही चुनाव लड़ेगी पांच साल पहले जो आसमान में उड़ते थे अब वो जमीन पर आ गए हैं।

    80 के दशक की ये तस्वीरें गवाह है उन पलों की जब उद्धव और राज ठाकरे साथ हुआ करते थे। दोनों भाइयों का प्यार देखकर किसी को लगता ही नहीं था कि सगे नहीं बल्कि चचेरे भाई हैं पर बदलती राजनीति के साथ राहें जुदा हो गई है। जब से ये तस्वीरें सामने आईं है। चर्चा गर्म है कि क्या एक दशक के बाद दोनों भाइयों के फासला घटेंगे, माना ये भी जा रहा है पिछले दिनों में एमएनएस की लोकप्रियता घटी है।  इसलिए नवंबर में होने वाले कल्याण डोंबिवली महानगर पालिका के चुनाव को ध्यान में रखकर इन तस्वीरों को जानबूझकर पोस्ट किया है ताकी मराठी अस्मिता के मुद्दे पर शिवसेना को वोट करने वाले मतदाताओं को ये अहसास कराया जाए की दोनों भाई अब भी एक हैं।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज