लाइव टीवी

अंडरवर्ल्ड के नाम पर लोगों को लुटने वाला गैंग पुलिस ने दबोचा

News18India
Updated: June 8, 2016, 4:14 PM IST

मुंबई पुलिस की क्रांइम ब्रांच ने एक ऐसे गिरोह को धर दबोचा है जिनका निशाना बड़ी और मालदार पार्टियां होती थीं।

  • Share this:
मुंबई।  मायानगरी मुंबई में अपराधी अपने मंसूबों को पूरा करने के लिए रोजाना नई नई तरकीब निकालते है और एक ऐसी ही तरकीब मुंबई के टैक्सीवाले लुटेरे गैंग ने निकाली है। टैक्सीवाले लुटेरे के नाम से मशहूर ये गैंग कई राज्यों में लोगों को चपत लगा चुका है और इसके लिए ये गैंग मुंबई की पहचान कही जाने वाली काली पीली टैक्सी का सहारा लेता था।

इसका खुलासा तब हुआ जब मुंबई क्राइम ब्रांच की एआरबी यानि एंटी रॉबरी सेल ने एक ऐसे ही रैकेट का भंडाफोड़ किया। जानकारी के मुताबिक ये लोग कभी कभी पीड़ित को टैक्सी में बिठाकर, तो कभी उनकी रेकी कर लूट किया करते थे। इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है और इन दोनों ही आरोपियों के खिलाफ तीन दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस के अनुसार ये आरोपी कई साल जेल में बंद रहने के बाद डेढ़ साल पहले ही छूटे थे और फिर से अपने अपराध को अंजाम देने लगे।

मुंबई क्राइम ब्रांच के डीसीपी संग्रामसिंह निशानदार के मुताबिक ये लोग अपने अपराध के लिए काली पीली टैक्सी का इस्तेमाल करते थे। इन पर कई आरोप है और भी मामले दर्ज हैं। पुलिस के मुताबिक इनके लूटने का तरीका बेहद अलग होता था। ये लोग पहले तो टैक्सी को किराए पर लेते थे और बाद में मालदार लोगों पर इनकी नजर होती थी। इसमें ये लोग टैक्सीवाले को भी कमीशन देते थे और उसे भी अपने अपराध में शामिल कर लेते थे। अपने शिकार को ये कह कर डराते थे कि डॉन ने उन्हें मारने की सुपारी दी है और अगर उन्होंने उन्हें पैसे और नगदी नही दिए तो उनका कत्ल कर देंगे। इसी बात से डरकर लोग उन्हें अपना सारा सामान दे देते थे।

मुंबई क्राइम ब्रांच के डीसीपी संग्रामसिंह निशानदार के मुताबिक ये लोग को अंडरवर्ल्ड का डॉन से जुड़ा बताकर लुटा करते थे और लोगो से नगदी और सामान लूट लेते थे। फिलहाल पुलिस इस गैंग के अन्य लोगों की तलाश में जुटी है। अपराधी अपने अपराध अंजाम को तक पहुंचाने को लिए तरह तरह के पैंतरे अपनाती है लेकिन इस मामले में उन्होंने मुंबई की काली पीली टैक्सी को चुना। समय रहते पुलिस ने इन्हें धर दबोचा और कई और लोगों इनका शिकार बनने से पहले ही बचा लिया।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए राजधानी एक्सप्रेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 7, 2016, 11:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर