एयर इंडिया ने मनु भाकर के 'उत्पीड़न' के आरोपों से इनकार किया

निशानेबाज ने एयरलाइन के स्टाफ पर 'उत्पीड़न' और 'अपमान' करने के आरोप लगाए थे (@realmanubhaker)

निशानेबाज ने एयरलाइन के स्टाफ पर 'उत्पीड़न' और 'अपमान' करने के आरोप लगाए थे (@realmanubhaker)

एयर इंडिया ने दावा किया कि मनु भाकर जब 19 फरवरी को अपनी मां के साथ दिल्ली से भोपाल जा रही थीं तो उनसे 'वैध' दस्तावेज मांगे गए थे, जबकि इस निशानेबाज ने एयरलाइन के स्टाफ पर 'उत्पीड़न' और 'अपमान' करने के आरोप लगाए थे.

  • भाषा
  • Last Updated: February 22, 2021, 10:18 AM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. एयर इंडिया ने भारतीय निशानेबाज मनु भाकर के दिल्ली एयरपोर्ट पर अपने दो एयरलाइन स्टाफ द्वारा 'उत्पीड़न' के आरोपों से इनकार किया. रविवार को जारी बयान में एयर इंडिया ने दावा किया कि मनु भाकर जब 19 फरवरी को अपनी मां के साथ दिल्ली से भोपाल जा रही थीं तो उनसे 'वैध' दस्तावेज मांगे गए थे, जबकि इस निशानेबाज ने एयरलाइन के स्टाफ पर 'उत्पीड़न' और 'अपमान' करने के आरोप लगाए थे.

इस 19 साल की राष्ट्रमंडल खेलों और युवा ओलंपिक की स्वर्ण पदकधारी पिस्टल निशानेबाज ने एयरलाइन से इन दोनों अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. एयर इंडिया ने बयान में कहा, ''हमारे कर्मचारी मनोज गुप्ता पूरे समय काउंटर पर थे और उन्होंने किसी भी समय सीधे भाकर से बात नहीं की. इसे सीसीटीवी की फुटेज से भी देखा जा सकता है. इसलिए उनके द्वारा दुर्व्यवहार के आरोप का मामला पैदा ही नहीं होता.''

Sports News Today Live Updates: इंग्लैंड के खिलाफ टी20 में नए चेहरों को मौका

इसके अनुसार सीसीटीवी के फुटेज भी यात्री के घूस लेने के आरोपों और मोबाइल फोन छीनने के आरोपों को गलत साबित करते हैं. एयर इंडिया के अनुसार दिल्ली एयरपोर्ट काउंटर पर प्रवेश के समय भाकर ने अधिकारियों को बताया कि उनके पास एक एयर पिस्टल और 0.22 बोर गन है.
बयान के अनुसार, ''उन्हें हमारे काउंटर अधिकारियों ने दस्तावेज लाने की सलाह दी जो हथियार ले जाने के लिए अनिवार्य होते हैं. एयर इंडिया के सुरक्षा अधिकारियों ने भी इसे सही बताया.'' जब भाकर ने दस्तावेज दिखाये तो उन्हें बताया गया कि ये 'वैध' नहीं थे क्योंकि इस पर केवल राष्ट्रीय राइफल संघ के सहायक सचिव के ही हस्ताक्षर थे.

Australian Open: नोवाक जोकोविच रिकॉर्ड 9वीं बार बने चैंपियन, दूसरी बार बनाई खिताबी हैट्रिक

एयर इंडिया के कहा कि नियमों के अनुसार संबंधित संघ के सचिव या अध्यक्ष के हस्ताक्षर ही शुल्क की छूट के लिए मान्य होते हैं, जिसकी जानकारी एयर इंडिया वेबसाइट पर भी उपलब्ध है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज