होम /न्यूज /खेल /23 साल की चित्रा ने एशियाई एथलेटिक्स में जीता गोल्ड, सरोज के नाम सिल्वर

23 साल की चित्रा ने एशियाई एथलेटिक्स में जीता गोल्ड, सरोज के नाम सिल्वर

महिला धावक पीयू चित्रा

महिला धावक पीयू चित्रा

आपको बता दें 23वीं एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में भारत का यह तीसरा स्वर्ण पदक है.

    एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीत देश का नाम रोशन करने वाली भारत की महिला धावक पीयू चित्रा ने दोहा में जारी 23वीं एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में बुधवार को स्वर्ण पदक जीत लिया. वहीं पुरुषों के 1500 मीटर रेस में अजय कुमार सरोज को रजत पदक मिला.

    ये भी पढ़ें >>  Asian Athletics Championship: हेप्टाथलॉन में स्वप्ना बर्मन ने जीता सिल्वर

    एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के बाद दूसरा स्वर्ण
    23 वर्षीय चित्रा ने दोहा के खलीफा स्टेडियम में महिलाओं की 1500 मीटर रेस में 4:14.56 सेकेंड समय के साथ स्वर्ण पदक अपने नाम किया. चित्रा ने 2017 में भुवनेश्व में हुई एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में भी स्वर्ण पदक जीता था. आपको बता दें 23वीं एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में भारत का यह तीसरा स्वर्ण पदक है.

    कड़ी मेहनत से मिली जीत
    चित्रा ने इस जीत के बाद कहा, "बहरीन की धावक (गैसहॉव टिगेस्ट) के बगल में होने से अंत में थोड़ा घबरा गई थी. उन्होंने एशियाई खेलों में मुझे तीसरे स्थान पर हराया था. मुझे वास्तव में अंत में कड़ी मेहनत करनी पड़ी."

    (PC - Twitter)


    पुरषों में सरोज को मिला रजत
    पुरुषों के 1500 मीटर रेस में अजय कुमार सरोज ने 3:43.18 की सीजन की अपनी बेस्ट टाइमिंग के साथ रजत पदक जीत लिया. वहीं, एशियाई खेलों में दो पदक जीतने वाले दुती चंद महिलाओं की 200 मीटर रेस में 23.24 सेकेंड के समय के साथ कांस्य पदक अपने नाम किया. लेकिन वह विश्व चैम्पियनशिप के लिए क्वालीफाई करने से चूक गईं

    (PC - Twitter)


    क्वालीफाई करने से चूक गईं
    दुती ने पदक जीतने के बाद कहा, "वास्तव में मैं बहुत खुश हूं. मैं 100 मीटर में पदक जीतने से चूक गई थीं लेकिन मैंने काफी प्रयास किया था. 200 मीटर में पदक जीतने को लेकर मैं ज्यादा आश्वस्त नहीं थी. मैंने सिर्फ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है और मैं इससे खुश हूं."

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 

    Tags: Athletics, Sports

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें