एशियाई खेलों के बीच शाहरुख खान की जकार्ता में हो रही है खूब चर्चा

एशियाई खेलों के बीच शाहरुख खान की जकार्ता में हो रही है खूब चर्चा
लोग जकार्ता और पालेमबांग में शुरू हो रहे इन खेलों के लिए पहुंचे प्रतिभागियों का गर्मजोशी से स्वागत कर रहे हैं.

लोग जकार्ता और पालेमबांग में शुरू हो रहे इन खेलों के लिए पहुंचे प्रतिभागियों का गर्मजोशी से स्वागत कर रहे हैं.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
एशियाई खेलों के दौरान ट्रैफिक को लेकर इंडोनेशिया का डर सच होता दिख रहा है लेकिन वहां के लोग  जकार्ता और पालेमबांग में शुरू हो रहे इन खेलों के लिए पहुंचे प्रतिभागियों का गर्मजोशी से स्वागत कर रहे हैं. इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता को रोड ट्रैफिक की समस्या के लिए जाना जाता है (पिछले साल अक्टूबर में राष्ट्रपति जोको विडोडो को दो किलोमीटर पैदल चलना पड़ा था). इस मामले में दक्षिण सुमात्रा प्रांत की राजधानी पालेमबांग भी ज्यादा पीछे नहीं है.

शहर के मुख्य हिस्से से आठ किलोमीटर दूर जाकाबारिंग स्पोर्ट्स सिटी तक पहुंचने में लगभग एक घंटे का समय लगा. यहां के सुलतान मोहम्मद बदरूद्दीन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर खड़े एक वालंटियर ने कहा, "कई बार स्थिति इससे भी खराब हो जाती है. आप पालेमबांग की ट्रैफिक के बारे में कुछ नहीं कह सकते. यह जकार्ता की तरह स्थिति खराब नहीं है लेकिन स्थिति बुरी है."

शहर के होटल से जाकाबारिंग हवाईअड्डे की रेकी करने में एक घंटे से अधिक का समय लग गया. यहां की व्यस्त सड़क पर कार से ज्यादा बाइक भारतीय यातायात समस्या की तरह है. पालेमबांग को खेलों का सह-मेजबान इसलिए चुना गया था क्योंकि यहां आधारभूत संरचना पहले से मौजूद थी और मूसी नदी के किनारे बसे इस शहर ने 2011 में दक्षिण एशियाई खेलों की मेजबानी की थी. मुख्य प्रेस सेंटर में मौजूद एक अधिकारी ने कहा, "ज्यादातर लोगों को लग रहा कि हम फिर से दक्षिण एशियाई खेलों की मेजबानी कर रहे हैं लेकिन बड़े स्तर पर वे काफी उत्सुक हैं."



ये भी पढ़ें: ये 15 खिलाड़ी भारत को एशियन गेम्‍स में इस बार दिलाएंगे गोल्‍ड!



आधारभूत संरचना की कमी को यहां के लोगों की मुस्कान देखकर आसानी से भूल सकते हैं. यहां बोली जाने वाली भाषा हालांकि एक समस्या है लेकिन लोग बॉलीवुड सितारे शाहरुख खान और अमिताभ बच्चन की दीवानगी के बारे में बताने से नहीं चूकते. इस मामले में शाहरूख अपने सीनियर अभिनेता से ज्यादा लोकप्रिय हैं.
एक वालंटियर ने कहा, "हमें भाषा समझ में नहीं आती लेकिन हम शाहरूख को पंसद करते हैं." एक अधिकारी ने कहा, "भारत बहुत बड़ा देश है और आपके यहां आने से हम काफी खुश हैं. हमारे लिए यह काफी बड़ा क्षण है."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading