Home /News /sports /

BWF World Tour Finals: पीवी सिंधु गोल्ड जीतने से चूकीं, कोरियाई खिलाड़ी ने दी शिकस्त

BWF World Tour Finals: पीवी सिंधु गोल्ड जीतने से चूकीं, कोरियाई खिलाड़ी ने दी शिकस्त

BWF World Tour Finals: पीवी सिंधु बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स में गोल्ड मेडल जीतने से चूक गईं. उन्हें कोरियाई खिलाड़ी ने शिकस्त दी. (PC-BAI Media Twitter)

BWF World Tour Finals: पीवी सिंधु बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स में गोल्ड मेडल जीतने से चूक गईं. उन्हें कोरियाई खिलाड़ी ने शिकस्त दी. (PC-BAI Media Twitter)

BWF World Tour Finals: भारतीय शटलर पीवी सिंधु (PV Sindhu) का बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स में दूसरी बार गोल्ड मेडल जीतने का सपना टूट गया. उन्हें खिताबी मुकाबले में कोरिया की आन सियोंग (An Seyoung) ने सीधे सेटों में हरा दिया. सिंधु सिर्फ 39 मिनट में मैच हार गईं. सिंधु का कोरियाई खिलाड़ी सियोंग से यह तीसरा मुकाबला था और वो तीनों मैच हारीं हैं. इससे पहले सिंधु ने 2018 में विश्व टूर फाइनल्स में गोल्ड मेडल जीता था. सियोंग ने इससे पहले इंडोनेशिया मास्टर्स और इंडोनेशिया ओपन के खिताब जीते थे.

अधिक पढ़ें ...

    बाली. पीवी सिंधु (PV Sindhu) को रविवार को बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स (BWF World Tour Finals) में रजत पदक से संतोष करना पड़ा. भारतीय शटलर को दक्षिण कोरिया की आन सियोंग ने सीधे गेम में हरा दिया. विश्व चैंपियन सिंधु के पास विश्व में छठे नंबर की कोरियाई खिलाड़ी के खेल का कोई जवाब नहीं था और वह आसानी से 16-21, 12-21 से हार गयी. इस कोरियाई खिलाड़ी के खिलाफ सिंधु की तीन मैचों में तीसरी हार है और इन सभी मैचों का नतीजा सीधे गेम में निकला. सियोंग ने नेट पर बेहतरीन खेल दिखाया और बेसलाइन पर भी अच्छा प्रदर्शन किया. उन्होंने 39 मिनट तक चले मैच में दो बार की ओलंपिक पदक विजेता भारतीय खिलाड़ी को किसी भी समय वापसी का मौका नहीं दिया.

    सियोंग ने इससे पहले इंडोनेशिया मास्टर्स और इंडोनेशिया ओपन के खिताब जीते थे. उन्होंने अक्टूबर में डेनमार्क ओपन के क्वार्टर फाइनल में भी सिंधु पीवी सिंधु (PV Sindhu) को हराया था. यह तीसरा अवसर था जब सिंधु टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची थी. वह 2018 में खिताब जीतकर यह उपलब्धि हासिल करने वाली पहली भारतीय बनी थी.

    यह आसान मुकाबला नहीं था: सिंधु
    पीवी सिंधु ने फाइनल में हार के बाद कहा, ‘यह अच्छा मुकाबला था. सियोंग बेहतरीन खिलाड़ी हैं. इसलिए मुझे नहीं लगता कि यह आसान होने वाला था. मैं एक कड़े मुकाबले के लिए तैयार थी. मुझे शुरू से ही उसे बढ़त बनाने का मौका नहीं देना चाहिये था. यह थोड़ा निराशाजनक है. लेकिन बहुत कुछ सीखने को मिला.”

    अब विश्व चैम्पियनशिप की तैयारी करूंगी
    इस 26 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा, “बाली में तीन सप्ताह अच्छे रहे. यहां से कई सकारात्मक चीजों के साथ लौटूंगी और तरोताजा होकर विश्व चैम्पियनशिप की तैयारी करूंगी.”

    कोरियाई खिलाड़ी शुरू से ही सिंधु पर हावी रही
    कोरिया की 19 साल की खिलाड़ी के खिलाफ सिंधु एक बार फिर असहज नजर आयी. वह अपने आक्रामक खेल को आगे नहीं बढ़ा सकी और ना ही पूरे कोर्ट का इस्तेमाल कर सकी. सियोंग ने नेट का शानदार इस्तेमाल किया और शटल पर बेहतर प्रहार से उसने सिंधु की योजना को विफल कर दिया. उन्होंने मैच के दौरान कई मौकों पर डाइव लगाकर अंक बचाये. मैच की शुरुआत में ही सिंधु 0-4 से पिछड़ गयी थी. सिंधु ने वापसी की कोशिश की. लेकिन कोरिया की खिलाड़ी ने उन्हें एक बार में कई अंक बटोरने का मौका नहीं दिया.

    नीरज चोपड़ा ने युवा छात्रों को किया प्रेरित, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो शेयर कर तारीफ की

    सियोंग ने अपनी बढ़त को 16-8 किया और सिंधु ने वापसी करते हुए इस अंतर को कम किया. लेकिन वह कोरिया की खिलाड़ी को 21-16 से गेम जीतने से नहीं रोक पायी. सिंधु ने दूसरे गेम में अच्छी शुरुआत की वह मैच में पहली बार मैच में 5-4 की बढ़त हासिल करने में सफल रही. लेकिन सियोंग ने शानदार वापसी की 10-6 की बढ़त हासिल कर ली. वह लंबी रैलियों के सहारे सिंधु को कठिन चुनौती दे रही थी. ब्रेक के समय उसके पास 11-8 की बढ़त थी. उसने ब्रेक के बाद लगातार चार अंक जुटाकर अपनी बढ़त को 15-8 कर ली और फिर 21-12 से मैच जीत लिया.

    Tags: Badminton, Badminton World Federation, Pv sindhu, Sports news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर