होम /न्यूज /खेल /गिरते-पड़ते इंडिया ने मैच बचाया, सीरीज हारी<a href='http://ibnlive.in.com/cricketnext/live-score/full/auin12262014176488.html'><font color=red>स्कोर</font></a>

गिरते-पड़ते इंडिया ने मैच बचाया, सीरीज हारी<a href='http://ibnlive.in.com/cricketnext/live-score/full/auin12262014176488.html'><font color=red>स्कोर</font></a>

मैच के ड्रॉ होने के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 24 रन और अश्विन 8 रन बनाकर नाबाद पवैलियन लौटे। रेयॉन हैरिस को 'मैन ऑफ द मैच' का पुरस्कार दिया गया।

मैच के ड्रॉ होने के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 24 रन और अश्विन 8 रन बनाकर नाबाद पवैलियन लौटे। रेयॉन हैरिस को 'मैन ऑफ द मैच' का पुरस्कार दिया गया।

मैच के ड्रॉ होने के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 24 रन और अश्विन 8 रन बनाकर नाबाद पवैलियन लौटे। रेयॉन हैरिस को 'मैन ऑफ ...अधिक पढ़ें

    मेलबर्न। बॉर्डर-गावस्कर सीरीज के तीसरे मैच में भारत ने काफी मुश्किल हालात में पहुंचने के बावजूद मैच ड्रा करा लिया। सभी प्रमुख खिलाड़ियों के ऑउट होने के बाद मैदान पर आए कप्तान धोनी और आर अश्विन ने 11 ओवरों का सामना करते हुए मैच को सम्मानपूर्वक ड्रा करा लिया।

    भारत ने पांचवे दिन विराट कोहली के 54 और अंजिक्य रहाणे के साहसिक 48 रनों की पारी के बदौलत मैच को बचाया, जिसे कप्तान धोनी-अश्विन ने अंजाम तक पहुंचाया। भारत को इस मैच को जीतने के लिए 384 रनों का लक्ष्य मिला था, जिसके जवाब में भारतीय टीम ने 6 विकेट के नुकसान पर 174 रन बनाए। इसी स्कोर पर मैच को समाप्त घोषित किया गया। मैच के ड्रॉ होने के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 24 रन और अश्विन 8 रन बनाकर नाबाद पवैलियन लौटे। मैच में 95 रन और 6 विकेट लेकर हरफनमौला प्रदर्शन करने वाले रेयॉन हैरिस को 'मैन ऑफ द मैच' का पुरस्कार दिया गया।

    इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी 9 विकेट पर 318 रन बनाने के बाद घोषित कर दी। जिसके बाद पहली पारी के 68 रनों की बढ़त जोड़कर भारत को 384 रनों का लक्ष्य दिया। जोकि टीम इंडिया की पहुंच से काफी दूर साबित हुआ। भारत ने 384 रनों के लक्ष्य का पीछा करने की शुरुआत में ही अपने 3 विकेट गंवा दिए। टीम इंडिया के ओपनर शिखर धवन शून्य पर आउट हो गए। जिस समय टीम इंडिया का स्कोर दो रन था, उसी समय शॉट खेलने के चक्कर में धवन रैयान हैरिस की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। इसके बाद बैटिंग करने आए लोकेश राहुल भी कोई कमान नहीं दिखा सके और एक रन के निजी स्कोर पर जॉनसन की गेंद पर वॉटसन को कैच दे बैठे। इस समय टीम इंडिया का स्कोर पांच रन था। जबकि ओपनर मुरली विजय के रूप में भारत की तीसरा विकेट उस समय गिरा जब भारत का स्कोर 19 रन था। विजय को हैजलवुड ने 11 रन के निजी स्कोर पर एलबीडब्ल्यू आउट किया।

    भारत को विराट कोहली के रूप में चायकाल के तुरंत बाद चौथा झटका लगा, जब विराट कोहली 54 रन बनाकर रेयॉन हैरिस का शिकार बन गए। तो वहीं, थोड़ी देर बाद चेतेश्वर पुजारा 21 रन बनाकर मिशेल जॉनसन की गेंद पर क्लीनबोल्ड हो गए। हालांकि अजिंक्य रहाणे भारतीय पारी को संभालने में लगे हुए थे, लेकिन वो 48 रन बनाकर ऑउट हो गए। कोहली ने ऑउट होने से पहले रहाणे के साथ 85 रनों की साझेदारी की। दोनों ने उस समय मोर्चा संभाला जब भारतीय पारी के शुरुआती समय ही महज 19 रन पर ही 3 विकेट गिर गए थे। विराट कोहली ने 7 चौकों की मदद से 54 रनों की शानदार अर्धशतकीय पारी खेली। विराट कोहली ने अपने अर्धशतकीय पारी में 7 शानदार चौके लगाए, तो अजिंक्य रहाणे ने 6 चौके लगाए। ऑस्ट्रेलिया की ओर से जॉनसन, हैरिस और हैजलवुड ने दो-दो विकेट लिए।

    इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी 9 विकेट पर 318 रन पर घोषित करते हुए भारत के सामने 384 रनों का लक्ष्य रखा। ऑस्ट्रेलिया की ओर से दूसरी पारी में शॉन मार्श ने सर्वाधिक 99 रन बनाए। वो शतक पूरा करने की जल्दबाजी में रन ऑउट हो गए। मार्श के अलावा क्रिस रोजर्स ने 69 रनों की शानदार अर्धशतकीय पारी खेली थी। भारत की ओर से उमेश यादव, मोहम्मद समी, इशांत शर्मा और रविचंद्रन अश्विन ने दो-दो विकेट लिए।

    इस मैच के ड्रॉ होने के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज पर कब्जा कर लिया। हालांकि इस सीरीज में एक मैच और खेला जाना है, लेकिन वो महज औपचारिकता भर है। क्योंकि ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज के दोनों शुरुआती मैच जीतकर पहले ही 2-0 की बढ़त बना ली थी। अब सीरीज के आखिरी मैच में टीम इंडिया जीत दर्ज कर अपना सम्मान बचाने की कोशिश करेगी।

    Tags: Australia, Border Gavaskar Trophy, India, Virat Kohli

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें