सबसे रोमांचक मैच: वर्ल्‍ड कप फाइनल में पहुंचने के लिए चाहिए थे 4 गेंदों में महज 1 रन, और फिर...

सबसे रोमांचक मैच: वर्ल्‍ड कप फाइनल में पहुंचने के लिए चाहिए थे 4 गेंदों में महज 1 रन, और फिर...
इसी मैच के बाद साउथ अफ्रीका पर चोकर्स का ठप्‍पा लगा था

वर्ल्‍ड कप फाइनल में जगह बनाने के लिए साउथ अफ्रीका को आखिरी चार गेंदों पर 1 रन चाहिए थे. मगर जल्‍दबाजी के कारण टीम दो गेंद पहले ही ऑल आउट हो गई

  • Share this:
नई दिल्‍ली. क्रिकेट जगत में कई हाईवोल्‍टेज मैच हुए. पिछले साल ही इंग्‍लैंड और न्‍यूजीलैंड (England vs New Zealand) के बीच वर्ल्‍ड कप (World Cup) फाइनल का सबसे यादगार, रोमांचक और सांसों को रोक देने वाला मैच हुआ. मगर क्रिकेट की दुनिया का सबसे रोमांचक मैच आज से 21 साल पहले खेला गया था, जब वर्ल्‍ड कप फाइनल का टिकट हासिल करने के लिए साउथ अफ्रीका को आखिरी की 4 गेंदों पर 1 रन चाहिए थे, मगर जल्‍दबाजी ने उन्‍हें दो गेंद पहले ही वर्ल्‍ड कप से दूर कर दिया.

आज से ठीक 21 साल पहले यानी 17 जून 1999 को ऑस्‍ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका के बीच वर्ल्‍ड कप सेमीफाइनल मुकाबला खेला. हालांकि जब यह मैच टाइ हुआ तो हर कोई जानता था कि फाइनल में ऑस्‍ट्रेलिया पहुंचेगी, क्‍योंकि सुपर सिक्‍स स्‍टेज में उनका रन रेट बेहतर था. हालांकि इस मैच में काफी कुछ देखने लायक था. ऑस्‍ट्रेलिया के पास माइकल बेवन और स्‍टीव वॉ जैसे खिलाड़ी थे, जिन्‍होंने 68 रन पर चार विकेट गिरने के बाद टीम को संभाला. वहीं साउथ अफ्रीका के शॉन पोलक और एलन डोनाल्‍ड ने मिलकर 68 रन पर 9 विकेट लिए. इसके बाद बिना नुकसान के 48 रन बनाने के बाद शेन वॉर्न की बेहतरीन गेंदबाजी के सामने साउथ अफ्रीका ने 61 रन पर चार विकेट गंवा दिए. हालांकि इसके बाद जैक कैलिस का अर्धशतक, लांस क्‍लूजनर के कुछ बड़े शॉट के दम पर साउथ अफ्रीका ने मैच में वापसी की और मुकाबला इतना करीबी हो गया कि साउथ अफ्रीका का फाइनल में पहुंचना तय माना जा रहा था, क्‍योंकि आखिरी की 4 गेंदों पर टीम को सिर्फ एक रन चाहिए थे. टीम पहली बार फाइनल में पहुंचने जा रही थी. मैदान पर क्‍लूजनर 31 रन पर खेल रहे थे, वहीं एलन डोनाल्‍ड दूसरे छोर पर उनका साथ देने आए थे. हालांकि साउथ अफ्रीका के पास सिर्फ आखिरी विकेट ही बचा था.

जीत की जल्‍दबाजी ने दिया सबसे बड़ा जख्‍म
ऑस्‍ट्रेलिया के दिए 214 रनों के लक्ष्‍य का पीछा करते हुए साउथ अफ्रीकी टीम जब फाइनल ओवर में पहुंची तो उसके नौ विकेट पर 205 रन हो गए थे. आखिरी ओवर की शुरुआती दो गेंदों पर क्‍लूजनर ने दो चौके जड़कर स्‍कोर ऑस्‍ट्रेलिया के बराबर 213 रन कर दिया और साउथ अफ्रीका को जीत के लिए सिर्फ एक रन की जरूरत थी और पास में चार गेंद शेष थी. आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर कोई रन नहीं मिला. इसके बाद तीन गेंद बची. चौथी गेंद पर क्‍लूजनर ने मिड ऑफ पर हिट किया. वह रन लेने के लिए आगे बढ़े. हालांकि रन आउट की संभावना अधिक थी और उनके पास अभी भी दो गेंद बची हुई थी. हालांकि नॉन स्‍ट्राइक पर खड़े डोनाल्‍ड अपने साथी को देखने की बजाय गेंद को देखने में व्‍यस्‍त थे और वह रन लेने के लिए अपने साथी की आवाज नहीं सुन पाए. क्‍लूजनर नॉन स्‍ट्राइक पर पहुंच गए. वॉ ने फ्लेमिंग की तरफ गेंद फेंकी और वहां से गेंद विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट के पास आई और स्‍टंप पर ही खड़े थे. डोनाल्‍ड ने अपना बल्‍ला छोड़ दिया था और कुछ दूरी पहले ही वह रन आउट हो गए. डोनाल्‍ड डायमंड डक हुए और इसी के साथ साउथ अफ्रीका का सपना भी चकनाचूर हो गया था. इसी मैच के बाद साउथ अफ्रीका पर चोकर्स का ठप्‍पा लग गया.
ऑस्‍ट्रेलिया की टीम फाइनल में पहुंच गई, जहां उसने पाकिस्‍तान को हराकर वर्ल्‍ड कप जीता था.



सचिन के बेटे अर्जुन तेंदुलकर ने इस बल्लेबाज को दी सिर पर गेंद मारने की

कोरोना वायरस के दौरान आईपीएल हुआ तो बहुत बड़ा रिकॉर्ड बन जाएगा!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading