सर डॉन ब्रैडमैन जैसे टैलेंटेड थे ये 5 बल्लेबाज, मैदान पर उतरते तो थम जाती थी दुनिया!

सर डॉन ब्रैडमैन जैसे टैलेंटेड थे ये 5 बल्लेबाज, मैदान पर उतरते तो थम जाती थी दुनिया!
डॉन ब्रैडमैन से बेहतर माने जाने वाले 5 बल्लेबाज

सर डॉन ब्रैडमैन (Sir Don Bradman) को क्रिकेट का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज माना जाता है, उनका औसत 99.94 था. लेकिन क्रिकेट इतिहास में ऐसे भी बल्लेबाज हुए हैं जो ब्रैडमैन से टैलेंटेड माने जाते थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 31, 2020, 11:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. 52 टेस्ट, 6996 रन, 29 शतक, 13 अर्धशतक और औसत 99.94. ये उस क्रिकेटर का औसत है जिसे इस खेल का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज माना जाता है. नाम है सर डॉन ब्रैडमैन. डॉन ब्रैडमैन ने अपने करियर में कई ऐसी पारियां खेली हैं, जिनकी कल्पना करना भी मुश्किल है. ब्रैडमैन का औसत बताता है कि वो किस कद के बल्लेबाज थे. हालांकि आपको ये जानकार बेहद हैरानी होगी कि इस खेल के इतिहास में कुछ ऐसे बल्लेबाज भी हुए हैं जो सर डॉन ब्रैडमैन से जैसे ही टैलेंटेड माने जाते थे. आज हम आपको बताएंगे वो 5 बल्लेबाज जिनकी बल्लेबाजी के लोग दीवाने थे. उनकी बल्लेबाजी देखने के लिए लोग सब काम छोड़ देते थे, मानो दुनिया थम सी जाती थी.
2 नवंबर 1877 में जन्मे ऑस्ट्रेलिया के विक्टर थॉमस ट्रंपर को क्रिकेट इतिहास का सबसे स्टाइलिश और गुणी बल्लेबाज माना जाता था. गोल्डन एज क्रिकेट में विक्टर ट्रंपर की बल्लेबाजी बेहद ही जबर्दस्त थी. ट्रंपर को गीली विकेट पर मैच जिताऊ पारियां खेलने के लिए जाना जाता था. जिन पिचों पर बल्लेबाज क्रीज छोड़कर भागते थे वहां ट्रंपर रनों का अंबार लगाते थे. दाएं हाथ का ये बल्लेबाज टेस्ट क्रिकेट में 7 और 8 शतक जड़ने वाला पहला खिलाड़ी था. साल 1903 में उन्हें विजडन क्रिकेटर ऑफ द ईयर भी चुना गया. 1899 में हुई एशेज सीरीज के पहले टेस्ट मैच में ट्रंपर ने लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर 135 रनों की पारी खेली थी. उनकी इस पारी ने क्रिकेट के महानतम खिलाड़ी डब्ल्यू जी ग्रेस को इतना प्रभावित किया कि वो खुद ऑस्ट्रेलियाई ड्रेसिंग रूम में आए और उन्होंने ट्रंपर को अपना बैट गिफ्ट में दिया. ट्रंपर ने 49 टेस्ट में 39.04 की औसत से 3163 रन बनाए. ट्रंपर की औसत ब्रैडमैन से बेहद कम है लेकिन यकीन मानिए इस खिलाड़ी को ऑस्ट्रेलिया में आज भी ब्रैडमैन से ज्यादा टैलेंटेड बल्लेबाज माना जाता है.
वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज जॉर्ज हेडली, जिन्हें लोग ब्लैक ब्रैडमैन के नाम से जानते थे. हेडली का जन्म पनामा में साल 1909 में हुआ था और वो अंग्रेजी सीखने जमैका आए थे. लेकिन जमैका में वो क्रिकेट खेलने लगे और उसके बाद वेस्टइंडीज और वर्ल्ड क्रिकेट को मिला बेहद ही जबर्दस्त बल्लेबाज. जॉर्ज हेडली ने वेस्टइंडीज के लिए 22 टेस्ट मैचों में 60.83 के औसत से 2190 रन बनाए. हेडली ने 10 शतक और 5 अर्धशतक जड़े. फर्स्ट क्लास करियर में हेडली का औसत तकरीबन 70 रहा और उनके बल्ले से 33 शतक निकले. हेडली के पास हर तरह के शॉट्स थे और उन्हें लोग ब्रैडमैन से अच्छा बल्लेबाज भी बताते थे.
साउथ अफ्रीका के महान बल्लेबाज ग्रीम पॉलक को अगर ब्रैडमैन के बराबर टैलेंटेड कहा जाए तो गलत नहीं होगा. ब्रैडमैन ने अपने करियर में 23 टेस्ट मैच खेले और उन्होंने 60.97 के बेमिसाल औसत से 2256 रन बनाए. पॉलक के बल्ले से 7 शतक और 11 अर्धशतक निकले. ग्रीम पॉलक को 20वीं शताब्दी का बेस्ट साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी चुना गया था. पॉलक को वर्ल्ड क्रिकेट का सबसे बेहतरीन बाएं हाथ का बल्लेबाज माना जाता है. पॉलक का टैलेंट आप इस बात से समझिए उन्होंने महज 16 साल की उम्र में पहला फर्स्ट क्लास शतक लगा दिया था. महज 19 साल की उम्र में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर डेब्यू टेस्ट शतक जड़ा.
इंग्लैंड के दाएं हाथ के बल्लेबाज हर्बर्ट सटक्लिफ को भी ब्रैडमैन जैसा ही टैलेंटेड बल्लेबाज माना जाता था. सटक्लिफ ने अपने क्रिकेट करियर में 754 फर्स्ट क्लास मैच खेले, जिसमें उन्होंने 50, 670 रन बनाए. सटक्लिफ ने कुल 151 शतक ठोके. इंटरनेशनल क्रिकेट की बात करें तो उन्होंने 54 टेस्ट मैचों में 60.73 की औसत से 4555 रन बनाए, जिसमें 16 शतक और 23 अर्धशतक शामिल थे. सटक्लिफ को उनकी गजब की एकाग्रता के लिए जाना जाता था.
इंग्लैंड के ससेक्स में जन्मे जैक हॉब्स भी ब्रैडमैन के स्तर के बल्लेबाज माने जाते थे. इस दिग्गज बल्लेबाज ने अपने करियर में 834 फर्स्ट क्लास मैचों में 61760 रन बनाए. उनके बल्ले से 199 शतक और 273 अर्धशतक निकले. हॉब्स ने इंग्लैंड के लिए 61 टेस्ट मैचों में 56.94 के बेहतरीन औसत से 5410 रन बनाए. हॉब्स ने टेस्ट क्रिकेट में 15 शतक जड़े.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading