Home /News /sports /

Womens Cricket vs Mens Cricket: महिला और पुरुष टेस्ट मैचों में होते हैं 7 बड़े अंतर, क्या आप जानते हैं?

Womens Cricket vs Mens Cricket: महिला और पुरुष टेस्ट मैचों में होते हैं 7 बड़े अंतर, क्या आप जानते हैं?

Womens Cricket vs Mens Cricket

Womens Cricket vs Mens Cricket

Womens Cricket Test: भारत और ऑस्ट्रेलिया की महिला टीमें कैरारा में पिंक टेस्ट मैच में दो-दो हाथ कर रही है. यह 2021 में दूसरा मौका है जब भारतीय महिला क्रिकेट टीम टेस्ट मैच खेल रही है. हम यहां दोनों टीमों के कम से कम 7 ऐसे अंतर बताने जा रहे हैं जो टेस्ट मैच में महिलाओं और पुरुषों के टेस्ट मैच (differences between womens and mens test matches) में होते हैं.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई दिल्ली. भारतीय महिला टीम आज से ऑस्ट्रेलिया (India-W vs Australia-W) से पिंक टेस्ट मैच में दो-दो हाथ कर रही है. यह 2021 में दूसरा मौका है जब भारतीय महिला क्रिकेट टीम टेस्ट मैच खेल रही है. हर कोई जानता है कि महिला क्रिकेट टीमों के टेस्ट मैच पुरुष टीमों के मुकाबले काफी कम होते हैं. 14 साल में यह सिर्फ दूसरा मौका है जब भारतीय महिला टीम (Indian Womens Team) एक साल में दो टेस्ट मैच खेल रही है. जबकि,  भारतीय पुरुष टीम हर साल औसतन 8 से 10 टेस्ट मैच खेलती है. महिला और पुरुष टीमों के टेस्ट मैच का यह अंतर तो करीब-करीब हर कोई जानता है. लेकिन हम यहां दोनों टीमों के कम से कम 7 ऐसे अंतर बताने जा रहे हैं जो टेस्ट मैच में महिलाओं और पुरुषों के टेस्ट मैच (Womens Cricket vs Mens Cricket) में होते हैं.

    महिला क्रिकेट टेस्ट मैच 4 दिन का होता है. पुरुषों का टेस्ट मैच अधिकतम 5 दिन का होता है.
    महिला क्रिकेट टेस्ट में हर रोज न्यूनतम 100 ओवर की गेंदबाजी का प्रावधान है. पुरुष क्रिकेट में हर रोज 90 ओवर का खेल अनिवार्य है.
    महिला क्रिकेट टेस्ट में गेंद का वजन कम से कम 142 ग्राम होना चाहिए. पुरुषों के मैच में गेंद का वजन 156 ग्राम से कम नहीं होना चाहिए.
    महिला टेस्ट मैच में बाउंड्री कम से कम 55 मीटर और अधिकतम 64 मीटर हो सकती है. पुरुषों के टेस्ट मैच में यह दूरी क्रमश: 59 मीटर और 82 मीटर है.
    महिला क्रिकेट टेस्ट में डीआरएस का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है. हां, मैदानी अंपायर तीसरे अंपायर की मदद ले सकते हैं. पुरुष क्रिकेट में डीआरएस यूज होता है, यानी खिलाड़ी अंपायर के फैसले को चुनौती दे सकता है.
    महिला टेस्ट मैच में एक ओवर करने के लिए औसतन 3.6 मिनट तय किए गए हैं. पुरुषों के मैच में यह वक्त औसतन 4 मिनट है.
    खिलाड़ियों के मैदान से बाहर रहने के लिए पेनल्टी टाइम भी अलग-अलग है. महिला टेस्ट मैच में यह वक्त 110 मिनट का है. पुरुषों के मैच में यह वक्त 120 मिनट हो जाता है.

    Tags: Cricket news, IND-W vs AUS-W, Indian Womens Team, Test Match, Womens Cricket, Womens Cricket Test

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर