अब्दुल कादिर के 'गुप्त हथियार' के मुरीद थे कप्तान इमरान खान

News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 4:47 PM IST
अब्दुल कादिर के 'गुप्त हथियार' के मुरीद थे कप्तान इमरान खान
अब्दुल कादिर की 63 साल की उम्र में निधन

अब्दुल कादिर (Abdul Qadir) उस टीम का हिस्सा थे जिसमें इमरान खान (Imran Khan), जावेद मियांदाद (Javed Miandad), मोहसिन खान (Mohsin Khan) और बाद में वसीम अकरम (Wasim Akram) मौजूद थे और अपनी स्पिन से दर्शकों को आकर्षित करते थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 7, 2019, 4:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. शेन वॉर्न (Shane Warne) गजब प्रतिभा के धनी रहे लेकिन अब्दुल कादिर (Abdul Qadir) ऐसे जादूगर थे जिन्होंने विक्टोरियाई गेंदबाज के विश्व क्रिकेट को मोहित करने से बहुत पहले ही ‘गुगली’ को लोकप्रिय बना दिया था.

‘गुगली’ को धोखा देने वाली गेंद माना जाता है. गेंदबाजों के लिए इसे ‘खजाने वाली गेंद’ माना जाता है लेकिन जो बल्लेबाज इसका सामना करता है, उसके लिए यह भयभीत करने वाली होती है. कादिर इस धोखा देने वाली गेंद को फेंकने की कला को समझते थे जिससे काफी बल्लेबाज खौफ में आ जाते थे और पवेलियन लौट जाते.

फिट थे अब्दुल कादिर

कादिर के बेटे सुलेमान ने बताया कि वह चाव से एशेज सीरीज देखते और लाहौर में परिवार के साथ अच्छा समय बिता रहे थे. उन्होंने कहा, ‘वह फिट थे, हालांकि उन्हें अच्छा खाना पसंद था और वह खुद को फिट बनाये रखते थे.’

इस उम्र (63 वर्ष) में भी वह काफी फिट थे. उन्होंने कहा, ‘हमें उम्मीद नहीं थी कि उन्हें दिल का दौरा पड़ेगा. यह अचानक हुआ और जब तक हम अस्पताल पहुंचे तब तक सब खत्म हो गया था.’कादिर उस टीम का हिस्सा थे जिसमें इमरान खान, जावेद मियांदाद, मोहसिन खान और बाद में वसीम अकरम मौजूद थे और अपनी स्पिन से दर्शकों को आकर्षित करते थे.

कादिर को बाओ बुलाते थे इमरान

कादिर अलग अलग तेजी से तीन लेग ब्रेक फेंक सकते थे. इमरान ने जब 80 के दशक में टीम की कप्तानी की तो उन्होंने कादिर के इस गुप्त हथियार को देखा. और कई मैचों में इस लेग स्पिनर ने अपने कप्तान को निराश नहीं किया. भले ही यह वेस्टइंडीज के खिलाफ फैसलाबाद में मैच हो या फिर इंग्लैंड में. कादिर को सभी प्यार से ‘बाओ’ पुकारते थे और वह इमरान के पसंदीदा थे. बाएं हाथ के स्पिनर इकबाल कासिम कई टेस्ट में कादिर के स्पिन जोड़ीदार रहे, उन्होंने कहा, ‘इमरान उन्हें काफी प्रेरित करते थे.’
Loading...

संन्यास के बाद वह मुख्य चयनकर्ता भी रहे और इस दौरान पीसीबी के चेयरमैन एजाज बट से शोएब अख्तर को टीम में रखने के लिए भी लड़े थे. उन्होंने राजनीतिक हस्तक्षेप के बाद अपने पद से इस्तीफा दिया. कादिर ने पाकिस्तान के लिये 67 टेस्ट और 104 वनडे क्रिकेट मैच खेले और अपने अंतरराष्ट्रीय कैरियर में 368 विकेट लिये.

जब दीप दासगुप्‍ता टेस्‍ट में ओपन कर सकते हैं तो रोहित क्‍यों नहीं: गंभीर

शिखर धवन के साथ हादसा, गर्दन पर लगी तेज बाउंसर और फिर...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 7, 2019, 4:46 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...