अपना शहर चुनें

States

दुनिया का वह इकलौता क्रिकेटर, जिसने माउंट एवरेस्‍ट की फतह, मुश्किल में पड़ गई थी जिंदगी

एडम परोरे ने 2011 में माउंट एवरेस्‍ट फतह की थी (फोटो क्रेडिट: @rashidulllah198 ट्विटर )
एडम परोरे ने 2011 में माउंट एवरेस्‍ट फतह की थी (फोटो क्रेडिट: @rashidulllah198 ट्विटर )

न्‍यूजीलैंड के पूर्व विकेटकीपर एडम परोरे (Adam Parore ) आज अपना 50वां जन्‍मदिन मना रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2021, 9:53 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. क्रिकेट की दुनिया में कई महान खिलाड़ी हुए, जिन्‍होंने 22 गज में काफी कमाल किए. इतिहास रचा, कई विश्‍व रिकॉर्ड बनाए और तोड़े, मगर क्रिकेट इतिहास में सिर्फ एक ही ऐसा क्रिकेटर है, जिनसे माउंट एवरेस्‍ट पर परचम लहाराया. बात कर रहे हैं न्‍यूजीलैंड के पूर्व विकेटकीपर एडम परोरे ( Adam Parore) की, जो आज अपना 50वां जन्‍मदिन मना रहे हैं. ऑकलैंड में जन्‍में परोरे ने 78 टेस्‍ट, 179 वनडे मैच में अपने देश का प्रतिनिधित्‍व किया. उन्‍होंने 2002 में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था और इसके 9 साल बाद ही उन्‍होंने इतिहास रच दिया. परोरे ने 2011 में दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्‍ट फतह की थी और वह इसके साथ ही एवरेस्‍ट पर चढ़ने वाले दुनिया के इकलौते क्रिकेटर बन गए.

दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर पहुंचने के अपने सफर के बारे में एक इंटरव्‍यू में परोरे ने बताया था कि उन्‍होंने मई में एवरेस्‍ट फतह की, मगर वह मार्च 2011 को ही नेपाल पहुंच गए थे, ताकि वहां के मौसम में खुद को ढ़ाल सके.

आवाज तक हो गई थी बंद
एवरेस्‍ट पर चढ़ना परोरे के लिए कतई आसान नहीं था, मगर अपने इस सपने को हकीकत बनाने के लिए उन्‍होंने जान की बाजी तक लगा डाली दी. इंटरव्‍यू में उन्‍होंने ही इसका खुलासा किया था कि जह वह चढ़ाई कर रहे थे तो उनका ऑक्‍सीजन खत्‍म हो गया था. ऐसे में साथ चल रहे शेरपा की वजह से वह जिंदा बच पाए पाए.
यह भी पढ़ें :



कुलदीप यादव की वापसी पर भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच ने कहा, अब इंग्‍लैंड के खिलाफ होगा इस हथियार का इस्‍तेमाल

ऑटो चलाते थे मोहम्‍मद सिराज के पिता, अब बेटे ने घर के बाहर खड़ी की BMW कार

उन्‍होंने चोटी पर करीब 20 मिनट का समय बिताया. वहां पर तस्‍वीरें खींची और नीचे उतरने लग गए. परोरे के अनुसार नीचे उतरने के बाद उनकी तबीयत काफी खराब हो गई थी, उनकी आवाज तक बंद हो गई थी. हालांकि उपचार के कुछ देर बाद उन्‍हें राहत मिली. परोरे ने 1990 में इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट क्रिकेट में डेब्‍यू किया था. वहीं इसके दो साल बाद 1992 में जिम्‍बाब्‍वे के खिलाफ वनडे क्रिकेट से डेब्‍यू किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज