लाइव टीवी

आईपीएल में अपनी टीम को चीयर नहीं कर पाएंगे नेस वाडिया?

News18Hindi
Updated: May 1, 2019, 1:16 PM IST
आईपीएल में अपनी टीम को चीयर नहीं कर पाएंगे नेस वाडिया?
नेस वाडिया (Photo-twitter)

बीसीसीआई ने उनका आईपीएल एक्रीडिएशन कैंसिल करने का मामला लोकपाल को सौंप दिया है.

  • Share this:
आईपीएल टीम किंग्स इलेवन पंजाब के को-ओनर और वाडिया ग्रुप के वारिस नेस वाडिया को हाल ही में जापान में दो साल की सजा सुनाई गई है, जो उनके लिए बड़ी मुसीबत है. इस मामले के बाद बीसीसीआई भी उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर सकती है. फिलहाल बोर्ड ने उनका आईपीएल एक्रीडिएशन कैंसिल करने का मामला अपने लोकपाल को सौंप दिया है. अगर बीसीसीआई का लोकपाल उनका एक्रीडिएशन कैंसिल करता है तो वो अपनी टीम को चीयर करने के लिए स्‍टेडियम नहीं जा सकेंगे. यकीनन यह नेस वाडिया के लिए बहुत बड़ा झटका होगा.

बहरहाल, आईपीएल के मौजूदा सीजन में पंजाब ने अब तक 12 मैच खेलते हुए पांच में जीत हासिल की है और वह अभी दस प्‍वाइंट्स के साथ प्‍वाइंट टेबल में सातवें नंबर पर हैं. हालांकि अभी उसके दो मैच बचे हैं और यहां मिली जीत उसे प्‍लेऑफ का टिकट दिला सकती है.

ये हैं पंजाब के मालिक
नेस वाडिया के अलावा बॉलीवुड एक्‍ट्रेस प्रीति जिंटा और डाबर ग्रुप के मालिक मोहित बर्मन इस टीम के सह मालिक हैं. बर्मन के पास टीम की 46 फीसदी हिस्‍सेदारी है तो वाडिया और प्रीति के नाम 23-23 फीसदी शेयर हैं. वहीं, बाकी के शेयर डे एंड डे ग्रुप के पास हैं.

नेस वाडिया को दो साल की सजा
आईपीएल टीम किंग्स इलेवन पंजाब के को-ओनर और वाडिया ग्रुप के वारिस नेस वाडिया जापान में ड्रग्स रखने के मामले में दोषी पाए जाने के बाद दो साल की सजा सुनाई गई है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वाडिया की ये सजा 5 सालों तक सस्पेंड रहेगी. इस बीच नेस जापान में कोई और गैर-कानूनी काम करते हैं, तो उन्हें जेल भेज दिया जाएगा. वह पिछले महीने मार्च में जापान के होक्काइडो आईलैंड के चीटोस एयरपोर्ट पर गिरफ्तार किए गए थे, उनके पास 25 ग्राम कैनेबिस राइजिन पाई गई थी. नेस वाडिया 20 मार्च को दोषी पाए गए थे और उससे पहले वो पुलिस हिरासत में भी रहे. बाद में नेस वाडिया जमानत पर रिहा होकर भारत आ गए. पूछताछ के दौरान वाडिया ने ड्रग्स रखने की बात कबूल की थी.

श्रेयस गोपाल ने ली हैट्रिक, लगातार तीन गेंदों पर विराट, डीविलियर्स और स्‍टोइनिस को किया 'ढेर'नेस वाडिया का प्रतिक्रिया देने से इनकार
फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट की मानें तो वाडिया जापान के निसीको रेसॉर्ट छुट्टी मनाने जा रहे थे, लेकिन एयरपोर्ट पर गिरफ्तारी के बाद वो छुट्टियां नहीं मना पाए और भारत लौट आए. जब मीडिया ने उनसे इस मामले पर प्रतिक्रिया चाही तो उन्होंने इस मुद्दे पर बयान देने से इनकार कर दिया.

विवादों से पुराना नाता
आपको बता दें किंग्स इलेवन पंजाब की को-ओनर प्रीति जिंटा और नेस वाडिया पहले रिलेशनशिप में थे. हालांकि इसके बाद ये रिश्ता टूट गया. प्रीति जिंटा ने 30 मई, 2014 को इंडियन प्रीमियर लीग मैच के दौरान वानखेड़े स्टेडियम में नेस पर छेड़खानी का आरोप लगाया था. शिकायत के मुताबिक, वाडिया टिकट बांटने को लेकर टीम के स्टाफ को अपशब्द कह रहे थे. उस समय उनकी टीम जीत रही थी और जिंटा ने वाडिया से शांत होने को कहा. इस पर उन्होंने जिंटा को भी कथित रूप से अपशब्द कहे और उनका हाथ पकड़ा और कथित रूप से उनसे छेड़खानी की. हालांकि बाद में इस मामले में समझौता हो गया

अरबपति हैं नेस!
नेस, वाडिया ग्रुप के चेयरमैन नुस्ली वाडिया के बड़े बेटे हैं. बॉम्बे डाइंग, ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज और गो एयर वाडिया ग्रुप की कंपनियां हैं. नेस बॉम्बे डाइंग और बॉम्बे बरमाह ट्रेडिंग कॉर्प समेत कुछ अन्य कंपनियों में डायरेक्टर हैं. वाडिया ग्रुप की कंपनियों की कीमत 13.1 अरब डॉलर है। नुस्ली वाडिया की नेटवर्थ 7 अरब डॉलर है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 1, 2019, 12:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर