भारत या इंग्लैंड नहीं, पाकिस्तान है टी20 की बेस्ट टीम, वर्ल्ड कप-2016 के बाद सबसे ज्यादा 68% मैच जीते

भारत ने 2016 टी20 वर्ल्ड कप के बाद से कुल 69 टी20 में से 44 जीते, 20 हारे हैं. दो मैच टाई और 3 बेनतीजा रहे हैं. इस अवधि में भारत ने अपने 64 फीसदी मैच जीते हैं. (PIC:AP)

भारत ने 2016 टी20 वर्ल्ड कप के बाद से कुल 69 टी20 में से 44 जीते, 20 हारे हैं. दो मैच टाई और 3 बेनतीजा रहे हैं. इस अवधि में भारत ने अपने 64 फीसदी मैच जीते हैं. (PIC:AP)

इस साल घर में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) से पहले भारत ने इस फॉर्मेट की नंबर-1 टीम को 5 मैच की सीरीज में हरा दिया. इससे भारत का आत्मविश्वास तो बढ़ा होगा. लेकिन अभी भी कई चुनौतियां सामने हैं. 2016 वर्ल्ड कप के बाद के रिकॉर्ड पर नजर डालें तो पाकिस्तान का पलड़ा भारत, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया पर भारी नजर आ रहा है. उसका इस अवधि में टी20 फॉर्मेट में विनिंग पर्सेंटेज इन तीनों टीमों से ज्यादा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2021, 3:43 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत ने शनिवार को इंग्लैंड के खिलाफ पांचवां और आखिरी टी20 जीतकर पांच मैच की सीरीज (India vs England T20I Series) पर 3-2 से कब्जा जमा लिया. इस साल भारत में अक्टूबर-नवंबर में टी20 वर्ल्ड कप (T20 World cup 2021) होना है. पिछला टूर्नामेंट 5 साल पहले भारत में ही हुआ था. तब फाइनल में इंग्लैंड को 4 विकेट से हराकर वेस्टइंडीज चैम्पियन बना था. तब से टी20 क्रिकेट में काफी बदलाव हुआ है. अगर मौजूदा रैंकिंग की बात करें, तो इंग्लैंड पहले, भारत दूसरे, ऑस्ट्रेलिया तीसरे और पाकिस्तान चौथे पायदान पर है. रैंकिंग के लिहाज से तो 2016 वर्ल्ड कप के बाद इंग्लैंड, भारत और ऑस्ट्रेलिया को इस फॉर्मेट का सिकंदर होना चाहिए. लेकिन आंकड़ों पर नजर डालें तो पाकिस्तान इन तीनों टीमों पर भारी नजर आ रहा है.

2016 टी20 वर्ल्ड कप के बाद से पाकिस्तान का इस फॉर्मेट में विनिंग पर्सेंटेज इन तीनों टीमों से ज्यादा है. चौंकाने वाली बात ये है कि 2016 टी20 वर्ल्ड कप के बाद से अफगानिस्तान का इस फॉर्मेट में विनिंग पर्सेंटेज सबसे ज्यादा है. इस टीम ने अपने 82 फीसदी टी20 मैच जीते हैं और वो पाकिस्तान, भारत, ऑस्ट्रेलिया और टी20 की नंबर-1 टीम इंग्लैंड से भी आगे है.हालांकि, इसके पीछे बड़ी वजह है कि अफगानिस्तान ने इस दौरान यूएई, ओमान, आयरलैंड, बांग्लादेश और जिम्बाब्वे जैसी कमजोर टीमों के खिलाफ ही ज्यादातर मैच खेले हैं. ओवरऑल टी20 रिकॉर्ड की बात करें तो अफगानिस्तान ने अब तक सबसे ज्यादा 18 टी20 आयरलैंड के खिलाफ ही खेले हैं. इसमें उसे 14 में जीत मिली है. यानी इस टीम के खिलाफ उसने 80 फीसदी से ज्यादा मैच जीते हैं.

पाकिस्तान ने पिछले टी20 वर्ल्ड कप के बाद भारत से 12 मैच कम खेले
अब अगर पाकिस्तान की बात करें तो उसने 2016 टी20 वर्ल्ड कप (2016 T20 World Cup) के बाद से ही 57 टी20 खेले हैं. इसमें से उसने 39 जीते, 16 हारे और 2 बेनतीजा रहे हैं. यानी टीम ने इस अवधि में 68 फीसदी से ज्यादा टी20 जीते. इसी दौरान भारत ने कुल 69 टी20 मैच में से 44 जीते, 20 हारे. दो मैच टाई और तीन बेनतीजा रहे. यानी भारत ने 64 फीसदी मैच जीते. पाकिस्तान का विनिंग पर्सेंटेज भारत से इसलिए भी ज्यादा है. क्योंकि उसने भारत के मुकाबले 12 मैच कम खेले हैं.

इंग्लैंड ने भारत, पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया से कम मैच जीते

वहीं, मौजूदा टी20 रैंकिंग की नंबर-1 टीम इंग्लैंड 2016 का टी20 वर्ल्ड कप का फाइनल खेलने वाली टीम है. उसे इस साल भी वर्ल्ड कप का मजबूत दावेदार माना जा रहा है. लेकिन इस टूर्नामेंट के बाद से इस टीम ने भारत, पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के मुकाबले कम टी20 खेले हैं. इंग्लैंड ने कुल 44 मैच खेले हैं. इसमें से उसने 24 जीते, 18 हारे, एक टाई और एक मैच बेनतीजा रहा है. इस दौरान उसका विनिंग पर्सेंटेज 54.5 फीसदी रहा. ऑस्ट्रेलिया भी इस मामले में इंग्लैंड से बहुत आगे नहीं हैं. उसने भी 2016 के टी20 वर्ल्ड कप के बाद से कुल 48 टी20 खेले हैं. इसमें 27 मैच जीते, 19 हारे और 2 बेनतीजा रहे. यानी इस अवधि में कंगारू टीम ने 56. 2 फीसदी मैच जीते हैं.

भारत-पाकिस्तान के बीच 5 साल से एक भी टी20 मैच नहीं हुआ 



2016 वर्ल़्ड कप के बाद से भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ एक भी टी20 मुकाबला नहीं खेला है. दोनों टीमों के बीच पिछली बार इसी टूर्नामेंट में मैच हुआ था. तब भारत ने पाकिस्तान को 6 विकेट से हराया था. वहीं, इंग्लैंड की बात करें तो भारत ने उसके खिलाफ 11 टी20 खेले हैं. इसमें से उसने 7 मैच जीते हैं, जबकि 4 में उसे हार का सामना करना पड़ा है. इसी अवधि में भारत ने ऑस्ट्रेलिया से 10 टी20 खेले हैं. इसमें उसने 4 मैच जीते हैं, जबकि 5 मुकाबले ऑस्ट्रेलिया जीतने में कामयाब रहा है. एक मैच बेनतीजा रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज