• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • एशेज विवाद : ब्रिटिश पीएम की ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मॉरिसन से बात, रखी खास मांग

एशेज विवाद : ब्रिटिश पीएम की ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मॉरिसन से बात, रखी खास मांग

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एशेज विवाद पर ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन से बात की है. (Scott Morrison Twitter)

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एशेज विवाद पर ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन से बात की है. (Scott Morrison Twitter)

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन (Scott Morrison) से बात कर अपने खिलाड़ियों की ओर से गुहार लगाई है कि वह उन्हें अपने परिवार के साथ एशेज सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया आने की इजाजत दें. इंग्लैंड को दिसंबर के महीने में ऑस्ट्रेलिया का दौरा करना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    लंदन. ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन से आगामी एशेज सीरीज के लिए इंग्लैंड के क्रिकेटरों के परिवारों पर लगे यात्रा प्रतिबंध का मुद्दा उठाया है. दोनों देशों के प्रधानमंत्री अमेरिका के राजनयिक दौरे के इतर वाशिंगटन डीसी में डिनर पर मिले थे. जहां जॉनसन ने दिसंबर में होने वाली एशेज सीरीज के बारे में आश्वासन मांगा है. जॉनसन ने अमेरिका की राजधानी में पत्रकारों से कहा कि मैंने यह मुद्दा (मॉरिसन के समक्ष) उठाया है और उन्होंने कहा कि वह परिवारों के लिये अपना सर्वश्रेष्ठ करेंगे.

    मॉरिसन ने जबाव में कहा कि मैं जरूर चाहूंगा कि एशेज हो, मैने ब्रिटिश पीएम जॉनसन से बात की है पर हमारे बीच कोई खास डील नहीं हुई है. ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने कहा कि क्रिकेटरों से क्रिसमस के दौरान अपने परिवार से दूर रहने की बात करना बहुत मुश्किल है. एशेज सीरीज का पहला टेस्ट ब्रिसबेन में आठ दिसंबर से शुरू होगा. लेकिन इस दौरे पर अनिश्चितता तब बढ़ गयी थी, जब इंग्लैंड के कई खिलाड़ियों ने दौरे के दौरान लगने वाले कड़े क्वारंटीन के बारे में आपत्ति जताई थी.

    ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि मुझे कुशल श्रमिकों या छात्रों में बहुत अंतर नहीं दिखता है, जो टीकाकरण की निश्चित दर तक पहुंचने पर ऑस्ट्रेलिया आ सकेंगे. ऑस्ट्रेलिया ने इस साल के अंत तक कोरोना को लेकर सीमा और क्वारंटीन नियमों को शिथिल करने की योजना बनाई है. क्योंकि तब तक देश की 80 फीसदी आबादी को कोरोना के दोनों टीके लग चुके होंगे और ऐसे में संक्रमण के फैलने की आशंका कम होगी.

    इस बीच, पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया और क्वींसलैंड के कोरोना मुक्त राज्यों के अधिकारियों ने कहा है कि उन्होंने फिलहाल राज्य की सीमाओं को खोलने के बारे में कोई विचार नहीं किया है. अगर जरूरत पड़ी तो लंबे वक्त तक बॉर्डर बंद रखे जा सकते हैं.

    पिछले महीने इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने कहा था कि उसे एशेज सीरीज के तय समय पर शुरू होने का पूरा भरोसा है. यह सीरीज 8 दिसंबर से प्रस्तावित है और पहला टेस्ट ब्रिस्बेन में खेला जाना है. हालांकि इंग्लिश खिलाड़ियों का कहना है कि अगर उनके परिवार ऑस्ट्रेलिया नहीं जाते हैं तो वे इस दौरे को छोड़ सकते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज