चेतेश्वर पुजारा के समर्थन में खड़े हुए अजिंक्य रहाणे, कप्तान विराट कोहली को दिया 'जवाब'

चेतेश्वर पुजारा के समर्थन में खड़े हुए अजिंक्य रहाणे, कप्तान विराट कोहली को दिया 'जवाब'
रहाणे ने किया पुजारा का बचाव, दिया कोहली को ये जवाब

विराट कोहली ने चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) की धीमी बल्लेबाजी पर सवाल खड़े किए थे, जिस पर अजिंक्य रहाणे ने चुप्पी तोड़ी है

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2020, 5:40 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
क्राइस्टचर्च. न्यूजीलैंड के खिलाफ भारतीय टीम शनिवार से दूसरा टेस्ट खेलेगी लेकिन इस मैच से पहले ही चेतेश्वर पुजारा के मुद्दे पर अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) और विराट कोहली (Virat Kohli) आमने-सामने आ गए हैं. विराट कोहली ने वेलिंगटन टेस्ट में धीमी बल्लेबाजी करने वाले पुजारा पर सवाल खड़े कर दिए थे. अब क्राइस्टचर्च में रहाणे से जब इस मामले पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने पुजारा का बचाव किया. रहाणे ने कहा, 'पुजारा अपनी तरफ से कोशिश कर रहे थे वह असल में रन बनाने पर ध्यान दे रहे थे, लेकिन बोल्ट, साउदी और अन्य गेंदबाजों ने ज्यादा मौके नहीं दिये. यह सभी बल्लेबाजों के साथ होता है. मेरे कहने का मतलब है कि सभी बल्लेबाज इस दौर से गुजरते हैं.'

पुजारा के खिलाफ बोले थे विराट
बता दें कि वेलिंगटन टेस्ट में पुजारा (Cheteshwar Pujara) दोनों पारियों में फ्लॉप रहे थे, उन्होंने पहली और दूसरी पारियों में 11-11 रन बनाए. हालांकि उनकी दूसरी 11 रन की पारी काफी धीमी रही थी. पुजारा ने 11 रन बनाने के लिए 81 गेंद खेली थीं. वेलिंगटन टेस्ट गंवाने के बाद विराट कोहली ने बल्लेबाजों को आक्रामक बल्लेबाजी की सलाह दी थी. विराट कोहली ने इशारों ही इशारों में पुजारा पर निशाना साधते हुए कहा था, 'मुझे लगता है कि बल्लेबाजी इकाई के तौर पर हम जिस भाषा का उपयोग करते हैं, उसे सही करना होगा. मुझे नहीं लगता कि सतर्क होने या बेहद सावधानी बरतने से मदद मिलेगी क्योंकि ऐसे में हो सकता है कि आप अपने शॉट नहीं खेल पाओ.'

विराट (Virat Kohli) ने आगे कहा था, 'आपको संदेह पैदा होगा, अगर इन परिस्थितियों में एक रन भी नहीं बन रहा है, आप क्या करोगे? आप केवल यह इंतजार कर रहे हो कि कब वह अच्छी गेंद आएगी जो आपका विकेट ले लेगी.' आक्रामक रुख अपनाते हुए अगर आप सफल नहीं होते, तो आपको यह स्वीकार करना होगा कि आपकी सोच सही थी आपने कोशिश की लेकिन अगर इससे फायदा नहीं मिला तो उसे स्वीकार करने में कोई बुराई नहीं है.' कप्तान ने अपनी राय को स्पष्ट करते हुए कहा, 'लेकिन मुझे नहीं लगता कि सतर्क रवैये से कभी फायदा मिलता है विशेषकर विदेशी पिचों पर.' अब विराट की इस बात का रहाणे ने जवाब दिया है, उनके मुताबिक न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने अच्छी गेंदबाजी की जिसकी वजह से पुजारा रन नहीं बना सके और ये सभी बल्लेबाजों के साथ हुआ.



न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने विराट कोहली (Virat Kohli) को भी हाथ खोलने के मौके नहीं दिए थे, जिसकी वजह से वो भी दोनों पारियों में फ्लॉप रहे. विराट ने पहली पारी में दो और दूसरी पारी में महज 19 रन बनाए. न्यूजीलैंड के गेंदबाजों की रणनीति ये थी कि किसी भारतीय बल्लेबाज को बाउंड्री लगाने के मौके नहीं दिए जाएं ताकि उन पर दबाव बने और वे विकेट गंवाएं.



कोहली पर भड़के पूर्व कप्तान, कहा-न ओपनिंग का पता, न मध्यक्रम की खबर
First published: February 27, 2020, 5:08 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading