आजीवन बैन झेल रहे इस खिलाड़ी ने बीसीसीआई को भेजा मेल, श्रीसंत से जुड़ा है मामला

आजीवन बैन झेल रहे इस खिलाड़ी ने बीसीसीआई को भेजा मेल, श्रीसंत से जुड़ा है मामला
अंकित चव्हाण ने कहा कि अगर श्रीसंत के प्रतिबंध पर दोबारा विचार किया जा सकता है तो उनके प्रतिबंध पर भी दोबारा विचार करना चाहिए (फाइल फोटो )

2013 में एस श्रीसंत (S Sreesanth) सहित 3 खिलाड़ियों को आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग करने का दोषी पाया था और आजीवन प्रतिबंध लगा दिया गया था. हालांकि बाद में श्रीसंत की सजा को कम कर दिया गया

  • Share this:
मुंबई. इंडियन प्रीमियर लीग 2013 में स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में कथित रूप से शामिल होने के लिए आजीवन प्रतिबंध झेल रहे अंकित चव्हाण (Ankeet Chavan) ने बीसीसीआई (BCCI) और मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) को पत्र लिखकर इसे घटाकर सात साल करने का अनुरोध किया. बीसीसीआई की अनुशासनात्मक समिति ने 2013 में राजस्थान रॉयल्स के तीन खिलाड़ियों पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज एस श्रीसंत (S Sreesanth), चव्हाण और अजीत चंदिला को आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग करने का दोषी पाया था और उन्हें आजीवन प्रतिबंधित कर दिया था, मगर 2015 में दिल्ली में एक ट्रायल कोर्ट ने इन तीनों के खिलाफ सभी आरोप हटा दिए और पिछले साल बीसीसीआई लोकपाल डीके जैन ने श्रीसंत का आजीवन प्रतिबंध घटाकर सात साल कर दिया.

अब श्रीसंत के लिए प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी का मौका है और 34 साल के चव्हाण ने भी बीसीसीआई और अपनी राज्य संस्था एमसीए (mca) को ईमेल भेजा है. इसमें चव्हाण ने अपने प्रतिबंध को घटाकर सात साल करने का अनुरोध किया है ताकि वह जल्द से जल्द क्रिकेट के मैदान पर वापसी कर सकें.

यह भी पढ़ें: 



स्‍टोक्‍स, बटलर सहित पूरी इंग्‍लैंड टीम पर कोरोना का खतरा, देर रात इस खिलाड़ी ने खुद को किया कमरे में 'कैद'
कप्‍तान बनने के बाद पाकिस्‍तानी खिलाड़ी का बड़ा बयान, कहा- विराट कोहली से अच्‍छा इन खिलाड़ियों से करें मेरी तुलना
बीसीसीआई ने नहीं मिला कोई जवाब
चव्हाण ने पीटीआई-भाषा से कहा कि मैं बीसीसीआई से इसी आधार पर अनुरोध करता हूं कि अगर श्रीसंत के प्रतिबंध पर दोबारा विचार किया जा सकता है तो कृपया मेरे प्रतिबंध पर भी दोबारा विचार कीजिए. उन्होंने लिखा कि मुझे बीसीसीआई से कोई जवाब नहीं मिला, इसलिए मुझे अपनी राज्य संस्था को लिखना पड़ा जो एमसीए है. इसलिये मैंने इसी आधार पर लिखा है. मैं संघ से मेरे मामले को बीसीसीआई के समक्ष पेश करने का अनुरोध करता हूं ताकि मेरे प्रतिबंध पर दोबारा विचार किया जा सके.
भारत के तेज गेंदबाज एस श्रीसंत (S Sreesanth) अगामी रणजी सीजन में केरल की ओर से खेलते दिख सकते हैं. खबरों के मुताबिक केरल क्रिकेट एसोसिएशन ने इस बात का फैसला किया है कि अगर श्रीसंत (S Sreesanth) अपनी फिटनेस साबित करते हैं तो रणजी टीम के लिए चुना जा सकता है. श्रीसंत साल 2013 में आईपीएल (IPL) में हुई फिक्सिंग के बाद लगे बैन के कारण सात साल से क्रिकेट के मैदान से दूर हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading