एशेज सीरीज: लॉर्ड्स टेस्ट में मिचेल स्टार्क को मौका देगा ऑस्ट्रेलिया?

पूर्व तेज गेंदबाज मिचेल जॉनसन(Mitchell Johnson) ने एशेज सीरीज के दूसरे टेस्ट में मिचेल स्टार्क(Mitchell Starc) को मौका देने की बात कही है

News18Hindi
Updated: August 13, 2019, 11:20 PM IST
एशेज सीरीज: लॉर्ड्स टेस्ट में मिचेल स्टार्क को मौका देगा ऑस्ट्रेलिया?
एशेज सीरीज: लॉर्ड्स टेस्ट में मिचेल स्टार्क को मौका देगा ऑस्ट्रेलिया?
News18Hindi
Updated: August 13, 2019, 11:20 PM IST
बुधवार से लॉर्ड्स में शुरू हो रहे एशेज सीरीज(Ashes Series) के दूसरे टेस्ट में मिचेल स्टार्क(Mitchell Starc) को प्लेइंग इलेवन में मौका मिलेगा या नहीं ये एक बड़ा सवाल है. पहले टेस्ट में स्टार्क को मौका नहीं मिला था, उनकी जगह पैटिंसन को टीम में जगह दी गई थी. हालांकि इस बार पैटिंसन लॉर्ड्स टेस्ट से बाहर किए गए हैं ऐसे में जोश हेजलवुड (Josh Hazlewood) और मिचेल स्टार्क (Mitchell Starc) में से कोई एक गेंदबाज प्लेइंग इलेवन में जगह बना सकता है. हालांकि ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज मिचेल जॉनसन ने स्टार्क पर दांव लगाया है.

लॉर्ड्स का स्लोप है वजह?
जॉनसन ने स्टार्क (Mitchell Starc) को मौका देने के पीछे लॉडर्स में 2.5 मीटर के स्लोप को कारण बताया है. जॉनसन ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से बातचीत करते हुए कहा, 'मैं स्टार्क को टीम में चुनूंगा और शायद पैटिनसन को बाहर रखूंगा. मैं जोश हेजलवुड को खेलते देखना चाहता हूं और आप पीटर सिडल को बाहर नहीं कर सकते.' उन्होंने कहा, "वह (स्टार्क) काफी उपयोगी रहे हैं. खासकर स्लोप पर मुझे लगता है कि वह ज्यादा असरदार रहेंगे. उन्हें ऑफ स्पिनर नाथन लॉयन का समर्थन भी अच्छे से मिलेगा. कमिंस अपनी दुनिया में हैं उन्हें टीम में रहने दें.'

मिचेल स्टार्क पहले टेस्ट में नहीं खेले थे.


जॉनसन ने माना कि विजयी टीम में बदलाव करना मुश्किल हो सकता है लेकिन फिर भी वह स्टार्क (Mitchell Starc) को टीम में देखना चाहते हैं. पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा, 'विजयी टीम में बदलाव करना मुश्किल होता लेकिन मैं स्टार्क को टीम में आते हुए देखना चाहता हूं. स्लोप उनकी मदद करेगा, वह बाएं हाथ के गेंदबाज हैं तो उनके पास एक अलग ऐंगल है.' जॉनसन ने आगे कहा, 'हमने पहले टेस्ट मैच में देखा था कि ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज राउंड दा विकेट से आकर अच्छी गेंदबाजी कर रहे थे. मैं इस मैच में इसे लेकर आश्वस्त नहीं हूं. किसी एक गेंदबाज को ओवर द विकेट रहना होगा और एक को बाएं हाथ के बल्लेबाजों के लिए रहना होगा. इसलिए मुझे लगता है कि बाएं हाथ का गेंदबाज टीम में होना चाहिए.'

टीम इंडिया पर मंडरा रहा बड़ा खतरा, ये टीम छीन सकती है बादशाहत

क्विंटन डीकॉक बने साउथ अफ्रीका के टी20 कप्तान
First published: August 13, 2019, 10:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...