27 साल की उम्र में खत्म हो गया था करियर, आर्चर ने चुना उसी खिलाड़ी का जर्सी नंबर...जानिए क्यों?

एशेज सीरीज में शानदार गेंदबाजी से सुर्खियां बटोर रहे जोफ्रा आर्चर 22 नंबर की जर्सी पहनते हैं जिसे चुनने की कहानी बेहद दिलचस्प है

News18Hindi
Updated: August 29, 2019, 1:37 PM IST
27 साल की उम्र में खत्म हो गया था करियर, आर्चर ने चुना उसी खिलाड़ी का जर्सी नंबर...जानिए क्यों?
आर्चर ने क्यों चुना इस खिलाड़ी का जर्सी नंबर?
News18Hindi
Updated: August 29, 2019, 1:37 PM IST
इन दिनों चारों ओर जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) की गेंदबाजी ने धूम मचा रखी है. जोफ्रा आर्चर ने लॉर्ड्स के बाद लीड्स टेस्ट में जिस तरह की गेंदबाजी की उसने फैंस को उनका मुरीद बना दिया है. जोफ्रा आर्चर की जीवन की कहानी बेहद दिलचस्प है. वो वेस्टइंडीज में जन्मे, उन्होंने वहां क्रिकेट भी खेला लेकिन आज वो इंग्लैंड की टीम में हैं और उसे वर्ल्ड चैंपियन भी बना चुके हैं. वैसे आर्चर की जर्सी की कहानी भी गजब है. बता दें जोफ्रा आर्चर 22 नंबर की जर्सी पहनते हैं और ये उनका फेवरेट नंबर है, वो इंग्लैंड के लिए इसी नंबर की जर्सी पहनकर खेलना चाहते थे और इसकी वजह था इंग्लैंड को वो धुआंधार बल्लेबाज जिसका करियर सिर्फ 27 साल की उम्र में खत्म हो गया.

कीसवैटर थे आर्चर के हीरो
हम बात कर रहे हैं इंग्लैंड के पूर्व विकेटकीपर और ओपनर कीस वैटर (Craig Kieswetter )की जो जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) के हीरो हुआ करते थे. जोफ्रा आर्चर जब 15 साल के थे तो वो कीसवैटर की बल्लेबाजी के फैन थे. कीसवैटर ने अपनी धमाकेदार बल्लेबाजी से साल 2010 में इंग्लैंड को वर्ल्ड टी20 में जीत दिलाई थी. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खिताबी मुकाबले में कीसवैटर ने 49 गेंदों में 63 रनों की पारी खेली थी और इंग्लिश टीम ने 148 रनों का लक्ष्य हासिल कर पहली बार कोई आईसीसी टूर्नामेंट जीता था.

आर्चर ने चुना कीसवैटर की जर्सी का नंबर 22


साल 2010 में जोफ्रा आर्चर महज 15 साल के थे और वो ये फाइनल मुकाबला देख रहे थे. कीसवैटर (Craig Kieswetter ) की बल्लेबाजी देख आर्चर (Jofra Archer) उनके फैन बन गए और उन्होंने ये फैसला किया कि अगर वो कभी इंटरनेशनल क्रिकेट खेलेंगे तो कीसवैटर की जर्सी नंबर 22 पहनकर ही खेलेंगे.

27 साल की उम्र में खत्म हो गया कीसवैटर का करियर
कीसवैटर (Craig Kieswetter ) इंग्लैंड के लिए शानदार प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन साल 2014 में डोमेस्टिक मैच के दौरान एक गेंद उनकी आंख में लग गई और वो बुरी तरह चोटिल हो गए. गेंद लगने से कीसवैटर की आंख की रोशनी भी कम हो गई और इसके बाद उन्होंने महज 27 साल की उम्र में क्रिकेट से संन्यास ले लिया. कीसवैटर ने इंग्लैंड के लिए 46 वनडे और 25 टी20 मैच खेले.
Loading...

एशेज सीरीज- आर्चर ने 2 टेस्ट में 13 विकेट ले लिए हैं


इसके बाद जब जोफ्रा आर्चर  (Jofra Archer) को इस साल इंग्लैंड से डेब्यू का मौका मिला तो उन्होंने 22 नंबर की जर्सी पहनने के लिए कीसवैटर से बात करने की सोची, उन्हें लगा था कि कीसवैटर ने अबतक संन्यास नहीं लिया है और वो इस जर्सी को पहनने से पहले उनकी इजाजत लेंगे. हालांकि इसके बाद आर्चर को पता चला कि कीसवैटर संन्यास ले चुके हैं और आर्चर ने जर्सी नंबर 22 चुनी जो कि उनके लिए लकी भी साबित हो रही है. आर्चर ने आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप में 20 विकेट लिए वो इंग्लैंड के सबसे कामयाब गेंदबाज रहे. आर्चर का इकॉनमी रेट भी 4.57 रहा. मौजूदा एशेज सीरीज के दो टेस्ट मैचों में भी आर्चर ने 2 टेस्ट में 13 विकेट ले लिए हैं.

पिता ने करगिल युद्ध में पाकिस्तान को सिखाया सबक, बेटा है धोनी जैसा विकेटकीपर और मैच फिनिशर!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 29, 2019, 1:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...