Home /News /sports /

आशीष नेहरा के निशाने पर विराट कोहली, बोले- सिर्फ रहाणे-पुजारा की फॉर्म पर क्यों हो रही बात, जब कप्तान...

आशीष नेहरा के निशाने पर विराट कोहली, बोले- सिर्फ रहाणे-पुजारा की फॉर्म पर क्यों हो रही बात, जब कप्तान...

IND vs SA: आशीष नेहरा अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा के समर्थन में आए हैं (AFP)

IND vs SA: आशीष नेहरा अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा के समर्थन में आए हैं (AFP)

India vs South Africa: पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा (Ashish Nehra) ने कहा है कि भारतीय टेस्ट टीम में अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) और चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) की स्थिति पर सवाल नहीं उठाया जाना चाहिए. पुजारा और रहाणे दोनों ही लगातार फ्लॉप साबित हो रहे हैं, जिसकी वजह से उनपर अब सवाल उठने लगे हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारतीय टीम में निराशाजनक प्रदर्शन को लेकर चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) और अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) पर दबाव बना हुआ है. कई प्रशंसकों और पूर्व क्रिकेटरों ने दोनों खिलाड़ियों को प्लेइंग इलेवन से बाहर कर दूसरे खिलाड़ियों को मौका देने की पैरवी की है. वहीं, भारत के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा (Ashish Nehra) इससे अलग सोचते हैं, क्योंकि भारत के टेस्ट कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की संख्या भी पुजारा और रहाणे के समान ही है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट (India vs South Africa) की पहली पारी में पुजारा और रहाणे एक बार फिर से फ्लॉप रहे.

    मध्यक्रम में भारत का संघर्ष किसी से छिपा नहीं है, और यह दिग्गजों यानी रहाणे और पुजारा की जोड़ी है, जिसने प्रशंसकों को सबसे अधिक चकित किया है. हालांकि, अगर आंकड़ों की बात की जाए तो तो रहाणे और पुजारा को कोहली से अलग नहीं किया जा सकता है. आशीष नेहरा ने क्रिकबज से कहा, ”विराट कोहली के भी इतने ही नंबर हैं, लेकिन लोग टीम में उनकी जगह पर सवाल नहीं उठा रहे हैं. जाहिर है, वह कप्तान हैं और कोहली ने जो किया है वह उन दो बल्लेबाजों से बिल्कुल अलग स्तर पर है, जिनके बारे में हम बात कर रहे हैं. तुलना करना उचित नहीं है, लेकिन रहाणे और पुजारा भी अपने चरम पर किसी से पीछे नहीं रहे, खासकर बाद वाले.”

    वर्ल्ड टेस्ट चैंपियन मुश्किल में, 17 मैच से नहीं हारे, पर दुनिया की 9वें नंबर की टीम ने दिखाए तारे

    वास्तव में विराट कोहली का 2020 की शुरुआत से टेस्ट औसत केवल 26.08 है. पिछले दो साल में भी उनके नाम कोई शतक नहीं है. इसकी तुलना में रहाणे और पुजारा का औसत भी इसी अवधि में 25 के आसपास है. 2019 के अंत में 54.01 का औसत रखने वाले कोहली ने 2021 के अंत तक अपने करियर का औसत 50.34 पर आते देखा है. यहां तक ​​कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट में भी कोहली ने दो पारियों में 35 और 18 के स्कोर दर्ज किए.

    भारतीय क्रिकेट के महान खिलाड़ी सुनील गावस्कर उन लोगों में से एक थे, जिन्हें लगता है कि जोहानिसबर्ग टेस्ट रहाणे और पुजारा के लिए आखिरी मौका हो सकता है. हालांकि, नेहरा का मानना ​​है कि इस जोड़ी को शेष सीरीज के लिए बनाए रखने की जरूरत है. नेहरा ने कहा, ”यदि आपने पहले टेस्ट के लिए रहाणे जैसे खिलाड़ी का समर्थन किया है, तो बेहतर होगा कि बाकी सीरीज के लिए उसके साथ बने रहें. जाहिर है, रहाणे वह थे जो (आधिकारिक तौर पर चोट के कारण) आउट हुए थे, जब कोहली न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के लिए वापस आए, हालांकि उन्होंने पहले टेस्ट में टीम का नेतृत्व किया था.”

    IND vs SA: विराट के दूसरा टेस्ट नहीं खेलने पर मांजरेकर हैरान बोले- दिमाग में कई तरह के ख्याल आ रहे

    उन्होंने कहा, ”सहमत, पुजारा और रहाणे दोनों हाल ही में बड़ी मुसीबत में रहे हैं, लेकिन अहम सीरीज के बीच में खिलाड़ियों को बदलना एक बड़ा फैसला है.” रहाणे और पुजारा का भविष्य क्या है? यह केवल भारतीय टीम प्रबंधन और चयनकर्ता ही जानते हैं. लेकिन, ऐसा लगता है कि इस जोड़ी के पास ज्यादा समय नहीं है.

    Tags: Ajinkya Rahane, Ashish nehra, Cheteshwar Pujara, Cricket news, India vs South Africa, Virat Kohli

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर