लाइव टीवी

जसप्रीत बुमराह को आशीष नेहरा की चेतावनी- मत करना यह बदलाव नहीं तो...

भाषा
Updated: September 29, 2019, 5:29 PM IST
जसप्रीत बुमराह को आशीष नेहरा की चेतावनी- मत करना यह बदलाव नहीं तो...
जसप्रीत बुमराह स्‍ट्रेस फ्रेक्‍चर के चलते टीम इंडिया से बाहर हुए हैं.

जसप्रीत बुमराह पीठ के निचले हिस्से में दर्द के कारण दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला के अलावा भारत के बांग्लादेश दौरे से बाहर हो गए हैं.

  • भाषा
  • Last Updated: September 29, 2019, 5:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: भारत के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा (Ashish Nehra) ने रविवार को कहा कि जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) के कमर के निचले हिस्से में लगी चोट (Stress Fracture) उनके अलग तरह के एक्शन के कारण नहीं है. बुमराह पीठ के निचले हिस्से में दर्द के कारण दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला के अलावा भारत के बांग्लादेश दौरे से बाहर हो गए हैं. उनके चोट का सही समय पर पता चल गया जिससे वह दो महीने तक टीम से बाहर रहेंगे.

अपना एक्‍शन न बदलें बुमराह
बाएं हाथ के पूर्व तेज गेंदबाज नेहरा ने उम्मीद जताई कि बुमराह वापसी के बाद भी मारक गेंदबाज बने रहेंगे. नेहरा ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘हमें इस बात को समझ लेना चाहिए कि स्ट्रेस फ्रैक्चर का एक्शन से कुछ लेना देना नहीं है. उन्हें अपने एक्शन में बदलाव करने की कोई जरूरत नहीं है. अगर उन्होंने ऐसा करने की कोशिश की तो इससे उनकी गेंदबाजी प्रभावित होगी. मैं आपको इस बात का आश्वासन दे सकता हूं कि वह वापसी के बाद भी इसी एक्शन, गति और सटीकता के साथ दमदार गेंदबाज बने रहेंगे.’

jasprit bumrah injury, ashish nehra, bumrah stress fracture, ashish nehra bumrah, जसप्रीत बुमराह चोट, आशीष नेहरा, नेहरा बुमराह,
जसप्रीत बुमराह के साथ आशीष नेहरा.


मलिंगा से 10 गुना बेहतर है बुमराह का एक्‍शन
उन्होंने कहा, ‘बुमराह का एक्शन उतना भी अलग नहीं है जितना समझा जाता है. गेंद फेंकने के समय उनके शरीर बिलकुल सही स्थिति में होता है. बुमराह को जो बात दूसरे गेंदबाजों से अलग बनाती है वह ये है कि गेंदबाजी के समय उनका बायां हाथ ज्यादा ऊपर नहीं जाता है. इसके बावजूद भी श्रीलंका के लसिथ मलिंगा की तुलना में उनका एक्शन 10 गुना बेहतर है. मलिंगा का घुटना और पिछला पैर भाला फेंकने वाले खिलाड़ी की तरह झुक जाता है.’

स्ट्रेस फ्रैक्चर से वापसी की कोई समयसीमा नहीं
Loading...

अपने करियर में कई बार चोट के कारण परेशानी झेलने वाले नेहरा ने कहा कि वापसी के लिए कोई समय सीमा तय करना ठीक नहीं. उन्होंने कहा, ‘स्ट्रेस फ्रैक्चर के मामले में ठीक होने की कोई समय सीमा नहीं होती है. जसप्रीत (बुमराह) दो महीने में ठीक हो सकते हैं या फिर छह महीने तक मैदान से दूर रह सकते हैं. यह सिर्फ खिलाड़ी ही बता सकता है कि वह मैच के लिए तक पूरी तरह से फिट है.’

नेहरा ने कहा कि इससे निपटने के लिए रिहैब्लिटेशन की जरूरत होती है क्योंकि ऑपरेशन से इसका कोई इलाज नहीं. उन्होंने कहा, ‘स्ट्रेस फ्रैक्चर के लिए कोई दवा नहीं होती. यह सिर्फ विश्राम और रिहैब्लिटेशन से ठीक हो सकता है.’

क्‍या रवि शास्‍त्री से छिन जाएगा टीम इंडिया का कोच पद? इस आरोप से मंडराया खतरा

श्रीसंत का बड़ा खुलासा- पांच बार मन में आया खुद को खत्म कर लूं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 5:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...