420 विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज के बयान ने मचाई सनसनी, कहा- सुशांत सिंह राजपूत...

अशोक डिंडा ने खुद को बंगाल क्रिकेट की राजनीति का शिकार करार दिया है (फाइल फोटो)

इस भारतीय गेंदबाज ने कहा कि ये दुनिया मतलबी है. उन्‍होंने खुद के लिए कहा कि वो मानसिक रूप से मजबूत हैं और किसी की वजह से टूट नहीं सकते.

  • Share this:
    कोलकाता. बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आत्‍महत्‍या ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है. माना जा रहा है कि वह डिप्रेशन के शिकार थे और इसका कारण बॉलीवुड का नेपोटिज्म था. हालांकि इस दर्दनाक हादसे के बाद इन दिनों मेंटल हेल्‍थ और नेपोटिज्‍म पर खुलकर बात हो रही है. सिर्फ बॉलीवुड ही नहीं हर फील्‍ड से आवाजें आने लगी हैं. बंगाल के क्रिकेटर अशोक डिंडा ने तो यहां तक कह दिया है सुशांत सिंह राजपूत जिस दौर से गुजरे थे, वैसी हालत सब जगह हैं. उन्‍होंने खुद के लिए कहा कि वो मानसिक रूप से मजबूत हैं और टूट नहीं सकते.

    दरअसल रणजी ट्रॉफी के पिछले सीजन के दौरान अनुशासनात्मक कारणों के चलते डिंडा को बीच में ही बाहर कर दिया गया था. तेज गेंदबाज अशोक डिंडा ने खुद को बंगाल क्रिकेट की राजनीति का शिकार करार दिया और कहा कि वह इस सत्र में एक नई टीम के साथ दमदार वापसी करेंगे.

    कोच के साथ हुई थी झड़प
    उत्पल चटर्जी के बाद बंगाल की तरफ से सर्वाधिक विकेट लेने वाले डिंडा को गेंदबाजी कोच राणादेब बोस के साथ तीखी झड़प के बाद टीम से बाहर कर दिया गया था. बंगाल ने इस विवाद को पीछे छोड़ते हुए फाइनल में जगह बनाई और उप विजेता रहा. डिंडा ने पीटीआई-भाषा से कहा कि उनकी कुछ टीमों के साथ बात चल रही है और वह बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) के पास जल्द ही अनापत्ति प्रमाणपत्र के लिए आवेदन कर देंगे. 116 फर्स्‍ट क्‍लास मैचों में 420 विकेट लेने वाले डिंडा ने कहा कि मैं बंगाल की टीम का हिस्सा नहीं रहूंगा, यह पक्का है. यह फैसला मैंने पिछले सत्र में ही कर दिया था. यह मेरा निजी मसला है.

    मानसिक रूप से मजबूत
    उन्होंने कहा कि सबने देखा कि सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) किस दौर से गुजरे थे. सब जगह यही हाल है, लेकिन मैं मानसिक रूप से मजबूत हूं और किसी की वजह से मैं टूट नहीं सकता. भारत की तरफ से 13 वनडे और नौ टी20 अंतरराष्ट्रीय खेलने वाले डिंडा ने कहा कि मैं किसी अन्य राज्य की तरफ से खेलूंगा. मेरी कुछ टीमों से चर्चा चल रही है लेकिन मैंने अभी फैसला नहीं किया है कि अगले सत्र में मैं किस टीम का प्रतिनिधित्व करूंगा. डिंडा पर बंगाल के गेंदबाजी कोच बोस के लिए अपशब्दों का उपयोग करने का आरोप है. बोस बंगाल के पूर्व तेज गेंदबाज हैं जिन्होंने 91 मैचों में 317 विकेट लिए. डिंडा ने माफी मांगने से मना कर दिया और उन पर टीम के अंदर मतभेद पैदा करने का आरोप भी लगाया गया.

    आत्‍महत्‍या करना चाहता था 2 वर्ल्‍ड कप जीतने वाला ये भारतीय क्रिकेटर, कहा-लाइट बंद करने में भी लगता था डर

    फादर्स डे पर कोहली की बड़ी बात, कहा- आगे बढ़ने के लिए हमेशा अपने रास्‍ते की तलाश करें, पिता...

    स्‍वार्थी है ये दुनिया
    उन्होंने कहा कि मैं इस कोचिंग स्टाफ के साथ यहां खेलने से खुश नहीं हूं. मेरे साथ जिस तरह से व्यवहार किया गया. मुझे कुछ नहीं कहना है. मैंने उनके लिए अपना सर्वश्रेष्ठ दिया और अब मेरा कोई उपयोग नहीं है. यह दुनिया स्वार्थी है. उन्होंने कहा कि मुझे निश्चित तौर पर घरेलू टीम की कमी खलेगी. मुझे पिछले साल भी उसकी कमी खली थी, लेकिन मेरे अपने पूर्व साथियों के साथ अच्छे संबंध हैं. डिंडा ने कहा कि कभी कभी मैं दादा (सौरव गांगुली) से भी बात करता हूं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.