होम /न्यूज /खेल /Asia Cup: पाकिस्तान से मिली एक हार से बदला टीम इंडिया का खेलने का अंदाज, अब पहली गेंद से करती है विरोधी पर प्रहार

Asia Cup: पाकिस्तान से मिली एक हार से बदला टीम इंडिया का खेलने का अंदाज, अब पहली गेंद से करती है विरोधी पर प्रहार

Asia cup 2022: पाकिस्तान से पिछले साल टी20 विश्व कप में मिली हार के बाद रोहित शर्मा की टीम इंडिया ने टी20 में खेलने का अंदाज बदला है. (Indian cricket team instagram)

Asia cup 2022: पाकिस्तान से पिछले साल टी20 विश्व कप में मिली हार के बाद रोहित शर्मा की टीम इंडिया ने टी20 में खेलने का अंदाज बदला है. (Indian cricket team instagram)

Asia cup 2022: भारत और पाकिस्तान की टीमें 10 महीने बाद एक बार फिर दुबई में आमने-सामने होंगी. इस बार टक्कर एशिया कप में ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

एशिया कप में भारत-पाकिस्तान का मुकाबला 28 अगस्त को होगा
रोहित-राहुल की अगुआई में भारत का टी20 खेलने का अंदाज बदला
अब टीम इंडिया पहले बल्लेबाजी करते हुए ज्यादा टी20 जीत रही

नई दिल्ली. विरोधी पाकिस्तान, जंग का मैदान दुबई… एक साल पहले, इसी समीकरण ने टीम इंडिया और उसके फैंस को कभी न भूलने वाला दर्द दिया था. तब टी20 वर्ल्ड कप में भारत को पाकिस्तान से हार झेलनी पड़ी थी. इस एक हार के कारण भारत का सफर टी20 विश्व कप में जल्दी खत्म हो गया था. इस मैच में रोहित शर्मा, विराट कोहली और केएल राहुल के आउट होने के बाद टीम इंडिया बैकफुट पर चली गई थी और पूरे मैच में आक्रामक के बजाए रक्षात्मक क्रिकेट खेली. नतीजा उसे 151 रन बनाने के बावजूद 10 विकेट से हार झेलनी पड़ी. इस एक हार ने भारतीय क्रिकेट टीम को अपने टी20 क्रिकेट खेलने के अंदाज में बदलाव के लिए सोचने पर मजबूर कर दिया.

अब टीम इंडिया नए कप्तान और कोच के साथ इस रविवार को फिर पाकिस्तान का सामना करेगी. यह टीम पिछले साल यूएई में हुए टी20 विश्व कप से बहुत अलग नहीं होगी. लेकिन, उसके टी20 क्रिकेट खेलने का अंदाज बिल्कुल बदल गया है. पाकिस्तान से मिली उस एक हार के बाद भारतीय टीम अब टी20 में विरोधी टीम पर पहली ही गेंद से प्रहार करती है. इसका असर भी अब नजर आने लगा है. जो टीम विराट कोहली-रवि शास्त्री के दौर में रनचेज में बेस्ट थी. रोहित-राहुल के दौर में भी टीम इंडिया लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत रही है. लेकिन, अब टीम इंडिया पहले बल्लेबाजी करते हुए भी विरोधी टीमों की नींद उड़ा रही है.

टी20 विश्व कप के बाद से टीम इंडिया का अंदाज बदला

रवि शास्त्री और विराट कोहली के समय 2020 से 2021 के टी20 वर्ल्ड कप तक भारत ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 8 में से 7 टी20 मैच जीते थे. लेकिन, पहले बैटिंग करते हुए हम 15 में से सिर्फ 7 मैच जीते थे. यानी 40 फीसदी से कुछ अधिक. लेकिन, टी20 विश्व कप के बाद जब रोहित ने टीम इंडिया की कमान संभाली और राहुल द्रविड़ हेड कोच के तौर पर जुड़े तो टी20 में हमारा खेलने का अंदाज बदल गया. इसी का नतीजा है कि पहले बल्लेबाजी करते हुए भी टीम इंडिया के प्रदर्शन में काफी सुधार हुआ है.

अब टीम इंडिया पहले बल्लेबाजी करते हुए जीत रही

भारत ने विश्व कप के बाद से पहले बल्लेबाजी करते हुए 12 मैच जीते हैं जबकि 3 में उसे हार मिली है. इसका कारण भारत की बल्लेबाजी अप्रोच में हुआ बदलाव है. टीम इंडिया ने जनवरी 2020 से टी20 विश्व कप तक पावरप्ले में जहां 7.53 के रन रेट से रन बनाए थे. वहीं, विश्व कप के बाद से पहले बल्लेबाजी करते हुए 8.95 यानी करीब 9 रन प्रति ओवर बनाए. वहीं, स्लॉग ओवर में भी रन बनाने की रफ्तार में बदलाव हुआ है. टी20 विश्व कप से पहले भारत 10.76 रन प्रति ओवर के रेट से आखिरी के ओवर में रन बना रहा था. लेकिन, टी20 विश्व कप के बाद से यानी रोहित शर्मा के कप्तान बनने के बाद यह औसत 11.26 हो गया है. यानी भारतीय टीम स्लॉग ओवर में हर ओवर में 11 रन से अधिक बना रही है.

विराट कोहली 2282 vs रोहित शर्मा 2282; 32 महीने में बनाए बराबर रन, पर एक उम्मीद और दूसरा समझा जा रहा बोझ!

IND vs PAK: ‘यह किसी भी टीम को तहस-नहस कर सकते…’ पाकिस्तानी कोच की भारतीय बल्लेबाजों को चेतावनी

Tags: Asia cup, ICC T20 World Cup 2021, India Vs Pakistan, Rahul Dravid, Ravi shastri, Rohit sharma, Virat Kohli

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें