Home /News /sports /

Asia Cup Final: युजवेंद्र चहल पर चिल्लाए रवींद्र जडेजा, धोनी भी रह गए सन्न!

Asia Cup Final: युजवेंद्र चहल पर चिल्लाए रवींद्र जडेजा, धोनी भी रह गए सन्न!

Asia Cup, Final: युजवेंद्र चहल पर चिल्लाए रवींद्र जडेजा, धोनी भी रह गए सन्न!

Asia Cup, Final: युजवेंद्र चहल पर चिल्लाए रवींद्र जडेजा, धोनी भी रह गए सन्न!

बांग्लादेश के ओपनर्स ने 120 रनों की साझेदारी की.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    एशिया कप के फाइनल में कुछ ऐसा देखने को मिला, जिसके बारे में शायद भारतीय फैंस ने कभी नहीं सोचा होगा. बांग्लादेश के खिलाफ खिताबी मुकाबले में युजवेंद्र चहल ने एक ऐसी गलती कर दी जिसके बाद रवींद्र जडेजा उनसे बेहद नाराज होकर चिल्ला दिए. वहीं यह सब देख रहे विकेटकीपर एमएस धोनी भी युजवेंद्र की गलती से सन्न रह गए. दरअसल युजवेंद्र चहल ने जडेजा की गेंद पर बांग्लादेश के ओपनर लिट्टन दास का कैच छोड़ दिया, जो कि टीम इंडिया को खासा महंगा पड़ गया.

    युजवेंद्र चहल की गलती
    12वें ओवर में रोहित शर्मा ने जडेजा को अटैक पर लगाया. लिट्टन दास ने चौका लगाकर जडेजा का स्वागत किया और अपना पहला अर्धशतक भी ठोका. हालांकि तीसरी गेंद पर जडेजा की गेंद पर लिट्टन दास ने हवा में शॉट खेला और युजवेंद्र ने उनका कैच टपका दिया. ये देखकर जडेजा काफी नाराज हो गए. युजवेंद्र चहल की इस गलती की वजह से बांग्लादेश के ओपनर्स ने 120 रनों की धमाकेदार साझेदारी कर ली.



    फाइनल में टीम इंडिया के खिलाफ शतकीय साझेदारी बेहद बुरी खबर है क्योंकि इससे पहले टूर्नामेंट के फाइनल में टीम इंडिया के खिलाफ कुल 5 साझेदारियां हुई हैं और वो हर बार मैच हारी है. वहीं 27 वनडे मैचों के बाद बांग्लादेश के ओपनर्स ने शतकीय साझेदारी की है. साल 2016 में आखिरी बार ऐसा हुआ था.

    बता दें भारत के खिलाफ फाइनल में बांग्लादेश की ये अबतक की सबसे बड़ी साझेदारी है. इससे पहले 2015 में सौम्या सरकार और तमीम इकबाल ने भारत के खिलाफ 102 रन जोड़े थे.

    मां दुर्गा के भक्त हैं बांग्लादेश के ओपनर लिट्टन दास, एशिया कप फाइनल में किया कमाल!

    Tags: Asia cup, Bangladesh, Indian Cricket Team, Ravindra jadeja, Rohit sharma

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर