अपना शहर चुनें

States

IND vs AUS: ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने जमकर बरसाए बाउंसर, दर्द में भी 'दीवार' बने रहे पुजारा

IND vs AUS, 4th Test: ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने चेतेश्वर पुजारा को टारगेट किया (PIC: AP)
IND vs AUS, 4th Test: ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने चेतेश्वर पुजारा को टारगेट किया (PIC: AP)

IND vs AUS, 4th Test: गाबा में अंतिम टेस्ट के पांचवें दिन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने चेतेश्वर पुजारा को भरपूर आतंकित करने की कोशिश की. गेंदें उनकी पसलियों, कंधों, उंगलियों और हेल्मेट पर लगीं, लेकिन वह बिना खौफ के क्रीज पर डटे रहे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 19, 2021, 11:53 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी (Border Gavaskar Trophy) का चौथा और अंतिम मैच ब्रिस्बेन के गाबा में खेला जा रहा है. मैच का आज (मंगलवार) पांचवां दिन है. शुभमन गिल (Shubman Gill) के अर्धशतक और क्रीज पर 'दीवार' बने चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने भारत की जीत की उम्मीद को जगा दिया है. मैच के पांचवें दिन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज भारतीय बल्लेबाजों को आउट करने के साथ-साथ उन्हें डराने की भी पूरी कोशिश में जुटे हुए हैं. इसी कड़ी में पुजारा को ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने अपने बाउंसरों का शिकार बनाया.

गाबा में अंतिम टेस्ट के पांचवें दिन ऑस्ट्रेलियन गेंदबाजों ने चेतेश्वर पुजारा को भरपूर आतंकित करने की कोशिश की. गेंदें उनकी पसलियों, कंधे, उंगलियों और हेल्मेट पर लगीं, लेकिन वह बिना खौफ के क्रीज पर डटे रहे. उन्होंने पूरे ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर मजबूती का शानदार प्रदर्शन किया. भारत को मैच के पांचवें दिन जीत के लिए 324 रन बनाने थे ताकि वे 2-1 से सीरीज में जीत हासिल कर सकें.

IND vs AUS: गावस्कर ने रहाणे और कंपनी को दिया ट्रिब्यूट, बोले- हम भारतीय वास्तव में अपने क्रिकेटरों पर गर्व करेंगे



IND vs AUS: शुभमन गिल ने ब्रिस्बेन में जगाई जीत की उम्मीद, ऑस्ट्रेलिया दौरे की खोज कहे जा रहे
उधर, ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज भी जानते थे कि अगर उन्हें जीतना है तो चेतेश्वर पुजारा को पवेलियन भेजना होगा. लिहाजा पैट कमिंस और जोश हेजलवुड ने खासतौर पर पुजारा को टारगेट बनाया. पहले सेशन के अंत में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने शॉर्ट बॉल की तकनीक का इस्तेमाल किया. ताकि पुजारा को आउट किया जा सके. लेकिन पुजारा ने अपने शरीर पर सारे आक्रमण आसानी से झेले.
शुमभन गिल ने शॉर्ट बॉल पर हमला करने की रणनीति बनाई. इस युवा बल्लेबाज ने अपनी आक्रामक शैली से ऑस्ट्रेलियाई हमले को नेस्तनाबूद कर दिया. हेजलवुड ने पुजारा को एक बाउंसर मारा. इससे पहले पुजारा ने उन्हें गेंद फेंकने से रोक दिया था, क्योंकि एक तितली उन्हें परेशान कर रही थी. इस पेसर ने अगली ही गेंद पर एक खतरनाक बाउंसर फेंका. दूसरे सेशन में भी तेज गेंदबाज लगातार शॉर्ट बाल फेंकते रहे. ट्विटर यूजर्स ने पुजारा की साहसिक बल्लेबाजी की जमकर प्रशंसा की.


बता दें कि सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल अपने पहले टेस्ट शतक से चूक गए, लेकिन उनकी आकर्षक अर्धशतकीय पारी से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच के पांचवें और आखिरी दिन मंगलवार को भारत की जीत की उम्मीद जग गई है. सुबह पहले सेशन में रोहित शर्मा 07 रन बनाकर आउट हुए. इसके बाद गिल ने 91 रन की शानदार पारी खेली. अजिंक्य रहाणे 24 रन की तेजतर्रार पारी खेलकर आउट हुए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज