अपना शहर चुनें

States

India vs Australia: टीम इंडिया की ऐतिहासिक जीत पर बोले ऑस्ट्रेलियाई अखबार- न कोई बहाना, न जवाब

भारत ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में 2-1 से जीत हासिल की.
भारत ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में 2-1 से जीत हासिल की.

India vs Australia: एडिलेड में अपने न्यूनतम टेस्ट स्कोर 36 रन पर आउट होने के बाद भारतीय टीम (Team India) ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी (Border-Gavaskar Trophy) 2-1 से जीती. इसे लेकर ऑस्ट्रेलियाई अखबारों ने जहां मेहमान टीम इंडिया की जमकर तारीफ की, वहीं मेजबान टीम को खूब खरी-खोटी सुनाई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2021, 4:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने टेस्ट सीरीज में भारत की शानदार जीत की तारीफ करते हुए इसे सबसे बेहतरीन वापसी के साथ मिली जीत में से एक करार दिया. एडिलेड में अपने न्यूनतम टेस्ट स्कोर 36 रन पर आउट होने के बाद भारतीय टीम ने सीरीज 2-1 से जीती. ‘द आस्ट्रेलियन’ ने कहा कि भारत ने गाबा का किला फतह करके चमत्कार कर दिया. इसने कहा, 'सिताराहीन, संघर्षरत और चोटिल भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया की पूरी मजबूत टीम का मानमर्दन किया.'

फॉक्सस्पोर्ट ने कहा, "अगर आप सदमे में हैं तो घबराइये मत, आप अकेले नहीं हैं. भारत ने हाल ही में बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी जीत ली है. टेस्ट क्रिकेट में भारत की सबसे शानदार जीत में से एक.' वेबसाइट क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू ने कहा, 'इंडियन समर. गाबा में जीत का सिलसिला टूटा. भारत ने विषमताओं को धता बताते हुए गाबा पर शानदार जीत दर्ज की.'





डेली टेलीग्राफ ने ऑस्ट्रेलियाई टीम पर प्रहार करते हुए हेडलाइन लिखा, 'न कोई बहाना, न जवाब: ऑस्ट्रेलिया को करारी शिकस्त'. वहीं सिडनी मार्निंग हेराल्ड ने भारतीय स्पिनर आर अश्विन पर सिडनी टेस्ट के दौरान छींटाकशी करने के लिए ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन को आड़े हाथों लिया.
ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज के पहले टेस्ट में एडिलेड के मैदान पर भारतीय टीम को 8 विकेट से करारी शिकस्त दी थी. पहला टेस्ट खेलने के बाद विराट कोहली पितृत्व अवकाश पर घर लौट जबकि तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी चोटिल होकर सीरीज से बाहर हो गए. इसके बावजूद मेलबर्न में कार्यवाहक कप्तान अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में टीम इंडिया ने कंगारू टीम को आठ विकेट से हराकर ऐतिहासिक जीत दर्ज की. सिडनी में खेला गया तीसरा टेस्ट ड्रॉ रहा. हालांकि चोटिल खिलाड़ियों के बावजूद भारत ने चौथी पारी में 130 ओवर से ज्यादा ओवर खेले. अगर ऋषभ पंत आउट नहीं हुए होते भारत सिडनी में भी विजय पताका लहरा सकता था.

यह भी पढ़ें:

ऋषभ पंत की ऐतिहासिक पारी पर बोले वीरेंद्र सहवाग-आज से ब्रिसबेन का नाम पंत नगर

केविन पीटरसन ने हिन्दी में ट्वीट कर टीम इंडिया को दिखाया इंग्लैंड का खौफ, कहा-ऑस्ट्रेलिया में जीतकर जश्न ना मनाओ

सीरीज का आखिरी मुकाबला ब्रिसबेन के गाबा मैदान पर खेला गया जहां ऑस्ट्रेलिया 1988 से अजेय था. भारतीय टीम ने ब्रिसबेन में चौथी पारी में 328 रनों का लक्ष्य का पीछा किया. रनों के पीछा करने के लिहाज से यह भारत की तीसरी सबसे बड़ी जीत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज