Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब अल हसन को फेसबुक लाइव पर मिली जान से मारने की धमकी

    शाकिब को कोलकाता में काली पूजा के लिए शाकिब को यह धमकी दी
    शाकिब को कोलकाता में काली पूजा के लिए शाकिब को यह धमकी दी

    बांग्लादेश के स्टार ऑल राउंडर शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan) को फेसबुक लाइव पर एक शख्स ने जान से मारने की धमकी दी है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 17, 2020, 12:28 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. बांग्लादेश के स्टार ऑल राउंडर शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan) को फेसबुक लाइव पर एक शख्स ने जान से मारने की धमकी दी है. सिलहट के शाहपुर तालुकदर में रहने वाले मोहसिन तालुकदर ने रविवार को 12.06 मिनट पर फेसबुक लाइव पर कहा कि शाकिब अल हसन का व्यवहार मुस्लमानों को परेशान कर रहा है. इस शख्स ने शाकिब के टुकड़े करने की धमकी दी. इस युवक ने यह भी कहा कि वह सिलहट से ढाका जाएगा, यदि शाकिब को मारने के लिए इसकी जरूरत पड़ी.

    सूत्रों के मुताबाकि, उन्होंने शाकिब को कोलकाता में काली पूजा के लिए शाकिब को यह धमकी दी. सिलहट मैट्रोपोलिटन पुलिस के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त बीएम अशरफ उल्लाह तहर ने कहा, ''हम इस मामले से वाकिफ हैं. इसका वीडियो लिंक साइबर फॉरेंसिक टीम को सौंप दिया गया है. इस मामले में जल्दी ही कानूनी कार्रवाई की जाएगी.''

    इरफान पठान की IPL 2020 टीम शामिल नहीं विराट-रोहित, कायरान पोलार्ड को बनाया कप्तान



    हालांकि, बाद में इस युवा ने फेसबुक लाइव पर ही अपने इस कदम के लिए माफी मांगी. उन्होंने शाकिब अल हसन समेत सभी सेलिब्रिटीज को सही रास्ते पर चलने की सलाह दी. अशरफ उल्लाह तहर ने कहा, ''यह मानहानि और आपसी सदभाव को खत्म करने का मामला है. फेसबुक से दोनों वीडियो हटा लिए गए हैं.''
    पिछले गुरुवार को शाकिब अल हसन बेलघाट क्षेत्र में काली पूजा के लिए गए थे. वह अपनी आराध्य देवी के सामने पूजा करके प्लेन से शुक्रवार को बांग्लादेश लौट आए थे.

    PSL 2020: कैच लपकने के बाद इमरान ताहिर ने इस अंदाज में किया सेलिब्रेट, फैंस ने बनाए मजेदार मीम्स

    बता दें कि शाकिब पर आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट ने दो साल का प्रतिबंध लगाया हुआ है, इसमें एक साल की सजा निलंबित है. 29 अक्टूबर को पिछले साल उन्हें यह सजा दी गई थी. उन पर कुछ सटोरियों से संपर्क का आरोप था. 29 अक्टूबर 2020 को यह प्रतिबंध समाप्त हो गया है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज