लाइव टीवी

फिक्सिंग ने बर्बाद कर दी थी कभी इमेज, अब भारतीय क्रिकेटर्स को इस लीग में खिलाना चाहता है बांग्लादेश

भाषा
Updated: November 17, 2019, 3:51 PM IST
फिक्सिंग ने बर्बाद कर दी थी कभी इमेज, अब भारतीय क्रिकेटर्स को इस लीग में खिलाना चाहता है बांग्लादेश
बांग्लादेश की यह लीग 11 दिसंबर से शुरू होगी

मैच फिक्सिंग के कारण बांग्लादेश प्रीमियर लीग की इमेज बर्बाद हो गई थी, लेकिन बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (Bangladesh Cricket Board) ने उसे अब अपने नियंत्रण में ले लिया है

  • Share this:
ढाका. बांग्लादेश (Bangladesh) क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) अपने नए सिरे से तैयार किए गए घरेलू टी20 लीग के स्तर को बढ़ाने के लिए गैर अनुबंधित भारतीय खिलाड़ियों को भविष्य में इस टूर्नामेंट से जोड़ना चाहता है. मैच फिक्सिंग और कुछ विदेशी खिलाड़ियों के भुगतान में देरी से 2011 में शुरू किए गए बांग्लादेश प्रीमियर लीग (बीपीएल) की छवि धूमिल हुई थी, जिसके बाद देश के क्रिकेट बोर्ड ने इसे पूरी तरह से अपने नियंत्रण में ले लिया और इसे ‘बंगबंधु बीपीएल’  (Bangabandhu BPL T20 league) का नया नाम दिया.

बीसीबी अध्यक्ष नजमुल हसन ने कहा कि हमने उन भारतीय खिलाड़ियों को लाने का प्रस्ताव रखा है जो उनके बीसीसीआई (BCCI) से अनुबंधित नहीं हैं. वे सैद्वांतिक तौर पर खेल सकते हैं.  उन्होंने कहा कि मैं पक्के तौर पर नहीं कह सकता कि हम इस बीपीएल (BPL) में उन्हें ले पाएंगे, लेकिन उम्मीद है कि भविष्य में ऐसा होगा. बीसीसीआई (BCCI)  अपने क्रिकेटरों को विदेशी टी20 लीग में खेलने की अनुमति नहीं देता है, लेकिन युवराज सिंह जैसे खिलाड़ी सभी तरह के क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद विदेशी लीग में खेल रहे हैं जिनमें ग्लोबल टी20 कनाडा भी शामिल है.

Bangladesh cricket board, Bangabandhu BPL T20 league, cricket, sports news
बंगबंधु बीपीएल का नया लोगो भी लांच किया गया


तीन भारतीय बीपीएल के ड्रॉफ्ट में शामिल

दिलचस्प बात यह है कि तीन भारतीय क्रिकेटर मानविंदर बिस्ला, तेज गेंदबाज मनप्रीत गोनी और राजस्थान रॉयल्स के पूर्व खिलाड़ी कुमार बोरेसा उन 439 विदेशी खिलाड़ियों में शामिल हैं जिन्होंने बीपीएल  (BPL) के नए सत्र के लिए ड्राफ्ट में अपने नाम सूचीबद्ध किए हैं. ये तीनों खिलाड़ी हालांकि बीसीसीआई की केंद्रीय अनुबंध प्रणाली का हिस्सा नहीं हैं. बीपीएल 11 दिसंबर से शुरू होगा.  खिलाड़ियों के ड्राफ्ट में 181 बांग्लादेशी और 439 विदेशी खिलाड़ियों का नाम रजिस्टर किया गया है. स्‍थानीय खिलाड़ियों को छह श्रेणियों में रखा गया है. जो खिलाड़ी ए प्लस ग्रुप में हाेंगे, वह पचास लाख टका राशि में शामिल हाेंगे.जबकि  बाकी ग्रुप की राशि पिछले साल की ही तरह होगी. वहीं शाकिब अल हसन का नाम इसमें नहीं है. शाकिब पर आईसीसी (ICC) ने सालभर का प्रतिबंध लगाया है.

मोहम्मद शमी-मयंक अग्रवाल को इंदौर टेस्ट में रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन का मिला इनाम

विराट कोहली के मुरीद हुए शोएब अख्तर, कहा-उन्हें आउट करना सबसे मुश्किल
Loading...

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 17, 2019, 3:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...