बीसीसीआई एसीयू ने 'मैच फिक्सर' रविंदर दांडीवाल से की पूछताछ, कहा- भ्रष्टाचारियों में मची खलबली

बीसीसीआई एसीयू ने 'मैच फिक्सर' रविंदर दांडीवाल से की पूछताछ, कहा- भ्रष्टाचारियों में मची खलबली
बीसीसीआई एसीयू ने की रविंदर दांडीवाल से पूछताछ

रविंदर दांडीवाल (Ravinder Dandiwal) को पंजाब पुलिस ने मोहाली में गिरफ्तार किया था. इस शख्स पर ऑस्ट्रेलिया में टेनिस मैच फिक्सिंग के अलावा, श्रीलंका टी20 लीग के नाम से फर्जी मैच के आयोजन का आरोप है

  • Share this:
नई दिल्ली. बीसीसीआई की भ्रष्टाचार निरोधक ईकाई (ACU) की दो सदस्यीय टीम ने पंजाब पुलिस की ओर से गिरफ्तार किये गए कथित मैच फिक्सर रविंदर दांडीवाल (Ravinder Dandiwal) से मोहाली में पूछताछ की. दांडीवाल को चंडीगढ के पास खेले गए एक टी20 मैच के आयोजन में कथित भूमिका के लिये गिरफ्तार किया गया है . इस मैच को ऑनलाइन इस तरह से स्ट्रीम किया गया था मानों वह श्रीलंका में हो रहा हो . बीसीसीआई की टीम दांडीवाल से सूचनाएं इकट्ठा करने के लिए दिल्ली से मोहाली गयी है.

दांडीवाल की गिरफ्तारी से भ्रष्टाचारियों की दुनिया में खलबली
बीसीसीआई एसीयू प्रमुख अजीत सिंह ने पीटीआई-भाषा को बताया कि दांडीवाल (Ravinder Dandiwal) की गिरफ्तारी से भ्रष्टाचारियों की दुनिया में खलबली मच गयी है. अजीत सिंह खुद पूछताछ करने के लिए मोहली नहीं गये हैं लेकिन उन्होंने कहा, ' हमारी टीम को उससे पूछ-ताछ करने की अनुमति दी गई थी. फिलहाल हम उसके और उसकी गतिविधियों के बारे में जानने से ज्यादा कुछ नहीं जानते हैं. पंजाब पुलिस ने उसे पांच दिनों के लिए हिरासत में लिया है. वे अपनी जांच जारी रखेंगे और अगर कुछ खुलासा होता है तो हम से जानकारी साझा करेंगे.' अजीत सिंह ने इस मामले में सहयोग के लिए पंजाब पुलिस का शुक्रिया अदा किया. उन्होंने कहा, ' हम उनके आभारी हैं कि उन्होंने त्वरित और प्रभावी कार्रवाई के लिए कदम उठाया. उसकी गिरफ्तारी से भ्रष्टाचारियों की दुनिया में खलबली मची है और इसका बड़ा असर होगा. इसने एक कड़ा संदेश दिया है. हमें टिप्पणी से पहले कुछ चीजों को सत्यापित करने की जरूरत है.'

श्रीलंका की लीग के नाम से खेला गया फर्जी मैच
यह मैच 29 जून को खेला गया था जो चंडीगढ़ से 16 किलोमीटर दूर सवारा गांव में हुआ था लेकिन इसे श्रीलंका के बादुला शहर में ‘यूवा टी20 लीग’ मैच के तौर पर स्ट्रीम किया गया. बादुला शहर यूवा प्रांतीय क्रिकेट संघ का घरेलू मैदान है. पीटीआई से बात करते हुए एसीयू प्रमुख ने पिछले सप्ताह दांडीवाल को जाना माना फिक्सर बताया था, जब ऑस्ट्रेलिया में विक्टोरिया पुलिस ने उसे (Ravinder Dandiwal) टेनिस मैच फिक्सिंग स्कैंडल का सरगना बताया था . इसमें निचली रैंकिंग वाले टेनिस खिलाड़ियों को 2018 में मिस्र और ब्राजील में दो टूर्नामेंटों में कथित तौर पर जान बूझकर हारने के लिये राजी किया गया था . बीसीसीआई पिछले चार सालों से उस पर नजर रख रही थी.



अजीत सिंह ने कहा, 'मैं सिर्फ उसके क्रिकेट से जुड़ाव के बारे में बात कर सकता हूं लेकिन वह अन्य खेलों से भी जुड़ हुआ है. वह खुद अपनी लीग को शुरु करने की कोशिश करता है और जब इस में सफल हो जाता है तो अपने मन मुताबिक नतीजों को प्रभावित करने की कोशिश करता है.' दांडीवाल ने नेपाल में एशियाई प्रीमियर लीग और अफगान प्रीमियर लीग का भी आयोजन किया था. उसने हरियाणा में भी एक लीग आयोजित करने का भी प्रयास किया था जिसे बीसीसीआई ने रद्द कर दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading