लाइव टीवी

सौरव गांगुली को मिल सकती है बड़ी खुशखबरी! जानिए कार्यकाल बढ़ाए जाने पर कब आएगा फैसला

News18Hindi
Updated: December 6, 2019, 10:18 AM IST
सौरव गांगुली को मिल सकती है बड़ी खुशखबरी! जानिए कार्यकाल बढ़ाए जाने पर कब आएगा फैसला
सौरव गांगुली को बीसीसीआई का 39वां अध्यक्ष नियुक्त किया गया है. (फाइल फोटो)

बीसीसीआई (BCCI) की एजीएम (AGM) में सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) का कार्यकाल साल 2024 तक बढ़ाने पर सहमति बनी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 6, 2019, 10:18 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व कप्तान और मौजूदा बीसीसीआई अध्यक्ष (BCCI President) सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के लिए नए साल की शुरुआत बेहद अहम रहने वाली है. नए साल की शुरुआत में यानी जनवरी को ही उन्हें ये पता चलेगा कि बीसीसीआई अध्यक्ष के तौर पर उनका नौ महीने का कार्यकाल साल 2024 तक बढ़ाया जाएगा या नहीं. दरअसल, बीसीसीआई की हाल ही में हुई एजीएम में गांगुली के कार्यकाल को बढ़ाए जाने के अलावा कई अहम मुद्दों पर सहमति बनी थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) से मंजूर कराया जाना जरूरी था. अब सुप्रीम कोर्ट इस मामने पर 14 जनवरी को फैसला ले सकता है. उम्मीद है कि गांगुली का कार्यकाल साल 2024 तक बढ़ाया जा सकता है.

ईएसपीएनक्रिकइंफो के अनुसार, सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने बीसीसीआई (BCCI) मामले को सुनने के लिए 14 जनवरी की तारीख तय की है. इसका ये भी मतलब हुआ कि बीसीसीआई की एजीएम (BCCI AGM) में लिए गए कई फैसलों को बोर्ड को टालना होगा. 1 दिसंबर को हुई एजीएम में 38 सदस्यीय बीसीसीआई के अधिकतर सदस्यों ने सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) की अगुआई में प्रस्तावित संशोधनों को मौखिक सहमति दे दी थी. बीसीसीआई द्वारा प्रस्तावित छह संशोधनों के लिए सुप्रीम कोर्ट की मंजूरी आवश्यक है.

cricket, cricket news, sports news, indian cricket team, bcci president, sourav ganguly, supreme cricket, क्रिकेट न्यूज, स्पोर्ट्स न्यूज, खेल, इंडियन क्रिकेट टीम, बीसीसीआई अध्यक्ष, सौरव गांगुली, बीसीसीआई, सुप्रीम कोर्ट
सौरव गांगुली की अगुआई में बीसीसीआई ने हाल ही में कई अहम फैसले किए हैं. (फाइल फोटो)


सुप्रीम कोर्ट से अनुमति जरूरी

बीसीसीआई (BCCI) लोढ़ा समिति की कुछ सिफारिशों को वापस कराना चाहता है, लेकिन इसके लिए सुप्रीम कोर्ट की अनुमति जरूरी है. एजीएम में बीसीसीआई पदाधिकारियों के कार्यकाल की सीमा में ढिलाई देने को मंजूरी दी गई थी. इसके अलावा कूलिंग ऑफ पीरियड को राज्य और बोर्ड में अलग-अलग किया गया था. इसमें फैसला लिया गया था कि पदाधिकारी के तीन-तीन साल के दो कार्यकाल पूरा होने के बाद तीन साल के अनिवार्य कूलिंग ऑफ पीरियड को खत्म कर दिया जाए. इसके अलावा बीसीसीआई सचिव के अधिकार बढ़ाने को भी एजीएम में स्वीकृति दे दी गई थी.

cricket, cricket news, sports news, indian cricket team, bcci president, sourav ganguly, supreme cricket, क्रिकेट न्यूज, स्पोर्ट्स न्यूज, खेल, इंडियन क्रिकेट टीम, बीसीसीआई अध्यक्ष, सौरव गांगुली, बीसीसीआई, सुप्रीम कोर्ट
सौरव गांगुली की गिनती दुनिया के बेहतरीन क्रिकेट कप्तानों में की जाती है. (पीटीआई)


बदल दिया प्रशासकों की समिति का ये अहम फैसलाहालांकि बीसीसीआई (BCCI) ने हाल ही में प्रशासकों की समिति के एक अहम फैसले को बदल दिया था. सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रशासकों की समिति ने अपनी पहली ही बैठक में साफ कर दिया था आईसीसी चीफ एग्जीक्यूटिव कमेटी की बैठक में बीसीसीआई के चीफ एग्‍जीक्यूटिव ऑफिसर राहुल जौहरी ही हिस्सा लेंगे. मगर बीसीसीआई की एजीएम में इस फैसले को बदल दिया गया और इस बैठक में हिस्सा लेने के लिए बीसीसीआई के सचिव जय शाह को अधिकृत किया गया है. यह बैठक अगले साल मार्च में होनी प्रस्तावित है. एक और अहम मामले में नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) ने हाल ही में बीसीसीआई एपेक्स काउंसिल में अल्का रेहानी भारद्वाज को अपना प्रतिनिधि नियुक्त किया है. यह कदम लोढ़ा समिति की सिफारिशों के तहत ही उठाया गया है.

IPL : लखनऊ में खेलने को लेकर भिड़ी किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली कैपिटल्स, ये है वजह

केदार जाधव की पोस्ट पर रोहित ने किया मजेदार कमेंट, कहा-पोज कम मार बैटिंग करले थोड़ी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2019, 10:17 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर