इंस्टाग्राम पर तस्वीर शेयर करके मुश्किल में फंसे गांगुली, हितों के टकराव के लग रहे हैं आरोप!

सौरव गांगुली के हाथों में बीसीसीआई की कमान

सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने इंस्टाग्राम पर जेएसडब्ल्यू सीमेंट के ब्रैंड एंबेसडर के तौर पर तस्वीर शेयर की थी

  • Share this:
    नई दिल्ली. बीसीसीआई (BCCI) के अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) सोशल मीडिया पर अपनी ही तस्वीर शेयर करके मुश्किल में फंस गए हैं. गांगुली एक बार फिर हितों के टकराव के आरोप लगाए जा रहे हैं. पिछले साल अक्टूबर में बीसीसीआई (BCCI) अध्यक्ष बनने के बाद गांगुली ने आईपीएल की टीम दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के मेंटॉर का पद छोड़ दिया था. हालांकि वह एक बार फिर इसी के कारण विवादों में आ गए हैं. गांगुली पर एक बार फिर हितों के टकराव के आरोप लगाए जा रहे हैं हालांकि पूर्व भारतीय कप्तान ने ऐसे सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है. सौरव गांगुली जेएसडब्ल्यू सीमेंट के ब्रैंड एंबेसडर हैं और यही उनके लिए बड़ी मुश्किल बन चुका है.

    जेएसडबल्यू सीमेंट के ब्रैंड एंबेसडर होने के कार उठ रहे हैं सवाल 
    दरअसल जेएसडब्ल्यू स्पोर्ट्स (JSW Sports) आईपीएल की टीम दिल्ली कैपिटल्स का मालिकाना हक रखता है. जेएसडब्ल्यू स्पोर्ट्स जेएसडब्ल्यू ग्रुप (JSW Group) का हिस्सा है. दिल्ली कैपिटल्स में जेएसडब्ल्यू स्पोर्ट्स के अलावा जीएमआर ग्रुप की भी भागीदारी है. गांगुली ने अपने इंस्टाग्राम पर जो तस्वीर शेयर की है उसके कैप्शन में उन्होंने खुद को जेएसडब्ल्यू सीमेंट (JSW Cements) का ब्रैंड एंबेसडर बताया है. आपको बता दें कि जेएसडब्ल्यू सीमेंट भी जेएसडब्ल्यू ग्रुप का हिस्सा है. हालांकि दिल्ली कैपिटल्स के पूर्व मेंटॉर गांगुली को नहीं लगता कि इसमें किसी भी तरह हितों के टकराव का कोई मुद्दा बनता है.

    गांगुली ने आरोपों को बताया बेबुनियाद
    इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में सौरव गांगुली ने कहा, 'दिल्ली कैपिटल्स का मालिकाना हक जेएसडब्ल्यू स्पोर्ट्स के पास है जिससे मेरा कोई ताल्लुक नहीं है. मुझे नहीं लगता जेएसडब्ल्यू सीमेंट दिल्ली कैपिटल्स का हिस्सा है या उनका स्पॉन्सर है. ऐसे में मुझे तो कुछ गलत नहीं दिखता. अगर मैं उस ग्रुप के क्रिकेट से जुड़ा होता तो यह मुद्दा होता.'

    42 बार फेल होने के बाद चला रोनाल्डो का जादू, दो साल में पहली बार फ्री किक पर किया गोल

    जेएसडल्ब्यू ग्रुप की वेबसाइट के मुताबिक JSW सीमेंट के मैनजिंग डायरेक्टर पार्थ जिंदल इसी ग्रुपर के क्रिकेट विंग के भी चैयरमैन है. वह ऑक्शन के दौरान टीम के साथ नजर आते हैं वहीं मैचों के दौरान डगआउट में भी दिखते हैं. वहीं इसी ग्रुप से जुड़े गांगुली आईपीएल की गार्निंग काउंसिल मीटिंग में हिस्सा लेते हैं जिसके कारण हितों के टकराव का आरोप लगाया जा रहा है. नियामों के मुताबिक बीसीसीआई के अधिकारी पद पर रहते हुए कोई भी किसी और ऐसी संस्था से ताल्लुक नहीं रख सकता जिसका कि क्रिकेट से किसी भी तरह कोई रिश्ता हो. इसे हितों के टकराव का मामला माना जाता है और अधिकारी को पद छोड़ना पड़ता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.