बीसीसीआई स्कोरर केके तिवारी का निधन, कोरोना वायरस से थे संक्रमित

केके तिवारी ने झज्जर के एम्स में अंतिम सांस ली. वह कोविड-19 से संक्रमित थे.

केके तिवारी ने झज्जर के एम्स में अंतिम सांस ली. वह कोविड-19 से संक्रमित थे.

बीसीसीआई स्कोरर कृष्णकुमार तिवारी (KK Tiwari) कोरोना वायरस से लड़ रहे थे लेकिन शनिवार को जिंदगी की जंग हार गए. वह 52 साल के थे और झज्जर के एम्स में भर्ती थे. उन्होंने चार टेस्ट, पांच वनडे और 60 रणजी ट्रॉफी मैचों को कवर किया. इसके अलावा 50 आईपीएल मैचों में भी वह स्कोरर रहे.

  • Share this:

नई दिल्ली. घातक कोरोना वायरस से देश जूझ रहा है और बड़ी संख्या में लोगों की जान भी जा रही है. इस वायरस के चलते बीसीसीआई के आधिकारिक स्कोरर कृष्णकुमार तिवारी (KK Tiwari) का शनिवार को निधन हो गया. वह 52 साल के थे और पिछले कुछ समय से झज्जर के एम्स में भर्ती थे. उनकी हालत खराब होने के बाद दिल्ली के हेडगेवार अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां वह कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए.

दिल्ली में आईसीयू बेड उपलब्ध ना होने के कारण डीडीसीए अध्यक्ष रोहन जेटली के हस्तक्षेप के बाद झज्जर के एम्स में भर्ती कराया गया. बाद में वह वेंटिलेटर पर चले गए थे और उनकी हालत खराब होती गई. उन्होंने शनिवार सुबह अंतिम सांस ली.

इसे भी पढ़ें, कोरोना से जंग में आगे आए ऋषभ पंत, ग्रामीण इलाकों तक पहुंचाएंगे मदद

तिवारी के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा था लेकिन शनिवार को उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गई. उनके परिवार में पत्नी, दो बेटियां और एक बेटा है. वरिष्ठ पत्रकार और लेखर विजय लोकपल्ली ने तिवारी के निधन के बारे में जानकारी दी.


तिवारी की बड़ी बेटी ने वकालत कर ली है जबकि छोटा बेटा अभी सातवीं कक्षा में पढ़ता है. दिल्ली के स्थानीय खेल अधिकारियों के अलावा पत्रकारों ने तिवारी के निधन पर शोक जताया. दिल्ली के क्रिकेट में करीब तीन दशक तक वह एक नामी स्कोरर रहे. उन्होंने चार टेस्ट, पांच वनडे और 60 रणजी ट्रॉफी मैचों को कवर किया. इसके अलावा 50 आईपीएल मैचों में भी वह स्कोरर रहे. वह स्थानीय क्रिकेट में 1985 से अंपायर की भूमिका निभा रहे थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज