होम /न्यूज /खेल /BCCI का बड़ा ऐलान, अब महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को पुरुषों के बराबर मिलेगी मैच फीस

BCCI का बड़ा ऐलान, अब महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को पुरुषों के बराबर मिलेगी मैच फीस

बीसीसीआई ने महिला और पुरुषों के लिए समान वेतन नीति लागू कर दी है.

बीसीसीआई ने महिला और पुरुषों के लिए समान वेतन नीति लागू कर दी है.

अब बीसीसीआई से अनुबंधित महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को पुरुषों के बराबर मैच फीस मिलेगी. बीसीसीआई की अपेक्स काउंसिल ने लैंग ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

भारतीय क्रिकेट में बड़े बदलाव की शुरुआत
अब महिला क्रिकेटर को पुरुषों के बराबर मैच फीस मिलेगी

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट में बड़े बदलाव की शुरुआत हो गई है. अब बीसीसीआई (BCCI) के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को भी पुरुषों के बराबर मैच फीस मिलेगी. बीसीसीआई की अपेक्स काउंसिल ने यह ऐतिहासिक फैसला किया है. बोर्ड के सचिव जय शाह (Jay Shah) ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी.

जय शाह ने ट्वीट किया, ‘मुझे यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है भेदभाव मिटाने की दिशा में बीसीसीआई ने पहला कदम उठाया है. हम बोर्ड से अनुबंधित महिला क्रिकेटर के लिए समान वेतन की पॉलिसी लागू कर रहे हैं. अब महिला और पुरुष दोनों क्रिकेट खिलाड़ियों को एक जैसी मैच फीस मिलेगी. इसके जरिए हम क्रिकेट में लैंगिक समानता के एक नए युग में प्रवेश कर रहे हैं.’

बता दें कि अब महिला क्रिकेटर खिलाड़ियों को अब हर टेस्ट खेलने के लिए 15 लाख रुपये मिलेंगे. एक वनडे खेलने के लिए 6 लाख और टी20 मैच के लिए उन्हें 3 लाख रुपये मिलेंगे. इससे पहले, भारतीय महिला क्रिकेट टीम की खिलाड़ियों की टेस्ट के लिए 4 लाख रुपये बतौर मैच फीस मिलते थे. जबकि वनडे और टी20 के लिए एक लाख रुपये मिलते थे. लेकिन, बीसीसीआई के फैसले के बाद अब महिला खिलाड़ियों को पहले के मुकाबले कई गुना मैच फीस मिलेगी. पहले जहां एक टेस्ट के लिए महिला क्रिकेटर को 4 लाख रुपये मिलते थे अब यह राशि बढ़कर 15 लाख हो गई है. यानी 4 गुना का इजाफा हुआ है. वहीं, वनडे के लिए अब 1 लाख के मुकाबले 6 लाख रुपये मिलेंगे. यानी महिला क्रिकेट खिलाड़ियों की वनडे की मैच फीस भी 6 गुना बढ़ गई है. टी20 की मैच फीस भी तीन गुना बढ़ी है.

BCCI, Womens cricketer fees, indian woemen cricketer

जय शाह का ट्वीट

महिला क्रिकेटर की रिटेनर फीस में बदलाव नहीं
बीसीसीआई ने अनुबंधित महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को पुरुषों के बराबर मैच फीस देने का फैसला तो कर लिया है. लेकिन, अभी भी महिला खिलाड़ियों की एनुअल रिटेनर फीस में कोई बदलाव नहीं हुआ है. फिलहाल, महिला क्रिकेटर को सबसे अधिक 50 लाख रुपये रिटेनर फीस के तौर पर मिलते हैं. यह ए-ग्रेड कहलाती है.

रोहित-विराट को स्मृति से 14 गुना अधिक मिलती है फीस
2021-22 सीजन के लिए बीसीसीआई ने इस ग्रेड में हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना, पूनम यादव, दीप्ति शर्मा और राजेश्वरी गायकवाड़ को रखा है. वहीं, ग्रेड बी में जो महिला खिलाड़ी शामिल हैं, उन्हें रिटेनर फीस के तौर पर बीसीसीआई 30 लाख रुपये देता है. फिलहाल, इस ग्रेड में तान्या भाटिया, शेफाली वर्मा, पूजा वस्त्रकार शामिल हैं. इस ग्रेड में मिताली राज और झूलन गोस्वामी भी थीं. जो अब संन्यास ले चुकी हैं. वहीं, ग्रेड-सी में शामिल महिला क्रिकेटर को 10 लाख रुपये मिलते हैं. इसमें पूनम राउत, शिखा पांडे, जेमिमा रोड्रिग्स, ऋचा घोष, हरलीन देओल, स्नेह राणा शामिल हैं.

महिला क्रिकेटर की तुलना में बीसीसीआई ने पुरुष खिलाड़ियों को 4 अलग-अलग ग्रेड में रखा है. ए प्लस ग्रेड में शामिल खिलाड़ियों को एनुअल रिटेनरशिप फीस के तौर पर 7 करोड़ रुपये मिलते हैं. वहीं, ग्रेड-ए, ग्रेड-बी और सी में शामिल क्रिकेट खिलाड़ियों को 5, 3 और 1 करोड़ रुपये बीसीसीआई की तरफ से मिलते हैं. ए-प्लस ग्रेड में भारतीय कप्तान रोहित शर्मा, विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह शामिल हैं. इन्हें सालाना 7 करोड़ रुपये की सैलरी मिलती है.

Tags: BCCI, Harmanpreet kaur, Indian women cricketer, Jay Shah, Women cricket

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें