आखिरी समय पर BCCI ने एशिया कप के लिए भेजे 5 खिलाड़ी: रिपोर्ट्स

टीम इंडिया अपना पहला 18 सितंबर को हॉन्ग कॉन्ग के खिलाफ खेलेगी.

News18Hindi
Updated: September 15, 2018, 5:33 PM IST
आखिरी समय पर BCCI ने एशिया कप के लिए भेजे 5 खिलाड़ी: रिपोर्ट्स
टीम इंडिया अपना पहला 18 सितंबर को हॉन्ग कॉन्ग के खिलाफ खेलेगी.
News18Hindi
Updated: September 15, 2018, 5:33 PM IST
बीसीसीआई ने भारतीय सीनियर टीम की नेट में मदद करने के लिए भारतीय ए टीम के पांच गेंदबाज यूएई भेजे हैं. इनमें तीन तेज गेंदबाज- अवेश खान, एम प्रसिद्ध कृष्णा और सिद्धार्थ कौल शामिल हैं. वहीं दो स्पिनर्स शाहबाज नदीम और मयंक मार्कंडे शामिल हैं. ये सभी गेंदबाज भारतीय बल्लेबाजों को नेट पर अभ्यास करवाएंगे.

अवेश के अलावा बाकी चार गेंदबाज हाल ही में संपन्न हुई चार टीमों की सीरीज में इंडिया ए और इंडिया बी का हिस्सा थे. इसके अलावा कौल इंग्लैंड के दौरे में टीम इंडिया का हिस्सा थे. वैसे 19 सितंबर से विजय हजारे ट्रॉफी शुरू हो रही है इसलिए उम्मीद की जा रही है कि खिलाड़ियों को जल्दी ही स्वदेश वापस भेज दिया जाएगा.

एक वरिष्ठ बीसीसीआई अधिकारी ने कहा, "आपको हर कहीं क्वीलिटी नेट गेंदबाज नहीं मिलते. इस वजह से प्रैक्टिस के वक्त सीनियर भारतीय टीम के खिलाड़ियों को समस्या का सामना करना पड़ता है. जैसा कि टीम इंडिया को लगातार मैच खेलने हैं इसलिए आप इस बात की उम्मीद नहीं कर सकते कि नेट में भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह गेंदबाजी करेंगे. साथ ही युवा एकेडमी के गेंदबाज क्वालिटी प्रैक्टिस नहीं करवा पाते. यही वजह है कि हमने अपने कुछ गेंदबाज भेजे हैं."

उन्होंने आगे कहा, "यह प्रक्रिया है जो टीम के लिए फायदेमंद साबित होगी. इससे सीनियर बल्लेबाजों को क्वालिटी प्रैक्टिस का मौका मिलेगा वहीं मयंक मार्कंडे जैसे युवा गेंदबाज को भारतीय टीम के नेट्स में गेंदबाजी करने का अनुभव मिलेगा. इसके अलावा सीनियर खिलाड़ी और कोच टैलेंट पूल पर भी अपनी नजर रख सकेंगे."

वैसे यह पहली बार नहीं हुआ है बल्कि द. अफ्रीका दौरे में भी बल्लेबाजों को प्रैक्टिस करवाने के लिए अवेश, बासिल थंपी को भेजा गया था.
ये भी पढ़ें: एशिया कप से पहले दिखा भारत-पाकिस्‍तान का 'दोस्‍ताना'- VIDEO वायरल
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर