WTC Final: बायो बबल में फिर से जाएंगे भारतीय खिलाड़ी, महिला टीम भी साथ होगी इंग्‍लैंड रवाना!

इंग्‍लैंड रवाना होने से पहले भारतीय खिलाड़ी बायो बबल में जा सकते हैं (PC: AP)

इंग्‍लैंड रवाना होने से पहले भारतीय खिलाड़ी बायो बबल में जा सकते हैं (PC: AP)

आईपीएल (IPL 2021) के बीच में ही टलने से खिलाड़ी बायो बबल से बाहर निकल गए हैं और अपने अपने घर पहुंच गए हैं, मगर अब भारतीय खिलाड़ियों को एक बार फिर से बबल में जाना पड़ सकता है

  • Share this:

नई दिल्‍ली. कोरोना (Coronavirus) के कारण आईपीएल (IPL 2021) के 14वें सीजन को स्‍थगित कर दिया गया है और सभी खिलाड़ी बायो बबल से बाहर आकर अपने अपने घर भी पहुंचने लगे हैं. दरअसल आईपीएल के बायो बबल में कोरोना की एंट्री हो चुकी थी, जिस वजह से आईपीएल को बीच में भी स्‍थगित करना पड़ा. मगर अब खबर आ रही है कि भारतीय खिलाड़ी फिर से बायो बबल में जाए सकते हैं और बीसीसीआई (BCCI) इसकी तैयारी में लगा हुआ है. आईपीएल स्‍थगित होने के बाद बीसीसीआई ने अगले बायो बबल पर काम करना शुरू कर दिया है.

विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुआई में टीम इंडिया 18 जून से न्‍यूजीलैंड के खिलाफ इंग्‍लैंड में वर्ल्‍ड टेस्‍ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलेगी और इंग्‍लैंड रवाना होने से पहले टीम को देश में ही बायो बबल में लाने की तैयारी शुरू हो चुकी है. बीसीसीआई सूत्र के अनुसार भारतीय महिला टीम भी बबल में रहेंगी और पुरुष टीम के साथ ही इंग्‍लैंड की यात्रा करेगी. भारतीय महिला टीम को वहां पर एक टेस्‍ट, तीन वनडे और 3 टी20 मैचों की सीरीज खेलनी है.

क्‍वारंटीन समय को कम करने पर बातचीत

टाइम्‍स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार बीसीसीआई इस समय इंग्‍लैंड में 14 दिन के क्‍वारंटीन पर बातचीत कर रहा है, क्‍योंकि ब्रिटेन की सरकार ने भारत को रेड लिस्‍ट में डाल दिया है. भारत के बायो बबल के साथ बीसीसीआई चाहता है कि इंग्‍लैंड में क्‍वारंटीन समय को कम करके 7 दिनों का कर दिया जाए.
यह भी पढ़ें : 

भारतीय टीम में पहली बार एक साथ शामिल हुए 5 ऐसे तेज गेंदबाज, इंग्लैंड में 15 साल बाद मिलेगी जीत?

World Test Championship फाइनल के लिए इस दिन इंग्‍लैंड के लिए रवाना होगी भारतीय टीम



सूत्र के अनुसार ऐसी योजना बनाई जा रही है कि खिलाड़ियों को देश में ही क्‍वारंटीन हो. वैसे भी टीम का चार्टर फ्लाइट से यात्रा करना संभव है. खबर के अनुसार सूत्र ने कहा कि यह सही रहेगा कि खिलाड़ी भारत में ही बबल में चले जाएंगे और इसके बाद बीसीसीआई बबल से बबल मूवमेंट पर बात कर सकती है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज