इतने करोड़ रुपये लेकर BCCI का साथ छोड़ेगे विनोद राय और डायना एडुल्जी, 3 साल का ये है पूरा हिसाब

विनोद राय और डायना एडुल्जी को साढ़े तीन करोड़ रुपये के करीब मिलेंगे

33 महीने के कार्यकाल के लिए विनोद राय (Vinod Rai) और डायना एडुल्जी को यह भुगतान किया जाएगा.

  • Share this:
    नई दिल्ली. प्रशासकों की समिति (सीओए) प्रमुख विनोद राय (Vinod Rai) और पैनल की उनकी साथी सदस्य डायना एडुल्जी में से प्रत्येक को बीसीसीआई (BCCI) में 33 महीने के कार्यकाल के लिए लगभग 3.5 करोड़ रुपये भुगतान किया जाएगा. सुप्रीम कोर्ट से नियुक्त सीओए (COA) का कार्यकाल बुधवार को बीसीसीआई (BCCI) एनुअल जनरल मीटिंग में नए पदाधिकारियों के पदभार ग्रहण करने के साथ ही समाप्त हो जाएगा. राय और पूर्व भारतीय महिला कप्तान एडुल्जी दोनों जनवरी 2017 में नियुक्ति के बाद से ही सीओए का हिस्सा रहे हैं जबकि उनके साथी रामचंद्र गुहा और विक्रम लिमये ने विभिन्न कारणों से त्यागपत्र दे दिया था. सीओए के सभी सदस्यों को 2017 के लिए प्रतिमाह दस लाख रुपये, 2018 के लिए 11 लाख रुपये और 2019 के लिए 12 लाख रुपये प्रतिमाह की दर से भुगतान किया जाएगा. बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा कि न्यायमित्र पीएस नरसिम्हा से चर्चा के बाद इस राशि को अंतिम रूप दिया गया. इस तरह से एडुल्जी और राय दोनों में से प्रत्येक को 3.5 करोड़ रुपये मिलेंगे, जबकि विक्रम लिमये, रामचंद्र गुहा और रवि थोडगे को उनके कार्यकाल के अनुसार भुगतान किया जाएगा.

    BCCI, Vinod Rai,Diana Edulji, cricket, bcci, sports news, बीसीसीआई, विनोद राय,डायना एडुल्जी, क्रिकेट width=

    सौरव गांगुली बुधवार को संभालेंगे पदभार
    दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को ही निर्देश दिया कि बीसीसीआई (BCCI) के निर्वाचित पदाधिकारियों के पदभार संभालने के बाद सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त पूर्व सीएजी विनोद राय (Vinod Rai) की अध्यक्षता वाली प्रशासकों की समिति (सीओए) को हटना होगा और बुधवार को बीसीसीआई (BCCI) की एनुअल जनरल मीटिंग में बीसीसीआई  (BCCI) अध्यक्ष के तौर पर सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के नाम का औपचारिक ऐलान किया जाएगा. बीसीसीआई  (BCCI) की नई टीम में सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) अध्यक्ष,  गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) के बेटे जय शाह सेकेट्री और अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) के भाई अरुण सिंह ‌का कोषाध्यक्ष होंगे. सुप्रीम कोर्ट के निर्देश में यह भी कहा गया है कि प्रशासकों की समिति और अन्य अधिकारियों के खिलाफ क्रिकेट संगठन में किए गए किसी भी कार्य के लिए बीसीसीआई (BCCI)  द्वारा कोई कदम नहीं उठाया जाएगा और अगर कोई कदम उठाया भी जाता है ताे उससे पहले स्वीकृति लेनी होगी.

    साउथ अफ्रीका पर जीत के अगले ही दिन इस टीम के खिलाफ धमाल मचाएंगे अश्विन और मयंक
    'भारत दौरे से पहले ब्लैकमेल कर रहे हैं बांग्लादेशी क्रिकेटर, होगी जांच'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.